Create
Notifications

10 खिलाड़ी जिन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को रिलीज नहीं करना चाहिए था 

Enter caption
Rahul Pandey
visit

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम में आईपीएल के इतिहास में एक से एक सितारे खिलाड़ी रहे हैं। साल 2008 के पहले सीजन से ही इस टीम की ओर से कई बड़े खिलाड़ियों ने खेला है और इसी के चलते ये टीम तीन बार फाइनल का सफर तय करने में कामयाब रही लेकिन अब तक उन्हें पहले खिताब जीतने का इंतजार है।

आरसीबी की टीम से उनके फ्रेंचाइजी को हर सीजन जीतने की उम्मीद रहती है। इस सीजन भी वो उसी उम्मीद में आये हैं लेकिन अब तक खेले 6 मैचों में 6 हार के साथ वो करो या मरो के भंवर में जा फंसे हैं।

ऐसा नहीं है कि आरसीबी की मौजूदा टीम से बेहतर खिलाड़ी नहीं रहे हैं। आरसीबी में मौजूदा समय में अच्छा प्रदर्शन कर रहे कई शानदार खिलाड़ी रहे, लेकिन उन्होंने इन खिलाड़ियों को छोड़ा और अब वो पछता रहे हैं। आईये एक नज़र डालते हैं ऐसे ही 10 खिलाड़ियों पर जो आरसीबी का हिस्सा रहे थे.


# 10 सरफराज खान

Enter caption

मुंबई के प्रतिभाशाली बल्लेबाज सरफराज खान इस सीजन से पहले पिछले काफी सीजन से आरसीबी की टीम का हिस्सा रहे हैं। सरफराज खान ने कुछ अच्छी क्रिकेट भी खेली, लेकिन उन्हें आरसीबी ने उन्हें रिलीज कर दिया। किंग्स इलेवन ने सरफराज को टीम में शामिल किया और वो इस सीजन बढ़िया कर रहे हैं और इस सीज़न वह अब तक शानदार औसत से रन बना रहे हैं।


# 9 मयंक अग्रवाल

Enter caption

कर्नाटक के आक्रामक बल्लेबाज मयंक अग्रवाल का पिछले कुछ समय से घरेलू क्रिकेट में जबरदस्त प्रदर्शन करते आ रहे हैं। इस सीज़न में मयंक अग्रवाल आईपीएल में भीं किंग्स इलेवन पंजाब के लिए शानदार खेल दिखा रहे हैं। इससे पहले 2013 तक वो आरसीबी की टीम का हिस्सा थे लेकिन उन्हें टीम ने बाहर कर दिया था और निश्चित रूप से जिस फॉर्म में मयंक है आरसीबी को इसका पछतावा जरूर हो रहा होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#8 बिली स्टेनलेक

Enter caption

ऑस्ट्रेलिया के युवा तेज गेंदबाज बिली स्टेनलेक को आरसीबी ने 2017 में अपनी टीम में शामिल किया था लेकिन उस सीज़न उन्हें सिर्फ 2 मैच ही खिलाए। फिर स्टेनलेक को 2018 आईपीएल में आरसीबी ने छोड़ दिया, जिसके बाद सनराइजर्स हैदराबाद ने स्टेनलेक पर दांव खेला और पिछले सीजन स्टेनलेक की गेंदबाजी शानदार रही और टीम के लिए एक मैच जिताऊ गेंदबाज़ बने।


#7 शेन वॉटसन

Enter caption

ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वॉटसन को भी आरसीबी के लिए कुछ सीजन खेलने का अवसर मिला था। शेन वॉटसन 2017 तक आरसीबी का हिस्सा रहे लेकिन टीम के लिए कुछ खास प्रदर्शन नही कर सके थे। जिसके चलते आरसीबी ने उन्हें बाहर करने का फैसला लिया और इसके बाद वॉटसन को सीएसके का साथ मिला और इसके बाद उन्होंने पिछले सीजन में बतौर सलामी बल्लेबाज़ जैसी जबरदस्त बल्लेबाजी की थी, उसके बाद निश्चित रूप से आरसीबी अपने निर्णय पर पछता रहा होगा।

#6 दिनेश कार्तिक

Enter caption

भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक आईपीएल में 6 अलग अलग टीमों का हिस्सा रह चुके हैं, जिसमें वो आरसीबी के लिए भी खेले हैं। 2015 में आरसीबी की और से दिनेश कार्तिक को खेलने का मौका मिला और औसत प्रदर्शन रहा, जिसके बाद एक ही सीजन टीम का भरोसा उनके ऊपर से उठ गया। लेकिन इसके बाद दिनेश कार्तिक ने गुजरात लायंस और फिर अब केकेआर के लिए जिस तरह का प्रदर्शन कर रहे हैं, यह देख आरसीबी के पास अब पछताने के अलावा दूसरा चारा नही है।


#5 रॉबिन उथप्पा

Enter caption

रॉबिन उथप्पा विश्व स्तर पर अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नही कर सके हों लेकिन आईपीएल में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा है। उथप्पा 2009 और 2010 के सीज़न के दौरान आरसीबी टीम का हिस्सा थे। 2010 के एक अच्छे आईपीएल के बावजूद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। इसके बाद वह आईपीएल में सबसे अधिक रन बनाने वालों में से एक खिलाड़ी के रूप में उभरे। 2012 के बाद से, उथप्पा ने अपने प्रत्येक आईपीएल सीज़न में कम से कम 350 रन बनाए। उन्होंने 2014 सीज़न में केकेआर की खिताबी जीत में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

#4 केदार जाधव

Enter caption

केदार जाधव 2016 और 2017 के सीज़न के दौरान रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्सा थे। 2017 के आईपीएल में उनका प्रदर्शन ख़राब नही था, फिर भी उन्हें आरसीबी द्वारा बाहर किया गया था। इसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें 2018 की नीलामी में खरीदा लेकिन जाधव चोटिल होने के कारण उस सीज़न का अधिकांश हिस्स नही खेल पाए थे। जाधव ने पिछले कुछ वर्षों में भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है और 2019 विश्व कप टीम में जगह बनाना लगभग तय है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को निश्चित रूप से आज की स्थिति में इस बेहतरीन खिलाड़ी के टीम में होने का लाभ मिला होता।


#3 केएल राहुल

Enter caption

यह अभी भी एक बड़ा सवाल है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने आईपीएल 2017 के बाद राहुल को क्यों जाने दिया। हालांकि कंधे की चोट के कारण वह आईपीएल 2017 से बाहर थे लेकिन आईपीएल 2016 में 44.11 के औसत से 397 रन और 146.49 की स्ट्राइक रेट के साथ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक थे। अपनी क्षमताओं के बावजूद, उन्हें आईपीएल 2018 के लिए आरसीबी ने नही चुना, जिसके बाद वह किंग्स इलेवन पंजाब में शामिल हुए। राहुल के लिए पिछला सीजन बेहतरीन रहा और उसमें उन्होंने 54.91 के औसत से 659 रन थे। आरसीबी के बल्लेबाजी क्रम में वर्तमान में जो संघर्ष चल रहा है, इसमें दो राय नही कि राहुल उन्हें बहुत आवश्यक स्थिरता प्रदान कर सकते थे।

# 2 क्रिस गेल

Enter caption

जब हमने सोचा था कि क्रिस गेल अपने बेहतरीन दौर से गुजर चुके हैं तो उन्होंने पिछले कुछ समय में वेस्टइंडीज और किंग्स इलेवन पंजाब के लिए शानदार प्रदर्शनों से सभी को आश्चर्यचकित कर दिया। आरसीबी के लिए उनके सबसे खतरनाक बल्लेबाज रहे क्रिस गेल के योगदान को वो कभी भुला नहीं पाएंगे। लेकिन एक खराब सीजन के चलते उन्होंने क्रिस गेल जैसे बड़े खिलाड़ी को नजरअंदाज कर दिया। 2018 में क्रिस गेल किंग्स इलेवन पंजाब का हिस्सा बने और इस सीज़न में भी वो गेंदबाजों पर उसी घातक अंदाज़ में प्रहार करते नज़र आ रहे हैं, जिसके चलते उन्हें ''यूनिवर्स बॉस'' का नाम दिया गया है।


#1 भुवनेश्वर कुमार

Enter caption

मौजूदा समय में भारतीय टीम के सबसे बेहतरीन स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार भी आरसीबी का हिस्सा रहे हैं। भुवी को 2009 में आरसीबी ने खरीदा लेकिन 2010 में ही उन्हें रिलीज कर दिया। जिसके बाद पुणे वॉरियर्स ने अपनी टीम का हिस्सा बनाया। जिसके बाद 2014 में उन्हें सनराईजर्स हैदराबाद ने अपना लिया और तब से भुवी छाए हुए हैं। उन्होंने 2016 और 2017 में लगातार दो पर्पल कैप जीते, और 2016 में आईपीएल का खिताब भी जीता। वर्तमान में सभी भारतीय तेज़ गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन करने के कारण आरसीबी का गेंदबाजी आक्रमण बेहद कमज़ोर नज़र आ रहा है और ऐसे में भुवि निश्चित रूप से इस टीम के साथ रहे होते तो कहानी अलग होती।

Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now