Create
Notifications

तेजस्विन शंकर - जूनियर इवेंट में तोड़ दिया था हाई जम्प का सीनियर रिकॉर्ड, अब कॉमनवेल्थ मेडल पर नजर

तेजस्विन शंकर ने महज 17 साल की उम्र में हाई जम्प का राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया था।
तेजस्विन शंकर ने महज 17 साल की उम्र में हाई जम्प का राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया था।
Hemlata Pandey

23 साल के तेजस्विन शंकर के लिए इस साल जून और जुलाई के महीने काफी परेशानी भरे रहे। देश के लिए हाई जम्प खेलने वाले शंकर को विश्व चैंपियनशिप्स और कॉमनवेल्थ खेलों के लिए टीम में एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने यह कहकर शामिल नहीं किया कि उन्होंने देश में हुए ट्रायल्स में भाग नहीं लिया। ऐसे में नेशनल रिकॉर्ड होल्डर तेजस्विन ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाकर कॉमनवेल्थ खेलों के लिए लड़ाई जीती और स्क्वॉड में शामिल हुए। पिछले गोल्ड कोस्ट खेलों में तेजस्विन छठे नंबर पर रहे थे लेकिन इस बार मेडल जीतने को तैयार हैं।

क्रिकेट छोड़ बने एथलीट

तेजस्विन मूल रूप से तमिल परिवार से हैं लेकिन दिल्ली में पले-बढ़े। तेजस्विन को बचपन से ही खेलों में रुचि थी और क्रिकेट के तो वो बहुत बड़े फैन थे। तेजस्विन ने क्रिकेट में करियर बनाने की भी सोची और फास्ट बॉलर बनना चाहते थे। लेकिन समय के साथ एथलेटिक्स में रूचि बढ़ती रही। तेजस्विन 100 मीटर, 400 मटीर, 1500 मीटर, पोल वॉल्ट, लॉन्ग जम्प, ट्रिपल जम्प, जैसी हर ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धा में महारथ रखते हैं लेकिन उन्होंने मेन फोकस हाई जम्प पर रखा और प्रतियोगिताओं में जीत दर्ज करने लगे।

लेकिन साल 2014 में तेजस्विन को निजी जीवन को बड़ा झटका लगा जब उनके पिता की मृत्यु ब्लड कैंसर से हो गई। तेजस्विन ने एक इंटर्व्यू में बताया था कि उनके पिता ही उनके सबसे बड़े प्रशंसक और सपोर्टर थे और उन्हें चैंपियन बनते देखना चाहते थे।

सीनियर रिकॉर्ड को किया ध्वस्त

तेजस्विन ने 2016 में गुवाहाटी में हुए SAF खेलों में 2.17 मीटर की छलांग लगाई और अपने आयु वर्ग में नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया। इसी साल सितंबर मं तेजस्विन ने 2.22 मीटर की छलांग लगाई जो देश के इतिहास में दूसरी सबसे ऊंची जम्प थी और तीन महीने बाद ही तेजस्विन ने 2.26 मीटर की जम्प के साथ नया नेशनल रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। इस समय तेजस्विन की उम्र महज 17 साल थी और उन्होंने जूनियर ईवेंट में ये कारनामा किया था।

तेजस्विन के पास अमेरिका की कैन्सास यूनिवर्सिटी से बिजनेस ऐडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री भी है।
तेजस्विन के पास अमेरिका की कैन्सास यूनिवर्सिटी से बिजनेस ऐडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री भी है।

तेजस्विन का मौजूदा नेशनल रिकॉर्ड 2.29 मीटर का है। साल 2017 में तेजस्विन ने अमेरिका की कैन्सास यूनिवर्सिटी में बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में एडमिशन लिया और पिछले 5 सालों से अमेरिका के NCAA यानि यूनिवर्सिटी स्तर की प्रतियोगिताओं में भाग लेकर अपने खेल का स्तर बढ़ाया है। तेजस्विन इसी दौरान भारत के लिए अलग-अलग प्रतियोगिताओं में खेलते रहे। तेजस्विन 2017 से राष्ट्रीय चैंपियन हैं। लेकिन पहले भी कई मौकों पर उन्हें प्रतियोगिताओं के लिए दरकिनार किया गया है। 2019 की एशियन चैंपियनशिप में उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया जबकि तब भी वो राष्ट्रीय चैंपियन थे।

इस साल भी तेजस्विन ने अमेरिका में NCAA की चैंपियनशिप में 2.28 मीटर की छलांग लगाकर पहला स्थान हासिल किया। तेजस्विन का ये प्रयास कॉमनवेल्थ के 2.25 मीटर क्वालिफिकेशन के ऊपर है और वीडियो में भी आया लेकिन AFI ने इसे क्वालिफिकेशन के लिए नहीं माना और तेजस्विन को कोर्ट जाना पड़ा। इस पूरे घटनाक्रम में AFI की काफी किरकिरी भी हुई थी। फिलहाल रविवार को तेजस्विन बर्मिंघम के खेल गांव पहुंचेंगे और 2 अगस्त को क्वालिफायिंग राउंड में भाग लेंगे।


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...