Create
Notifications

WWE लैजेंड जिसने हरभजन सिंह के हाथों रिंग में मार खाई और मैच भी हारा

हरभजन सिंह
हरभजन सिंह
Neeraj sharma
ANALYST
Modified 08 Jul 2019
न्यूज़

भारत के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक हरभजन सिंह का जन्म साल 1980 में पंजाब के जालंधर शहर में हुआ था। अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 700 से भी अधिक विकेट ले चुके इस ऑफ-स्पिन गेंदबाज ने अभी तक संन्यास की पुष्टि नहीं की है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हरभजन रिंग में फाइट करने भी उतर चुके हैं और उनका जीत प्रतिशत 100 फीसदी रहा है।

आपको याद दिला दें कि 2012 में भारत में 'रिंग का किंग' इवेंट का आयोजन हुआ था, जहाँ हरभजन का सामना दिग्गज रैसलर जैफ जैरेट से हुआ।

रिंग का किंग एपिसोड 24 में हुआ पहला मुक़ाबला

पहला मुक़ाबला एपिसोड 24 में हुआ जो कि एक ब्लाइंड-फोल्ड फाइट रही और साथ ही साथ एक नो-डिसक्वालीफ़िकेशन मैच भी। नो-डिसक्वालीफ़िकेशन मैच की शर्त के कारण यह तो तय था कि हरभजन की सहायता करने कोई ना कोई तो जरूर आएगा।

जैफ की आँखों पर पट्टी बंधी थी और और हरभजन की सहायता के लिए महाबली वीरा रिंग में उतरे और जैफ की अच्छे ढंग से धुनाई कर बैकस्टेज लौट गए और हरभजन ने जैफ को पिन कर जीत हासिल की थी।

एपिसोड 26 में हुई दूसरी भिड़ंत

भारतीय क्रिकेटर हरभजन और TNA के फाउंडर जैफ के बीच दूसरी फाइट 'रिंग का किंग' के एपिसोड 26 में हुई। खास बात यह रही कि इस बार इस मुक़ाबले में कोई शर्त नहीं रखी गई। जैफ जैरेट जरूर चाल चलने के मूड में नजर आए लेकिन उनकी कोई भी चाल सफल नहीं हो पाई।

यह तो पूर्ण रूप से साफ था कि जैफ इस स्टोरीलाइन में हील किरदार निभा रहे थे, इसलिए इससे पहले फाइट ख़त्म हो पाती पूरी RDX टीम हरभजन पर हमला करने रिंग में आ गई। लेकिन फाइट में एक अन्य ट्विस्ट तब आया जब हरभजन के बचाव में महाबली वीरा और मैट मॉर्गन समेत उनके साथी रिंग में उतर आए और टीम RDX की जमकर धुनाई की।

दुर्भाग्यवश मुक़ाबला एक नो-कॉन्टेस्ट के रूप में खत्म हुआ, मगर हरभजन की जैफ पर विनिंग स्ट्रीक जारी रही।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Published 08 Jul 2019
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now