कोरिया ओपन : क्वार्टर-फाइनल में पहुंचे सात्विक-चिराग, सिंगल्स में भारतीय चुनौती समाप्त

BWF World Championships - Day Six
BWF World Championships - Day Six

भारत के सात्विक साईंराज रणकिरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टर-फाइनल में पहुंच गई है। दूसरे दौर में तीसरी वरीयता प्राप्त भारतीय जोड़ी ने चीन के ही जी टिंग-झोउ हाओ डोंग की जोड़ी को 21-17, 21-15 से मात दी। इस साल दो BWF खिताब और एशियन चैंपियनशिप जीत चुकी भारतीय जोड़ी कोरिया ओपन का खिताब पहली बार हासिल करने की कोशिश में है।

लेकिन सात्विक-चिराग के अलावा कोई भी अन्य भारतीय खिलाड़ी टूर्नामेंट में और आगे नहीं बढ़ पाया। पांचवी सीड भारत के एच एस प्रणॉय को दूसरे दौर में हॉन्ग-कॉन्ग के ली च्यूक यू ने मात दी। प्रणॉय को कड़े मैच में ली ने 21-15, 19-21, 21-18 से हराया। दूसरे सेट में एक समय स्कोर 12-12 से बराबर था लेकिन इसके बाद ली ने बेहद नजदीकी बढ़त बनाकर इसे कायम रखा और सेट जीत खुद को मुकाबले में बनाए रखा। तीसरे सेट में प्रणॉय ने मैच बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन ली यहां भी काफी कम अंतर से जीतने में कामयाब रहे।

प्रणॉय के अलावा प्रियांशु राजावत को भी दूसरे दौर में हार मिली। प्रियांशु को टॉप सीड जापान के कोडाई नाराओका ने 21-14, 18-21, 21-17 से मात दी। प्रियांशु ने नाराओका को काफी अच्छी टक्कर दी लेकिन विश्व नंबर 4 नाराओका को अधिक अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट खेलने का अनुभव जीत दिलाने में काम आया। महिला डबल्स में त्रीसा जॉली और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी को भी दूसरे दौर में हार का सामना करना पड़ा।

केवल एक भारतीय विजेता

कोरिया ओपन का आयोजन साल 1991 से हो रहा है लेकिन भारत को टूर्नामेंट में अपना पहला विजेता साल 2017 में मिला जब पीवी सिंधू ने महिला सिंगल्स का खिताब जीता था। उनके अलावा कोई भी अन्य भारतीय इस टूर्नामेंट की किसी भी स्पर्धा को आज तक नहीं जीत पाया है। इस साल सिंगल्स में पीवी सिंधू और किदाम्बी श्रीकांत जैसे नाम पहले ही दौर में हारकर निराश कर चुके हैं।

Edited by Prashant
App download animated image Get the free App now