Create
Notifications

ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु ने चीन ओपन बैडमिंटन के फाइनल में किया प्रवेश

Abhishek Tiwary

रियो ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली पीवी सिंधु का शानदार प्रदर्शन जारी हैं और अब वह अपना पहला सुपर सीरीज प्रीमियर ख़िताब जीतने से महज एक कदम दूर खड़ी हैं। भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी ने शनिवार को सेमीफाइनल में कोरिया की सुंग जी ह्युंग को 11-21, 23-21, 21-19 से हराकर 700000 डालर इनामी चीन ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई। सिंधु ने पहला सेट गंवाने के बाद जोरदार वापसी करते हुए छठी वरीय जी ह्युन को एक घंटे और 24 मिनट तक चले मुकाबले में 11-21 23-21 21-19 से हराया। जी ह्युन के खिलाफ नौ मैचों में सिंधु की यह छठी जीत रही। विश्व चैम्पियनशिप की दो बार की कांस्य पदक विजेता सिंधु फाइनल में स्थानीय प्रबल दावेदार आठवीं वरीय सुन यू से भिड़ेंगी। सिंधु की शुरूआत काफी खराब रही और पहले गेम में वह विरोधी खिलाड़ी का कोई टक्कर नहीं दे पाई। जी ह्युन ने 5-1 की बढ़त बनाई और फिर इसमें लगातार इजाफा करते हुए पहला गेम आसानी से जीत लिया। भारतीय खिलाड़ी ने दूसरे गेम में वापसी की कोशिश की। एक समय 7-7 पर स्कोर बराबर था, लेकिन कोरियाई खिलाड़ी ने 11-7 की बढ़त बना ली। सिंधु ने स्कोर बराबर किया, लेकिन जी ह्युन ने 20-17 के स्कोर पर तीन मैच प्वाइंट हासिल किए। सिंधु ने तीनों मैच प्वाइंट बचाए। उन्हें गेम प्वाइंट मिला, लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा सकी। सिंधु ने हालांकि इसके बाद एक और गेम प्वाइंट हासिल किया और फिर स्मैश के साथ दूसरा गेम जीत लिया। निर्णायक गेम में सिंधु की शुरूआत फिर बिगड़ गई। वह 3-7 से पिछड़ रही थी, लेकिन फिर हाफ कोर्ट स्मैश का शानदार इस्तमाल करते हुए उन्होंने जल्द ही 10-9 की बढ़त बना ली। सिंधु ने इसके बाद स्कोर 20-18 तक पहुंचाया। जी ह्युन ने एक मैच प्वाइंट बचाया लेकिन सिंधु ने शानदार क्रास कोर्ट स्मैश के साथ गेम और मैच जीत लिया। इस अंक को ह्यून ने चैलेंज दिया, लेकिन रीप्ले में साफ़ दिखा कि स्मैश लाइन पर लगा है और सिंधु के नाम यह मैच हो गया।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...