जापान ओपन के पहले दौर में किदाम्बी श्रीकांत की जीत, लक्ष्य सेन और साइना हारकर बाहर  

आज तक किसी भारतीय खिलाड़ी ने जापान ओपन का टाइटल नहीं जीता है।
आज तक किसी भारतीय खिलाड़ी ने जापान ओपन का टाइटल नहीं जीता है

पूर्व विश्व नंबर 1 बैडमिंटन खिलाड़ी भारत के किदाम्बी श्रीकांत जापान ओपन BWF सुपर 750 बैडमिंटन टूर्नामेंट के दूसरे दौर में पहुंच गए हैं। श्रीकांत ने पहले दौर में छठी सीड मलेशिया के ली जी जिया को हराकर बड़ी जीत दर्ज की। अपने तेज खेल के लिए पहचान पा चुके जिया को श्रीकांत ने कड़े मैच में 22-20, 23-21 से मात दी। पिछले हफ्ते विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के दूसरे दौर में हार के बाद श्रीकांत के पास इस टूर्नामेंट के जरिए वापसी का मौका है। दूसरे दौर में श्रीकांत का सामना जापान के कांता सुनेयामा से होगा। भारत के एक और खिलाड़ी एच एस प्रणॉय पहले ही दूसरे दौर में पहुंच चुके हैं।

लेकिन भारत के टॉप शटलर लक्ष्य सेन जापान ओपन के पहले ही दौर में हारकर बाहर हो गए हैं। विश्व नंबर 9 सेन को पहले दौर में विश्व नंबर 21 जापान के केंता निशिमोतो ने हरा दिया। सेन को 1 घंटे तक चले इस मुकाबले में 18-21, 21-14, 21-13 से हार मिली। अगस्त महीने की शुरुआत में लक्ष्य ने बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में पुरुष सिंगल्स बैडमिंटन का गोल्ड जीता था। लेकिन उसके बाद हुई विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के तीसरे दौर में हारकर वो बाहर हुए और अब जापान ओपन के शुरुआती पड़ाव में हार गए हैं।

भारत की साइना नेहवाल भी पहले ही दौर में हार गईं। पूर्व विश्व नंबर 1 साइना को विश्व नंबर 1 और हाल ही में लगातार दूसरी बार विश्व चैंपियन बनी अकाने यामागूची ने मात दी। जापान की यामागूची ने साइना को पहले दौर में 21-9, 21-17 से हराने में कामयाबी हासिल की। साइना 2019 के बाद से कोई खिताब नहीं जीत पाई हैं।

डबल्स में भी भारत के लिए अच्छी खबर नहीं आई। कृष्ण प्रसाद गर्ग-विष्णुवर्धन पंजाल की जोड़ी को फ्रांस के क्रिस्टो पोपोव-टोमा जूनियर पोपोव ने 21-18, 21-17 से हराया। वहीं एमआर अर्जुन-ध्रुव कपिला को दक्षिण कोरिया के चोई सोल ग्यू-किम वोन हो ने 19-21, 23-21, 21-15 से हराकर बाहर किया। महिला डबल्स में भी भारत की ट्रीसा जॉली और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी को पहले दौर में हार का सामना करना पड़ा। मिक्स्ड डबल्स में वेंकट प्रसाद-जूही देवांगन की जोड़ी को भी शुरुआती दौर में हार झेलनी पड़ी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar