Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

ब्रॉन स्ट्रोमैन ने की एक फैन के साथ हुई अनोखी मुलाकात पर चर्चा

  • स्पेन के एक फैन ने ब्रॉन स्ट्रोमैन के नाम का गुदवाया टैटू।
Sanjay Dutta
ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:23 IST

WWE के यूरोपियन दौरे के दौरान अपने फैन के साथ हुए एक अनोखी मुलाकात के बारे में ब्रॉन स्ट्रोमैन ने सोशल मीडिया पर खुलासा किया। इस फैन ने स्ट्रोमैन के नाम और उनके आकृति का टैटू अपने शरीर पर गुदवाया है और यह टैटू उन्होंने 'द मॉन्स्टर अमंग मेन' को‌ खुद दिखाया। 2013 में WWE के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन करने के बाद ब्रॉन स्ट्रोमैन, जिनका असली नाम एडम शेरर है, 2014 से WWE के लिए काम कर रहे हैं। स्ट्रोमैन एक पूर्व स्ट्रॉन्गमैन भी हैं और अविश्वसनीय एथलेटिक गुणों से भरे इस सुपरस्टार ने कई प्रतियोगिताएं जीती हुई हैं। ज्यादातर प्रोफेशनल रैसलिंग विशेषज्ञ यह मानते ​​है कि ब्रॉन स्ट्रोमैन इस वक्त WWE टॉप सुपरस्टार्स में से एक है और रोमन रेंस के साथ मिलकर WWE के युवा पीढ़ी का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। 2017 के दौरान स्ट्रोमैन के फैन्स की संख्या में भारी वृद्धि हुई और 2018 में भी यह जारी है। WWE फिलहाल अपने सालाना यूरोपियन दौरे पर है, और स्पेन में एक मीट एंड ग्रीट के दौरान स्ट्रोमैन अपनेे एक फैन से मिले जिसने WWE के 'मॉन्स्टर अमोंग मेन' का टैटू गुदवा रखा था। स्ट्रोमैन ने इस बारे में बात करते हुए कहा: "स्पेन के ज़ारागोज़ा में WWE वीआईपी मीटिंग और ग्रीट कर रहा था और एक फैन ने मुझे उनके क्वाड पर बनाए गया एक टैटू दिखाया, जो मेरे नाम का था। मुझे इस बात की काफी खुशी है कि मैं किसी के जीवन को इतना प्रभावित कर सकता हूं। मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं लोगों के जीवन को इस तरह से छू पाऊंगा और मेरी यह कोशिश आगे भी जारी रहेगी।"



ब्रॉन स्ट्रोमैन फिलहाल WWE के रॉ ब्रांड पर हिस्सा है और हाल ही में उन्होंने मेंस मनी इन द बैंक लेडर मैच के लिए क्वालिफाई किया है। यह मैच WWE के मनी इन द बैंक पीपीवी में होने वाला है जो 17 जून को इलिनोइ के रोज़मोंट में ऑलस्टेट एरीना में आयोजित किया जाएगा। ऐसा लगता है कि ब्रॉन स्ट्रॉमैन अपनी बढ़ती लोकप्रियता का भरपूर आनंद ले रहे हैं। प्रो रैसलिंग और अपने पसंदीदा सुपरस्टार के लिए फैन्स के जुनून को देखकर बहुत अच्छा लगता है, और हम उम्मीद करते है कि आने वाले दिनों में भी स्ट्रोमैन WWE यूनिवर्स पर सकारात्मक प्रभाव डालते रहेंगे। लेखक - जॉन पेन , अनुवादक - संजय दत्ता

Published 14 May 2018, 13:38 IST
Advertisement
Fetching more content...