Create
Notifications

WWE न्यूज़: विंस मैकमैहन द्वारा खतरनाक मूव से बैन हटाए जाने का कारण सामने आया 

विंस मैकमैहन
विंस मैकमैहन
Subham Pal
visit

15 जुलाई को हुए एक्सट्रीम रूल्स में रॉ टैग-टीम चैंपियनशिप मैच के दौरान द रिवाइवल के स्कॉट डॉसन ने द उसोज के खिलाफ ब्रेन-बस्टर मूव का इस्तेमाल किया।

ब्रायन अल्वारेज़ ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि एक्सट्रीम रूल्स में उस मूव को इस्तेमाल होते हुए इसलिए देख पाए क्योंकि विंस मैकमैहन ने कैनेडियन डैस्ट्रॉयर मूव से बन हटा दिया है। विंस मैकमैहन ने हाल ही में एक वीडियो देखा, जिसमें एक रेसलर अपने प्रतिद्वंदी के खिलाफ कैनेडियन डैस्ट्रॉयर मूव का इस्तेमाल कर रहा था और यह चीज विंस को काफी पसंद आई।

पिछले कुछ सालों के दौरान, विंस मैकमैहन ने कई ऐसे मूव बैन किये हैं, जिनका रिंग में इस्तेमाल किया जाना उन्हें खतरनाक लगा। द पाइलड्राइवर भी इन्हीं कुछ मूव्स में से एक है और इस मूव का इस्तेमाल अब केवल द अंडरटेकर ही करते हैं।

अतीत में कई ऐसे घटनाएँ हुई, जिसने विंस मैकमैहन को कुछ मूव्स को बैन करने के लिए मजबूर कर दिया। आपको बता दें कि 90 के दशक में ओवेन हार्ट द्वारा गलत तरीके से पाइलड्राइवर देने के कारण स्टोन कोल्ड की गर्दन टूटते-टूटते बची थी।

यह भी पढ़े: आर ट्रुथ ने काफी मजेदार अंदाज में ड्रेक मेवरिक को हराकर 24/7 चैंपियनशिप जीती

टुली ब्लैंचर्ड और अर्न एंडरसन ने 80 के दशक में इस मूव को लोक्रप्रिय बनाया था, लेकिन पिछले कुछ समय में देखा जाए तो WWE टीवी पर इसका ज्यादा इस्तेमाल नहीं हुआ है।

ब्रायन अल्वारेज़ ने रेसलिंग ऑब्जर्वर रेडियो पर बताया-

"काश, मुझे इसके बारे में विस्तार से याद होता लेकिन पॉइंट यह है कि किसी ने विंस मैकमैहन को कैनेडियन डैस्ट्रॉयर मूव की क्लिप दिखाई थी। इस मूव से प्रभावित होकर विंस ने कहा 'हमलोग अपने शो पर इस चीज का इस्तेमाल क्यों नहीं करते?'"

ब्रायन ने आगे कहा कि यह एक कारण हो सकता है कि क्यों द रिवाइवल ने एक्सट्रीम रूल्स में इस मूव का इस्तेमाल किया था। कैनेडियन डैस्ट्रॉयर और पाइलड्राइवर जैसे मूव्स काफी आकर्षक लगते हैं।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं


Edited by विजय शर्मा
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now