Create

वनडे क्रिकेट इतिहास के 2 ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने 10 से ज्यादा बार मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड जीता है

2003 वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए थे
2003 वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए थे

क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में बल्लेबाजी आसान नहीं होती है। बल्लेबाज को एक-एक रन बनाने के लिए जूझना पड़ता है। उसे हर एक शॉट को नापतौल कर खेलना होता है। बल्लेबाज की सिर्फ एक गलती उसकी पूरी मेहनत पर पानी फेर सकती है। एक बल्लेबाज को अपनी पारी बनाने के लिए घंटों लग जाते हैं लेकिन गेंदबाज को उसका विकेट चटकाने के लिए सिर्फ एक गेंद की जरुरत होती है।

टेस्ट हो या वनडे या फिर टी20, हर फॉर्मेट में गेंदबाज बल्लेबाजों की परीक्षा लेते हैं। क्रिकेट इतिहास में अभी तक कई दिग्गज बल्लेबाज हुए हैं, जिन्होंने अपनी बैटिंग से वर्ल्ड क्रिकेट पर राज किया। इस दौरान कई रिकॉर्ड इन बल्लेबाजों ने अपने नाम किए। इनमें से किसी ने सबसे ज्यादा शतक लगाया, किसी ने सबसे ज्य़ादा बाउंड्री लगाई और किसी बल्लेबाज ने सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया।

ये भी पढ़ें: 3 कारण क्यों इस सीजन आईपीएल का आयोजन नहीं होना चाहिए

लेकिन हम आपको यहां पर क्रिकेट जगत के उन दो बल्लेबाजों के नाम बताने वाले हैं जिन्होंने अपने वनडे इंटरनेशनल करियर में 10 से ज्यादा बार मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड जीता। ये दोनों काफी दिग्गज बल्लेबाज हैं और अपने वनडे करियर में इन्होंने काफी ज्यादा रन बनाए। तो आइए जानते हैं कि वनडे क्रिकेट इतिहास के कौन से 2 बल्लेबाज हैं जिन्होंने सबसे ज्यादा बार मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड जीता।

ये भी पढ़ें: विराट कोहली को लेकर पाकिस्तान के युवा तेज गेंदबाज ने दी बड़ी प्रतिक्रिया

वनडे क्रिकेट इतिहास के दो खिलाड़ी जिन्होंने 10 से ज्यादा बार मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड जीता

2. सनथ जयसूर्या

सनथ जय़सूर्या
सनथ जय़सूर्या

इस लिस्ट में श्रीलंका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और सलामी बल्लेबाज सनथ जयसूर्या दूसरे पायदान पर हैं। उन्होंने अपने वनडे क्रिकेट करियर में 445 वनडे मुकाबले खेले और 111 सीरीज खेली। इस दौरान सनथ जयसूर्या ने 11 बार मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड अपने नाम किया।

ये भी पढ़ें: रोहित शर्मा ने राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट होने पर दी प्रतिक्रिया

जयसूर्या अपने जमाने के बेहद विस्फोटक बल्लेबाज थे और उन्होंने अपने करियर में 13430 रन बनाए। इस दौरान जयसूर्या ने 28 शतक और 68 अर्धशतक जड़े। जयसूर्या के सामने बड़े से बड़े गेंदबाज भी खौफ खाते थे। वो आते ही गेंदबाजों पर आक्रमण करना शुरु कर देते थे और जमकर चौके-छक्के लगाते थे। 2003 वर्ल्ड कप में उन्होंने श्रीलंका क्रिकेट टीम की कप्तानी भी की थी।

कहा जाता है कि जयसूर्या ने अपनी आक्रामक बैटिंग से वनडे क्रिकेट में सलामी बल्लेबाजी की परिभाषा ही बदल कर रख दी और उसे एक नया आयाम दिया।

1.सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर

वनडे क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा बार मैन ऑफ द सीरीज जीतने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है। सचिन तेंदुलकर वनडे में सबसे ज्यादा शतक और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उनसे ज्यादा शतक और रन अभी तक वनडे में किसी भी खिलाड़ी ने नहीं बनाए हैं।

इसके साथ ही सचिन तेंदुलकर ने वनडे में सबसे ज्यादा 15 बार मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड जीता है। उन्होंने अपने वनडे क्रिकेट करियर में कुल 463 वनडे मुकाबले खेले और 108 सीरीज में हिस्सा लिया। इस दौरान सचिन ने 18426 रन बनाए। उनके वनडे में 49 शतक और 96 अर्धशतक हैं। इसके अलावा वनडे क्रिकेट में सबसे पहली बार दोहरा शतक उन्होंने ही लगाया था।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment