हिमा दास की 400 मीटर रेस में धमाकेदार वापसी, इस महीने जीता 5वां गोल्ड मेडल

हिमा दास
हिमा दास

भरतीय महिला धावक हिमा दास रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। हिमा ने 400 मीटर की रेस में 52.09 सेकेंड का समय निकालते हुए गोल्ड मेडल जीत लिया है। 2 जुलाई से लेकर अब तक हिमा दास कुल 5 गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं।

400 मीटर के इवेंट में यह हिमा का सीजन बेस्ट टाइमिंग है। शनिवार से पहले हिमा का सीजन बेस्ट परफॉर्मेंस 52.88 सेकेंड का था। हिमा का पर्सनल बेस्ट प्रदर्शन पिछले साल एशियन गेम्स में आया था जहां उन्होंने 52.88 सेकेंड में रेस पूरी की थी। इसी साल अप्रैल में एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में पीठ में ऐंठन के कारण रेस पूरी नहीं कर पाने के बाद यह हिमा की अदभुत वापसी रही है, क्योंकि दोहा में हुए एशियन चैंपियनशिप के बाद वह पहली बार 400 मीटर की रेस में भाग ले रही थीं।

400 मीटर के इवेंट का चुनाव हिमा के कोचिंग स्टॉफ ने किया था क्योंकि 2020 ओलंपिक को ध्यान में रखते हुए वह इसी इवेंट में परिपक्वता हासिल करना चाहती हैं। शनिवार की रेस में भाग ले रहीं अन्य धाविकाएं हिमा को कोई टक्कर नहीं दे सकीं और केवल दूसरे स्थान पर रहने वाली वीके विस्मया ही 53 सेकेंड से कम के समय में रेस पूरी कर पाईं।

सितंबर के आखिरी सप्ताह में शुरु होने वाले वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में क्वालीफाई करने के लिए हिमा काफी हल्के अंतर से चूक गईं। वर्ल्ड इवेंट के 400 मीटर रेस की क्वालीफिकेशन का समय 51.80 सेकेंड रखा गया था।

शनिवार को हुई अन्य रेसों में भारत के मोहम्मद अनस यहिया ने 20.95 सेकेंड के समय के साथ 200 मीटर की रेस में तीसरा स्थान हासिल किया। एमपी जाबिर ने 49.66 सेकेंड के रिकॉर्ड समय के साथ 400 मीटर की बाधा दौड़ रेस में गोल्ड मेडल हासिल किया।

इस इवेंट पर एक और प्रभावी प्रदर्शन देखने को मिला जिसमें निर्मल नोआह टोम ने 46.05 सेकेंड के समय के साथ 200 मीटर की रेस में दूसरा स्थान हासिल किया और गोल्ड जीतने वाले धावक से मात्र 7 मिली सेकेंड से पीछे रह गए।

Edited by सावन गुप्ता