Create
Notifications

क्यों रैसलमेनिया 33 में रोमन रेन्स और ब्रॉन स्ट्रोमैन का मैच होना चाहिए ?

सुर्यकांत त्रिपाठी
visit

साल 2016 का आखिरी पे-पर-व्यू बीत चुका है और अब हम 2017 में कदम रखनेवाले हैं और यहां पर पहला पे-पर-व्यू रॉयल रम्बल होने वाला है। यहीं से रॉड टू रैसलमेनिया की शुरुआत होगी और हमें नए फिउड्स और स्टोरीलाइन देखने मिलेंगे। ऐसा पिछले कुछ हफ़्तों से WWE पर होते आ रहा है और रैसलेमनिया 33 के लिए रोमन रेन्स और ब्रॉन स्ट्रोमैन की भिड़ंत एक बढ़िया विकल्प साबित हो सकता है। रैसलमेनिया पर इस बड़े मुकाबले पर रोमन भले ही विशाल कद-काठी के स्ट्रोमैन के बराबर न हों, लेकिन कोई भी रोमन को कम आंकने की गलती नहीं कर सकता। इसमें आप US चैंपियनशिप जोड़ दीजिए तो आपको एक और झगड़ा देखने मिल सकता है, जी हां, रैसलिंग मैच नहीं बल्कि झगड़ा। ये रहा वीडियो जब आखरी बार रोमन रेन्स और ब्रॉन स्ट्रोमैन के बीच सिंगल मुकाबला हुआ था:

youtube-cover

अभी रोमन को अपने से ज्यादा हावी रैसलर के खिलाफ मुकाबला करने की सख्त जरूरत है। जब भी रेन्स रिंग में उतरते हैं तो उनके जीत की संभावना सबसे अधिक होती है, लेकिन जब वे स्ट्रोमैन के खिलाफ रिंग में उतरेंगे तो ये आंकड़ा थोड़ा अलग होगा। डेनियल ब्रायन और रे मिस्टेरियो जैसे रैसलर्स ने अपने से ताकतवर रैसलर के खिलाफ मुकाबला करते हुए अपना करियर बनाया। क्या रोमन रेन्स भी ऐसा कर सकते हैं ? अगर WWE चाहती है कि रोमन के लिए चीयर हो, तो रोमन को ख़राब परिस्थितियों से झूंझ कर जीतने की ज़रूरत है। 19 दिसंबर के रॉ एपिसोड को देखकर हम ये कहे सकते हैं कि स्ट्रोमैन अब बड़े शिकार के लिए तैयार हैं। जेरिको-ओवन्स बनाम रॉलिन्स-रेन्स के मुक़ाबले में दखल देने के पहले स्ट्रोमैन ने टाइटस ओ'नील और सिनकारा के मुकाबले में भी दखल दिया था।

youtube-cover

स्ट्रोमैन मैच में चलते आएं और रेन्स पर रिंग के बाहर हमला किया और मैच को डिसक्वालीफाई करवाया। इसके बाद उन्होंने रॉलिन्स पर हमला कर के उन्हें चित किया और फिर वापस रोमन की ओर मुड़ गए। शो के अंत में स्ट्रोमैन रिंग में खड़े रहे और नीचे रेन्स और रॉलिन्स लाचार हालत में पड़े दिखाई दिये। इसी बीच स्ट्रोमैन ने एक बयान दिया, "सबकुछ तबाह होगा।" ये रहा वो वीडियो जिसमें ब्रौन स्ट्रोमन ने रेन्स और रॉलिन्स की जमकर पिटाई की:

youtube-cover

पिछले कुछ हफ़्तों से ब्रॉन स्ट्रोमैन काफी खतरनाक दिखाई दे रहे हैं। ब्रे वायट के साथ करियर की शुरुआत करने के बाद वायट फैमिली के टूटने के बाद स्ट्रोमन काफी आगे आ गए हैं। ब्रैंड्स के अलग होन के वक्त ब्रॉन स्ट्रोमैन को मंडे नाईट रॉ में ड्राफ्ट किया गया था और तबसे स्ट्रोमैन रॉ के सबसे हावी रैसलर रहे हैं। ड्राफ्ट का फायदा उठाकर स्ट्रोमैन ने अपने आप को सिंगल मुकाबलों में लांच किया। WWE की क्रिएटिव टीम ने स्ट्रोमैन को स्क्वाश मैच कर ज़रिये बहुत पुश दिया और वहां पर स्ट्रोमैन ने महज कुछ सेकेंड में अपने विरोधियों को चित कर दिया। स्ट्रोमैन के कहर से सिन कारा और सेमी जेन जैसे रैसलर भी नहीं बच सकें। इतना हावी रहने के कारण स्ट्रोमैन को "न्यू फेस ऑफ़ डिस्ट्रक्शन" कहा जाने लगा। डेब्यू के बाद से उनके रिंग के अंदर के प्रदर्शन में भी काफी सुधार आया है। अफवाहें थी की रैसलमेनिया 32 पर स्ट्रोमैन का सामना द अंडरटेकर से हो सकता था, लेकिन किसी कारण से ऐसा नहीं हो पाया। इसके पीछे का एक कारण ये हो सकता है कि उस समय स्ट्रोमैन रैसलिंग के सबसे बड़े मंच पर द फिनम का सामना करने के लिए तैयार नहीं थे। रोडब्लॉक: ऐंड ऑफ़ लाइन पर स्ट्रोमैन ने अपने आप को मॉन्स्टर साबित किया है। वे अगर चाहते तो महज कुछ मिनटों में जेन का सफाया कर सकते थे।

youtube-cover

ऐसा करने से जेन काफी कमजोर दिखाई देते और शायद इसलिए WWE की क्रिएटिव टीम ने जेन को थोड़ा सांस लेने का समय दे दिया। वहीँं दूसरी ओर रोमन ने अपने आप को US चैंपियनशिप में बरकरार रखा हुआ है और स्ट्रोमैन के साथ काम करने का उन्हें काफी फायदा होगा। रोमन रेन्स ने साल 2016 में एजे स्टाइल्स, सैथ रॉलिन्स, डीन एम्ब्रोज़, रुसेव और केविन ओवन्स जैसे रैसलर्स के खिलाफ रिंग में अच्छा प्रदर्शन किया है। इस पर कई लोग बहस कर सकते हैं कि उस मैच में एजे स्टाइल्स और केविन ओवन्स ने उन्हें आगे पहुंचाया था। रैसलमेनिया 33 की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं, ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि ऑर्लैंडो के दर्शकों को रोमन रेन्स और ब्रौन स्ट्रोमैन के बीच मुकाबला देखने मिलेगा या नहीं।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now