विश्व तीरंदाजी कप में अभिषेक-ज्योति ने दिलाया भारत को गोल्ड, ज्योति ने एकल में जीता सिल्वर

कम्पाउंड मिक्स्ड टीम का गोल्ड जीतने के बाद अभिषेक और ज्योति।
कम्पाउंड मिक्स्ड टीम का गोल्ड जीतने के बाद अभिषेक और ज्योति।

भारत ने पेरिस में चल रहे विश्व तीरंदाजी कप स्टेज 3 में एक गोल्ड और एक सिल्वर जीतकर अपना खाता खोला है। कम्पाउंड मिक्स्ड टीम ईवेंट के फाइनल में भारत के अभिषेक वर्मा और ज्योति सुरेखा की जोड़ी ने फ्रांस की टीम को 152-149 के अंतर से हराते हुए पहला स्थान हासिल किया। इसके अलावा कम्पाउंड महिला सिंगल्स के फाइनल में ज्योति सुरेखा को बेहद कड़े मैच में हार का सामना करना पड़ा और उन्होंने सिल्वर मेडल भी जीता।

कम्पाउंड मिक्स्ड टीम फाइनल में पहले राउंड में अभिषेक और ज्योति ने अपने चारों शॉट बिल्कुल निशाने पर लगाए, जिनमें दो निशाने बुल्स आई पर लगे जबकि दो 10 अंक के घेरे में लगे और भारत को पहले राउंड में पर्फेक्ट 40 अंक मिले जबकि फ्रांस की टीम 37 अंक हासिल कर पाई। दूसरे राउंड में भारतीय जोड़ी 36 अंक कमाए जबकि फ्रांस की जोड़ी 38 अंक लेकर आगे रही। तीसरे दौर में दोनों टीमों को 39-39 के रूप में बराबर अंक हासिल हुए। चौथे और आखिरी दौर में अभिषेक-ज्योति ने 37 अंक हासिल किए और मुकाबला अपने नाम कर लिया।

विश्व कप तीरंदाजी प्रतियोगिता की ये तीसरी स्टेज है। पहली स्टेज तुर्की के अंताल्या में हुई थी जबकि दक्षिण कोरिया के ग्वांगजू में तीसरी स्टेज हुई थी। चौथी स्टेज जुलाई में कोलंबिया के मेडेलिन में होगी जबकि फाइनल अक्टूबर में मैक्सिको में आयोजित होगा। अभिषेक वर्मा ने कम्पाउंड पुरुष टीम में इससे पहले हुई दोनों स्टेज में गोल्ड मेडल जीता है।

नजदीकी मुकाबले में ज्योति ने गंवाया दूसरा गोल्ड

मिक्स्ड टीम गोल्ड के बाद ज्योति ने महिला एकल का सिल्वर अपने नाम किया। सेमीफाइनल में ज्योति ने फ्रांस की सोफी डोडमोंट को 147-145 के अंतर से हराया। फाइनल में ज्योति का सामना ब्रिटेन की एल्ला गिब्सन से हुआ। दोनों ने 148-148 का स्कोर हासिल किया। इसके बाद शूटऑफ हुआ। ज्योति ने जहां 10 का स्कोर हासिल किया वहीं एल्ला ने भी 10 का स्कोर हासिल किया लेकिन उनका निशाना बुल्स आई के ज्यादा पास था और ऐसे में एल्ला को गोल्ड और ज्योति को सिल्वर मेडल मिला।

Edited by Prashant Kumar