Create
Notifications

ताइपे ओपन : सिंधू, श्रीकांत की गैरमौजूदगी में कश्यप की अगुवाई में खेलेंगे भारतीय युवा खिलाड़ी

परुपल्ली कश्यप टूर्नामेंट के पुरुष सिंगल्स में तीसरी सीड प्राप्त हैं।
परुपल्ली कश्यप टूर्नामेंट के पुरुष सिंगल्स में तीसरी सीड प्राप्त हैं।
Hemlata Pandey

मंगलवार से शुरु हो रहे योनेक्स ताइपे ओपन बैडमिंटन प्रतियोगिता में इस बार भारत के कई युवा और नए खिलाड़ी खेलते नजर आएंगे। पीवी सिंधू, किदाम्बी श्रीकांत समेत देश के टॉप शटलर्स अगले हफ्ते से बर्मिंघम में शुरु हो रहे कॉमनवेल्थ खेलों की तैयारियों में जुट गए हैं और ऐसे में ताइपे ओपन में अनुभवी परुपल्ली कश्यप के साथ देश के उभरते खिलाड़ी भाग दिखाई देंगे।

पुरुष सिंगल्स में परुपल्ली कश्यप भारतीय दल को लीड करेंगे। तीसरी सीड कश्यप पहले दौर में क्वालीफ़ायर का सामना करेंगे। विश्व नंबर 65 शुभांकर डे पहले दौर में क्वालीफ़ायर से भिड़ेंगे। विश्व नंबर 96 चिराग सेन ताईपे के लिन चुन-यी के खिलाफ अपना पहला मैच खेलेंगे। चिराग भारतीय टॉप बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन के भाई हैं। 24 साल के भारतीय खिलाड़ी मिथुन मंजूनाथ डेनमार्क के किम ब्रून से पहले दौर में सामना करेंगे। इनके अलावा प्रियांशु राजावात और किरन जॉर्ज भी पुरुष सिंगल्स में खेलेंगे।

महिला सिंगल्स में 20 साल की भारतीय खिलाड़ी मालविका बंसोड़ क्वालीफ़ायर खिलाड़ी का सामना करेंगी। मालविका इस साल जनवरी में इंडियन ओपन के दूसरे दौर में पूर्व विश्व नंबर 1 और ओलंपिक ब्रॉन्ज मेडलिस्ट साइना नेहवाल को हराकर चर्चा में आईं थीं। इस टूर्नामेंट के ठीक बाद सैयद मोदी इंटरनेशनल ग्रां प्री के फाइनल में मालविका पहुंची थीं जहां उन्हें पीवी सिंधू ने हराया था।

भारत की ही स्मित तोश्नीवाल पहले दौर में आठवीं सीड ताइपे की पाई यू पो से भिड़ेंगी। विश्व नंबर 110 स्मित पहली बार सीनियर स्तर पर देश से बाहर किसी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट का हिस्सा बनेंगी। विश्व नंबर 100 भारत की ही सामिया फारूखी मलेशिया की किसोना सेल्वादुरै के खिलाफ पहले दौर का मैच खेलेंगी। विश्व नंबर 99 तान्या हेमंत, विश्व नंबर 119 श्री कृष्ण प्रिया भी महिला सिंगल्स में भारत की ओर से खेलती नजर आएंगी।

पुरुष डबल्स में भारत के एमआर अर्जुन-ध्रुव कपिला को पांचवी सीड दी गई है जबकि कृष्ण प्रसाद और विष्णुवर्धन को सातवीं सीड मिली है। इनके अलावा ईशान भटनागर-साईं प्रतीक, रविकृष्णा-उदयकुमार की जोड़ियां भी टूर्नामेंट में भाग ले रही हैं।

भारत की ओर से इकलौता सिंगल्स खिताब साल 2008 में साइना नेहवाल ने जीता है जबकि 2009 में विजयावति दिजू और ज्वाला गुट्टा ने महिला डबल्स का टाइटल जीता था।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Fetching more content...