कॉमनवेल्थ खेलों में नहीं भाग लेंगे नीरज चोपड़ा, भारत की पदक उम्मीदों को झटका

नीरज को विश्व चैंपियनशिप्स फाइनल के दौरान पेट में चोट की शिकायत हुई।
नीरज को विश्व चैंपियनशिप्स फाइनल के दौरान पेट में चोट की शिकायत हुई।

बर्मिंघम कॉमनवेल्थ खेलों में भारत की पदक उम्मीदों को गहरा झटका लगा है। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा चोट के कारण इन खेलों में भाग नहीं लेंगे। खबरों के मुताबिक हाल ही में विश्व चैंपियनशिप का सिल्वर जीतने वाले नीरज चोट के कारण खेलों से बाहर हुए हैं। नीरज ने पिछली बार 2018 के गोल्ड कोस्ट खेलों में जैवलिन थ्रो का गोल्ड मेडल जीता था।

भारतीय ओलंपिक संघ यानी IOA के जेनेरल सेक्रेट्री राजीव मेहता के हवाले से ये खबर दी जा रही है कि नीरज अमेरिका के ओरेगोन में विश्व चैंपियनशिप के जैवलिन थ्रो फाइनल के दौरान अपनी पेट के निचले हिस्से की मांसपेशी में खिंचाव के कारण परेशान हुए। 23 जुलाई को ही ये फाइनल हुआ था जिसमें नीरज ने सिल्वर मेडल जीता। अब 28 जुलाई से कॉमनवेल्थ खेल शुरु हो रहे हैं, ऐसे में नीरज के पास रिकवर करने के लिए समय नहीं बचा है। 24 साल के चोपड़ा चोट को ठीक होने के लिए पूरा समय देना चाहते हैं।

नीरज ने पिछले कॉमनवेल्थ खेलों में गोल्ड मेडल जीता था।
नीरज ने पिछले कॉमनवेल्थ खेलों में गोल्ड मेडल जीता था।

नीरज के बर्मिंघम में ना खेलने से भारत को पदक तालिका में नुकसान होना पक्का है क्योंकि इस सीजन 89.94 मीटर के थ्रो के साथ नीरज ने अपना पर्सनल बेस्ट रिकॉर्ड दर्ज किया था। ऐसे में वो इस बार भी कॉमनवेल्थ खेलों में जैवलिन थ्रो स्पर्धा के गोल्ड के प्रबल दावेदार थे, हालांकि विश्व चैंपिनय ग्रेनेडा के ऐंडरसन पीटर्स भी इस बार खेलों में भाग ले रहे हैं। गोल्ड कोस्ट में भी नीरज का पदक भारत का एथलेटिक्स में इकलौता गोल्ड था। नीरज के साथ कुल 43 एथलीटों का चयन ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धा के लिए हुआ था। अब पुरुष जैवलिन थ्रो में भारत के लिए पदक लाने का जिम्मा डीपी मनू और रोहित यादव पर होगा। रोहित ने विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में नीरज के साथ ही जगह बनाई थी और 78.72 मीटर के थ्रो के साथ 10वें नंबर पर थे।

Quick Links

App download animated image Get the free App now