Create

3 बल्लेबाज जो बेहतरीन बल्लेबाजी औसत होने के बावजूद अभी तक शतक नहीं लगा पाए हैं

Neeraj
क्रिकेट के हर फॉर्मेट में शतक बनाना हर खिलाड़ी के लिए एक बड़ी उपलब्धि मानी जाती है
क्रिकेट के हर फॉर्मेट में शतक बनाना हर खिलाड़ी के लिए एक बड़ी उपलब्धि मानी जाती है

क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में शतक बनाना हर एक बल्लेबाज के लिए एक बेहतरीन एहसास होता है। जब भी कोई बल्लेबाज बीच मैदान पर तीन अंकों के आंकड़ों को पार करने के बाद हवा में बल्ला ऊपर उठाता है तो उस समय की ख़ुशी का अंदाज़ा लगा पाना बेहद मुश्किल है। क्रिकेट के इस खेल में अभी तक कई बल्लेबाजों ने शतक बनाते हुए इस कारनामे को किया है।

लेकिन सबसे ज्यादा बार शतक बनाकर बल्ले को हवा में लहराने का सौभाग्य भारत के पूर्व महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को मिला था। तेंदुलकर ने अपने क्रिकेट अंतरराष्ट्रीय करियर में कुल 100 शतक जड़े थे जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। क्रिकेट के सभी प्रारूपों में शतक बनाने के लिए अलग-अलग गति के साथ रन बनाने की जरुरत होती है। जो बल्लेबाज इस चीज़ को अच्छे से समझ लेता है वही खिलाड़ी अपने करियर के दौरान सेंचुरी बना पाता है। इस आर्टिकल में हम उन 3 बल्लेबाजों की बात करेंगे जो क्रिकेट के अलग-अलग प्रारूपों में अच्छी बल्लेबाजी औसत होने के बावजूद शतक बना पाने में असफल रहे हैं।

3 बल्लेबाज जो बेहतरीन बल्लेबाजी औसत होने के बावजूद अभी तक शतक नहीं लगा पाए हैं

#3 निरोशन डिकवेला (टेस्ट)

निरोशन डिकवेला (image - Espn)
निरोशन डिकवेला (image - Espn)

श्रीलंकाई विकेटकीपर बल्लेबाज निरोशन डिकवेला अपने टेस्ट करियर में 49 मुकाबले खेल चुके हैं और इस दौरान उन्होंने 32.52 की औसत से 2602 रन बनाये हैं। जिसमें बीस अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। वनडे करियर में दो शतक जड़ने वाले डिकवेला टेस्ट में अभी तक एक बार भी 100 रनों के आंकड़े को पार नहीं कर पाए हैं। हालाँकि दो बार 28 वर्षीय ये बल्लेबाज 90 रनों के स्कोर पार करने में सफल जरुर रहा लेकिन अपनी इस पारी को शतक में तबदील करने में असफल रहे। डिकवेला का टेस्ट में उच्चतम स्कोर 96 रन है जो उन्होंने वेस्टइंडीज के विरुद्ध 2021 में खेलते हुए बनाया था।

#2 सैम करन (प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में शतक बनाना अभी बाकी है)

सैम करन (image - Espn)
सैम करन (image - Espn)

24 वर्षीय युवा ऑलराउंडर सैम करन स्ट्रेस फ्रैक्चर इंजरी के चलते आईपीएल 2022 में नहीं खेल पाए थे। इस दौरान करन ने सरे के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में कुछ बेहतरीन पारियां जरूर खेलीं। घरेलू क्रिकेट में बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को अलग-अलग पोजीशन पर बल्लेबाजी करने का मौका मिलता रहा है। जिसके चलते करन घरेलू क्रिकेट में अभी तक शतक लगा पाने में सफल नहीं हो पाए हैं। 78 फर्स्ट क्लास मैचों में करन का सर्वाधिक स्कोर 96 रन रहा है।

वहीं इनके अंतरराष्ट्रीय करियर की बात करें तो एकदिवसीय करियर में बाएं हाथ के हाथ के बल्लेबाज ने 11 मैचों में 28.20 के औसत से 141 रन बनाये हैं। जिसमें उनका उच्चतम स्कोर 95* रन रहा है जो उन्होंने 2021 में भारत के विरुद्ध बनाया था। इसमें कोई शक नहीं है कि करन एक बेहतरीन बल्लेबाज हैं और सही समय आने पर वो किसी मैच में शतक बनाने में जरूर कामयाब होंगे।

#1 रविंद्र जडेजा (वनडे)

रविंद्र जडेजा (image - Espn)
रविंद्र जडेजा (image - Espn)

रविंद्र जडेजा पिछले कुछ सालों से भारत के लिए तीनों प्रारूपों में मुख्य ऑलराउंडर की भूमिका में खेल रहे हैं। करीब तीन सालों से इस खिलाड़ी ने तीनों प्रारूपों में अच्छी औसत से रन भी बनाये हैं और इस दौरान अपने टेस्ट करियर में जडेजा दो शतक जड़ने में भी सफल रहे। लेकिन वनडे फॉर्मेट 168 मैच खेलते हुए जडेजा अभी तक शतक नहीं लगा पाए हैं। अपने एकदिवसीय करियर में उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए 32.58 की औसत से 2411 रन बनाये हैं, जिसमें 13 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं और वनडे में उनका उच्चतम स्कोर 87 रन रहा है, जो 2014 में जडेजा ने इंग्लैंड के खिलाफ बनाया था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment