Create
Notifications

टी20 क्रिकेट में अंतिम ओवर मेडन डालने वाले एशियाई गेंदबाज

नवदीप सैनी के पास गति और मिश्रण दोनों मौजूद हैं
नवदीप सैनी के पास गति और मिश्रण दोनों मौजूद हैं
Naveen Sharma

टी20 क्रिकेट आने के बाद लोकप्रिय तो काफी हुआ लेकिन गेंदबाजों के लिए यह सिरदर्द बनकर उभरा है। अंतरराष्ट्रीय स्तर से लेकर लीग क्रिकेट और घरेलू क्रिकेट सभी जगह टी20 क्रिकेट में गेंदबाजों की धुनाई होती है। दर्शकों को भी टी20 क्रिकेट में बल्लेबाजों के बल्ले से रन बरसते हुए देखना पसंद होता है। कई बार गेंदबाज ओवर में काफी रन देते हैं और टीम की हार के कारण भी बनते हैं। यही टी20 क्रिकेट की खासियत है।

अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में बेहतरीन गेंदबाजी करने वाला खिलाड़ी अलग दर्जे वाला माना जाता है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टी20 क्रिकेट में भी बल्लेबाज ज्यादा हावी रहने का प्रयास करते हैं लेकिन गेंदबाज नेट्स पर गेंदबाजी आयर ट्रेनिंग के जरिये शानदार गेंदबाजी मुख्य मैच में करने का प्रयास करते हैं और कई बार उन्हें सफल होते हुए देखा गया है। काफी मौकों पर गेंदबाज भी बल्लेबाजों पर हावी रहते हैं। इस आर्टिकल में एशिया के 3 ऐसे गेंदबाजों का जिक्र किया गया है जिन्होंने टी20 अंतरराष्ट्रीय में अंतिम ओवर मेडन डाला है। एशिया के बाहर ऐसा करने वाले न्यूजीलैंड के जीतन पटेल है।

टी20 क्रिकेट में अंतिम ओवर मेडन डालने वाले एशियाई गेंदबाज

नवदीप सैनी

वेस्टइंडीज के खिलाफ मुकाबले के दौरान नवदीप सैनी ने यह कमाल किया था। अंतिम ओवर डालते हुए सैनी ने वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को एक भी रन बनाने का मौका नहीं दिया और किरोन पोलार्ड का विकेट भी लेने में सफलता हासिल की। तेज गेंदबाजी के लिए मशहूर सैनी ने दूसरी गेंद पर विकेट लिया और बाकी चारों गेंदें भी खाली गई।

जनक प्रकाश

जनक प्रकाश ने कतर के खिलाफ यह कारनामा किया था
जनक प्रकाश ने कतर के खिलाफ यह कारनामा किया था

सिंगापुर के लिए खेलते हुए जनक प्रकाश ने कतर के खिलाफ 2019 में मेडन ओवर डाला था। आईसीसी टी20 क्वालीफायर मैच में जनक प्रकाश ने यह उपलब्धि हासिल की थी। अंतिम गेंद पर कतर को एक लेग बाय का रन जरुर मिला लेकिन गेंदबाज ने इस ओवर में बल्ले से एक भी रन विपक्षी टीम को नहीं लेने दिया था।

मोहम्मद आमिर

मोहम्मद आमिर किसी परिचय के मोहताज नहीं
मोहम्मद आमिर किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2010 के टी20 वर्ल्ड कप के दौरान मोहम्मद आमिर ने यह उपलब्धि हासिल की थी। मोहम्मद आमिर उस समय काफी जवान भी थे। ख़ास बात यह रही कि इस ओवर में कोई रन नहीं बनने के अलावा पांच विकेट भी गिरे। आमिर ने चार विकेट झटके और एक बल्लेबाज रनआउट हुआ। हालांकि इस प्रदर्शन के बाद भी ऑस्ट्रेलिया ने मैच में पाकिस्तान को 34 रन से शिकस्त झेलने पर मजबूर कर दिया था।

Edited by Naveen Sharma

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...