World Boxing Championship: अमित पंघाल ने रजत पदक जीतकर इतिहास रचा, मनीष कौशिक ने जीता कांस्य पदक  

Ankit
अमित पंघाल ने 52 किग्रा वर्ग में रजत पदक जीता
अमित पंघाल ने 52 किग्रा वर्ग में रजत पदक जीता

रूस के एकाटेरिनबर्ग में खेली जा रही वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भारत के अमित पंघाल ने नया इतिहास रच दिया है। 23 वर्षीय अमित पंघाल वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष मुक्केबाज बन गये हैं। उन्होंने पुरुषों के 52 किग्रा वर्ग में रजत पदक जीता है। शनिवार को हुए खिताबी मुकाबले में उज़्बेकिस्तान के शाखोबिदिन जोरेव ने भारत के अमित पंघाल को 5-0 से हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया।

इससे पहले सेमीफ़ाइनल मुक़ाबले में अमित पंघाल ने 52 किग्रा भारवर्ग में कजाकिस्तान के साकेन बिबोसिनोव को 3-2 से हराते हुए फ़ाइनल में जगह बनाई थी और इतिहास रच दिया था।

मनीष कौशिक ने 63 किग्रा वर्ग में जीता कांस्य :

मनीष कौशिक ने जीता कांसा
मनीष कौशिक ने जीता कांसा

भारतीय मुक्केबाज मनीष कौशिक ने वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में उम्दा प्रदर्शन करते हुए, 63 किग्रा भारवर्ग का कांस्य पदक अपने नाम किया। पूरे टूर्नामेंट के दौरान उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और सेमीफाइनल में जगह बनाई। सेमीफाइनल मुकाबले में क्यूबा के शीर्ष वरीय मुक्केबाज एंडी क्रूज ने भारतीय मुक्केबाज मनीष कौशिक को 5 -0 से हरा दिया। राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता मनीष ने अपने उम्दा प्रदर्शन से न सिर्फ लाखों-करोड़ो खेलप्रेमियों का दिल जीता बल्कि भविष्य में भारत की नयी उम्मीद बन कर अपना नाम बनाया।

अमित पंघाल और मनीष कौशिक के इस पदक के साथ भारत पहली बार एक वर्ल्ड चैम्पियनशिप में दो पदक जीतने में कामयाब हुआ है। इससे पहले विजेंद्र सिंह ने 2009, विकास कृष्णन ने 2011, शिव थापा ने 2015 और गौरव बिधूड़ी ने 2017 में कांस्य पदक जीता था। गौरतलब हो कि कांस्य जीतने वाले मनीष कौशिक और रजत पदक अपने नाम करने वाले अमित पंघाल ने अगले साल जापान में आयोजित होने वाले टोक्यो ओलम्पिक 2020 के लिए अपना कोटा हासिल कर लिया है।

App download animated image Get the free App now