Create
Notifications

Wrestle Square: दिल्ली/NCR की रैसलिंग अकेडमी जहां तैयार किए जाते हैं भविष्य के रैसलिंग सुपरस्टार

Enter caption
विजय शर्मा
visit

WWE ने प्रोफेशनल रैसलिंग को दुनिया में घर-घर तक पहुंचा दिया है। बहुत सारे युवा (लड़के/लड़कियां) जॉन सीना, रोमन रेंस, बैकी लिंच, ब्रॉक लैसनर, द ग्रेट खली की तरह अपने काम से नाम बनाना चाहते हैं। इन बड़े रैसलरों की कामयाबी के पीछे अथक मेहनत, दृढ़ इच्छाशक्ति और कभी ना हार मानने वाला जज्बा रहा है। फिन बैलर, पेज, एजे स्टाइल्स, केविन ओवेंस जैसे रैसलरों ने दर्जन भर लोगों वाले एक छोटे से हॉल से लेकर हजारों दर्शकों वाले एरीना में परफॉर्म किया है।

प्रो रैसलिंग में सफलता की सीढ़ी पर ऊपर तक चढ़ने के लिए पहला कदम बड़ा ही अहम हो जाता है। भारत में कुछ साल पहले तक प्रो रैसलिंग की ट्रेनिंग और कोचिंग के लिए कोई खास इंतजाम नहीं थे। लेकिन अब सूरत-ए-हाल बदल चुके हैं। देश की धड़कन दिल्ली/ NCR में प्रो रैसलिंग की ट्रेनिंग देने वाली एक ऐसी ही रैसलिंग प्रमोशन है Wrestling Square Pro Wrestling Training Academy.

साल 2015 में Wrestle Square की स्थापना नोएडा में हुई थी। रैसल स्क्वेयर में युवा रैसलरों को प्रोफेशनल रैसलिंग से जुड़ी हर बारीकी सिखाई जाती है, ताकि वो आगे जाकर दुनिया भर में अपना और देश का नाम रौशन कर सकें। एक बेसमेंट से शुरु हुई इस रैसलिंग प्रमोशन ने कुछ ही सालों में कामयाबी हासिल की और आज यहां बहुत सारे रैसलरों को ट्रेनिंग दी जाती है। रैसल स्क्वेयर से ट्रेनिंग ले चुके बालियान अक्की जापान में रैसलिंग करते हैं, वो जापान में रैसलिंग करने वाले इकलौते भारतीय रैसलर हैं, जिन्हें Wrestle Square में ही ट्रेनिंग मिली है।

रैसल स्क्वेयर के फाउंडर विनायक सोढ़ी, जो खुद WWE और प्रो रैसलिंग के बहुत बड़े फैन हैं। उन्होंने अपनी अकेडमी में युवाओं को दी जाने वाली ट्रेनिंग के बारे में बात की।

"ज्यादातर अकेडमियों में युवाओं को सिर्फ एक तरह के रैसलिंग स्टाइल की ट्रेनिंग दी जाती है, मगर रैसल स्क्वेयर में अमेरिकन रैसलिंग स्टाइल, जापानी स्ट्रॉन्ग स्टाइल, मैक्सिको का लूचा लिब्रे स्टाइल, हार्डकोर स्टाइल के गुर सिखाए जाते हैं। रैसल स्क्वेयर में लगातार विदेशी गेस्ट ट्रेनर्स को बुलाया जाता है, जिन्हें इन अलग-अलग रैसलिंग स्टाइल में महारत हासिल है।"

भारत में प्रो रैसलिंग की लोकप्रियता कितनी अधिक है, इसके बारे में शायद किसी को बताने की जरूरत ही नहीं है। इस बात का अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है कि WWE ने मार्च महीने की शुरुआत में इतिहास का सबसे बड़ा ट्राइआउट (ट्रायल) मुंबई में आयोजित किया, जिसमें पूरे देश के अलग-अलग फील्ड के युवाओं ने हिस्सा लिया। खास बात ये रही कि WWE ट्राइआउट में Wrestle Square के करीब एक दर्जन टैलेंट्स ने हिस्सा लिया। रैसल स्क्वेयर में ट्रेनिंग ले रहे 7 फुट 8 इंच लंबे रैसलर सुनील कुमार ने रैसलिंग फैंस के बीच काफी सुर्खियां बटोरी थी।

सुनील सिंह

इस ट्राइआउट से पहले WWE की एक विशेष टीम ने रैसल स्क्वेयर का दौरा भी किया था, जिससे साफ अंदाजा लगता है कि WWE की नजरें इस अकेडमी और यहां के युवा रैसलरों पर है।

youtube-cover

आने वाले दिनों में भारत में प्रो रैसलिंग काफी आगे बढ़ेगी, जिसमें रैसल स्क्वेयर का एक अहम योगदान होने वाला है। रैसल स्क्वेयर के फाउंडर विनायक सोढ़ी ने अपनी प्रमोशन के गोल और भारत में प्रो रैसलिंग की अपार संभावना के बारे में कहा, "हमारा मकसद है प्रोफेशनल रैसलिंग में ज्यादा से ज्यादा भारतीयों को तैयार करना। हम भारतीय रैसलरों को ट्रेन करना चाहते हैं, जिनका एक अलग स्टाइल, करिज्मा हो, जो विदेशों में जाकर भारत का नाम रौशन कर सकें। रैसल स्क्वेयर ने भारत में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश समेत कई सारे राज्यों में रैसलिंग इवेंट्स करवाए हैं।"

रैसल स्क्वेयर में ट्रेनिंग देने के लिए अलावा युवा रैसलरों को क्राउड के सामने परफॉर्म करने का मौका इन इवेंट्स के जरिए मिलता है। युवा रैसल स्क्वेयर अकेडमी के जरिए 6 से 12 महीनों के ट्रेनिंग ले सकते हैं। यहां युवाओं को रैसलिंग से जुड़ी हर छोटी-बड़ी चीज़ के बारे में जानकारी दी जाती है। आप रैसल स्क्वेयर की वेबसाइट पर जाकर ट्रेनिंग से जुड़ी सभी डिटेल्स आसानी के साथ पा सकते हैं।

youtube-cover

हाल ही में रैसल स्क्वेयर ने देश के जाने-माने स्पोर्ट्स चैनल के साथ मिलकर एक रैसलिंग इवेंट का आयोजन किया। 3 दिनों तक चले इस इवेंट में मुझे जाने और मैच देखने का अवसर मिला। रैसल स्क्वेयर के रैसलरों की क्वालिटी और मैचों ने मुझे बहुत ही ज्यादा प्रभावित किया। अगर हमारे देश के युवा जो भविष्य में प्रो रैसलर बनना चाहते हैं, उन्हें अच्छी ट्रेनिंग मिलती रहे, तो वो कामयाबी की उड़ान भर सकते है।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं


Edited by विजय शर्मा
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now