Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

WWE के बारे में 12 रोचक बातें

SENIOR ANALYST
394   //    05 Sep 2018, 18:45 IST

रैसलिंग का महाकुंभ माने जाने वाले WWE में वो सब कुछ है जो फैंस को चाहिए। इस शो में रोमांस, फाइट और एंटरटेनमेंट सब देखने को मिलता है। लेकिन इन सब के बावजूद लोगों के मन मेें कई सवाल उठते है। जैसे फाइट असली होती है या नकली? बड़ा रैसलर छोटे से कैसे हार जाता है?। फाइट के दौरान निकलने वाला खून रियल है या फेक?। WWE सुपरस्टार्स को कई चोटों से इसमें गुजरना पड़ता है। फिर भी वो काफी मेहनत शो को हिट बनाने में करते है। फैंस हमेशा इनको लेकर सवाल-जवाब करते रहते है। सच तो ये है कि एक सुपरस्टार बनना काफी मुश्किल हैं। आइए जानते है WWE से जुड़े कुछ रोचक तथ्य।

WWE से जुड़े कुछ रोचक तथ्य।


-WWE का फुल फॉम World Wrestling Entertainment होता है।

-रैसलिंग बच्चों को काफी पसंद आती है और WWE इसका पूरा ध्यान रखता है।

-आरोप लगते रहे है कि बॉडी और स्टैमिना बनाने के लिए कई रैसलर ड्रग्स लेते है। लेकिन इसे रोकने के लिए WWE ने वेलनेस पॉलिसी बनाई है।

-रैसलर्स कई बार एक दूसरे से बात करते है। इसे स्पाट कॉलिंग कहा जाता है। इसमें ये दोनों एक दूसरे से ये बात करते है कि अगला मूव कौन और क्या मारेगा। कभी-कभी ऐसा होता है।

-लोगों का मानना है कि यहां सिर्फ अच्छे बॉडी वाले ही होते है लेकिन ऐसा कुछ नहीं है बल्कि फैंस जिसे यहां पसंद करते है वो होते है।

-मैच कौन जीतेगा ये यहां पहले से तय होता है लेकिन फाइट असली होती है। जो सुपरस्टार्स को चोट लगती है वो भी असली होती है।

-WWE में कई बार हारने वाले को ज्यादा पैसा मिलता है।

-रैसलर चोटिल है या नहीं इसका पता लगाने के लिए आप रैफरी को देख सकते है। अगर चोट असली होगी तो रैफरी बैकस्टेज देखेगा और X का निशान अपने हाथों से बनाएगा।

-WWE की फाइट में ज्यादातर मामलों में असली खून होता है।

-रिंग के नीचे कई हथियार रखे होते है। तांकि रैसलर उनके इस्तेमाल कर सकें। 80% ये हथियार असली होते है।

-कई बार देखा होगा की एक पंच के बाद रैसलर्स घूम-घूम के गिरते है। ये एक बड़ा शो है इसलिए किया जाता है। मैच को ज्यादा गंभीर दिखाने के लिए कभी-कभी स्ट्रेचर भी बुलाई जाती है।

-WWE में हमेशा ये बताया जाता है कि विंस मैकमैहन इसके मालिक है लेकिन ऐसा नहीं है उन्हें सिर्फ पेश किया जाता है। उनकी इस कंपनी में मात्र 52% हिस्सेदारी है।

Advertisement
Advertisement
Fetching more content...