COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

WWE न्यूज:स्मैकडाउन विमेंस टाइटल के लिए ट्रिपल थ्रैट मैच कराने की वजह सामने आई

SENIOR ANALYST
न्यूज़
1.67K   //    30 Nov 2018, 17:46 IST

Enter caption

इस समय WWE टीवी में सबसे शानदार स्टोरीलाइऩ बैकी लिंच और शार्लेट फ्लेयर के बीच चल रही है। लेकिन इस हफ्ते स्मैकडाउन में चीजें और भी मजेदार हो गई है। पहले इस दोनों के मैच का एलान टीएलसी में किया गया था। लेकिन बाद में इस मैच में असुका को भी जोड़ दिया गया। अब टीएलसी में ट्रिपल थ्रैट मैच स्मैकडाउन विमेंस चैंपियनशिप के लिए होगा।

कई लोग अब ये सोच रहे है कि इस मैच में असुका को क्यों जोड़ दिया गया है। रैसलिंग ऑब्जर्वर के डेव मैल्टजर ने अपनी रिपोर्ट में इस बात को बताया कि आखिर क्यों इस मैच में उन्हें जोड़ दिया गया है।

सर्वाइवर सीरीज में नाया जैक्स ने बैकी लिंच के मुंह पर पंच मार दिया था। जिसके बाद उन्हें जबरदस्त चोट लग गई थी। उन्होंने इस हफ्ते स्मैकडाउन में वापसी की।

स्मैकडाउन लाइव की जनरल मैनेजर ने पहले टीएलसी में इन दोनों के मैच का एलान किया। बैकी लिंच और शार्लेट फ्लेयर उस वक्त रिंग में मौजूद थी। इसके बाद 8 विमेंस बैटल रॉयल मैच का एलान कर दिया। जो भी इस मैच जीतेगा वो इनके साथ चैंपियनशिप मैच में शामिल होगा।

रॉयल रंबल विजेता असुका ने ये बैटल रॉयल मैच जीता और वो अब टीएलसी में बैकी लिंच और शार्लेट फ्लेयर के साथ मैच में शामिल होंगी।

डेव मैल्टजर ने अपनी रिपोर्ट में इस बात का कारण बताया कि आखिर क्यों इसे ट्रिपल थ्रैट मैच बनाया गया। जबकि बैकी लिंच और शार्लेट फ्लेयर पहले से काफी मजबूत हैं। रिपोर्ट में ये बताया गया है कि किसी भी कंप्रोमाइज के जरिए ये मैच खत्म ना हो इसलिए असुका को इस मैच में शामिल किया गया है। मैल्टजर ने अपनी रिपोर्ट में ये बात भी कही कि शार्लेट फ्लेयर और बैकी लिंच अगले साल रोंडा राउजी का मुकाबला रैसलमेनिया में कर सकती हैं। बैकी लिंच इंजर्ड है फिर भी उन्हें इस मैच में शामिल किया है क्योंकि वो अब क्लीयर है। WWE के डॉक्टर जब किसी सुपरस्टार को क्लीयर बता देते है तो इसका सीधा-सीधा मतलब होता है कि वो अब फाइट कर सकते है।

16 दिसंबर को टीएलसी पीपीवी का आयोजन होगा। अब इस मैच को लेकर फैंस के बीच काफी उत्सुकता रहेगी।

WWE की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...