Create
Notifications

3 प्रमुख कारण जो आईपीएल 2022 क्वालीफ़ायर 2 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की हार की वजह बने

आरसीबी एक बार फिर खिताबी जीत से चूक गई
आरसीबी एक बार फिर खिताबी जीत से चूक गई
Neeraj

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 (IPL 2022) का क्वालीफायर- 2 मुकाबला रॉयल चैलेजर्स बैंगलोर (RCB) और राजस्थान रॉयल्स (RR) के बीच खेला गया था। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए इस रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने आरसीबी को सात विकेट से हराते हुए फाइनल में प्रवेश किया, जहाँ उनका सामना 29 मई को गुजरात टाइटंस (Gujrat Titans) के साथ होगा।

इस अहम मुकाबले में बैंगलोर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 158 रन बनाये थे। इस लक्ष्य को आरआर ने जोस बटलर (106*) की शानदार शतकीय पारी की बदौलत 18.1 ओवर में ही हासिल कर लिया। इस तरह आरसीबी का आईपीएल ट्रॉफी जीतने का सपना एक बार फिर टूट गया। इस आर्टिकल में हम उन 3 प्रमुख कारणों का जिक्र करेंगे जिनकी वजह से आरसीबी को क्वालीफायर- 2 मैच में हार का सामना करना पड़ा।

3 प्रमुख कारण जो आईपीएल 2022 क्वालीफ़ायर 2 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की हार की वजह बने

#3 कोहली, डू प्लेसी और मैक्सवेल तीनों का सस्ते में आउट होना

पाटीदार के अलावा इस मुकाबले में आरसीबी का दूसरा कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया
पाटीदार के अलावा इस मुकाबले में आरसीबी का दूसरा कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया

आरसीबी आईपीएल के 15वें सत्र की सबसे मजबूत टीमों में से एक रही थी। इस टीम के बल्लेबाजी क्रम में विराट कोहली, फाफ डू प्लेसी और ग्लेन मैक्सवेल जैसे अनुभवी खिलाड़ी मौजूद थे। जिनके अनुभव का फ़ायदा इनके साथ खेलने वाले युवा खिलाड़ियों को भी मिलने वाला था। लेकिन क्वालीफायर 2 मुकाबले में ये तीन दिग्गज खिलाड़ी सस्ते में अपना विकेट खो कर चलते बने।

इस बड़े मुकाबले में विराट ने सिर्फ सात रनों का योगदान दिया तो वहीं टीम के कप्तान डू प्लेसी भी 27 गेंद पर 92.59 की औसत से सिर्फ 25 रन बना पाए। इनकी इस धीमी पारी के चलते सारा दबाव रजत पाटीदार पर आ गया। डू प्लेसी के आउट होने के बाद ग्लेन मैक्सवेल से आरसीबी फैंस को काफी उम्मीदें थीं और उन्होंने अपनी पारी के दौरान कुछ अच्छे शॉट्स भी खेले। लेकिन 13 गेंद पर 24 रन बनाकर मैक्सवेल भी ट्रेंट बोल्ट को अपना विकेट दे बैठे। इन तीन दिग्गज बल्लेबाजों में से कोई एक भी बल्लेबाज अगर आखिरी 20 ओवरों तक बल्लेबाजी करने में सफल रहता तो शायद मैच का नतीजा कुछ और हो सकता था।

#2 नियमित अंतराल पर विकेट खोना

आरआर की ओर से उनके सभी गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की
आरआर की ओर से उनके सभी गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की

इस मुकाबले में संजू सैमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया था। जिसको उनके गेंदबाजों ने बिल्कुल सही साबित भी किया। आरआर की ओर से प्रसिद्ध कृष्णा और ओबेड मैकॉय ने सधी हुई गेंदबाजी करते हुए तीन-तीन विकेट अपने नाम किये। बैंगलोर की पारी के शुरुआत में ही कोहली दूसरे ओवर के दौरान अपना विकेट गंवा बैठे थे। उसके बाद पाटीदार और डू प्लेसी ने पारी को संभालते हुए 70 रनों की साझेदारी की। लेकिन मैकॉय ने डू प्लेसी को 11वें ओवर में अश्विन के हाथों कैच आउट करवा कर अपनी टीम को एक अहम विकेट दिलवाया।

मैक्सवेल भी 14वें ओवर में 24 रन के निजी स्कोर पर टीम को बीच मझदार में छोड़ कर पवेलियन लौट गए। मैक्सवेल के आउट होने के बाद मैच राजस्थान को पलड़ा भारी लगने लगा और 44 रन के अंदर बैंगलोर ने छह विकेट गंवाए। नियमित अंतराल पर विकेट गिरने की वजह से आरसीबी एक बड़ा टारगेट खड़ा करने में असफल रही।

#1 जोस बटलर की शानदार बल्लेबाजी

इस सीजन में बटलर अब तक चार शतक लगा चुके हैं
इस सीजन में बटलर अब तक चार शतक लगा चुके हैं

इंग्लैंड के विस्फोटक बल्लेबाज जोस बटलर इस सत्र में शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। हालाँकि लीग मैचों के दूसरे चरण में ये बल्लेबाज बड़ी पारियां खेलने में असमर्थ रहा। लेकिन बटलर ने गुजरात टाइटंस के खिलाफ क्वालीफायर 1 मैच में 89 रनों की एक शानदार पारी खेली थी, और फॉर्म में होने का संकेत दिए। अपनी इसी फॉर्म को जारी रखते हुए दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने बैंगलोर के विरुद्ध 106* रनों की शतकीय पारी खेलते हुए। इस सीजन का अपना चौथा शतक जड़ा।

अपनी इस पारी के दौरान उन्होंने बैंगलोर के किसी भी गेंदबाज को सेट होने का कोई मौका नहीं दिया। इस शतकीय पारी में बटलर ने 60 गेंद का सामना करते हुए दस चौके और छह छक्के जड़े थे। बटलर की इस शानदार पारी की वजह से राजस्थान ने आसानी से मुकाबले को अपने नाम करते हुए अपनी जगह आईपीएल 2022 के फाइनल में पक्की कर ली।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...