Create
Notifications

3 प्रमुख खिलाड़ी जो बिजी शेड्यूल के कारण आगामी समय में किसी एक फॉर्मेट से संन्यास ले सकते हैं 

ये खिलाड़ी व्यस्त कार्यक्रम की वजह से खुद को एक फॉर्मेट से दूर कर सकते हैं
ये खिलाड़ी व्यस्त कार्यक्रम की वजह से खुद को एक फॉर्मेट से दूर कर सकते हैं
reaction-emoji
Ayushman Chaudhary

पिछले कुछ समय में सभी प्रारूपों के बढ़ते स्तर को देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा कि खिलाड़ियों के लिए आज के समय में हर प्रारूप में अपना बेस्ट दे पाना आसान नहीं हैं। कई ऐसे दिग्गज खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने एक या दो फॉर्मेट में खुद को स्थापित रख पाने के लिए किसी न किसी प्रारूप से समय से पहले ही संन्यास ले लिया था। इसका सबसे बड़ा उदाहरण पूर्व भारतीय पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी (MS Dhoni) हैं। धोनी ने टेस्ट को पहले अलविदा कह दिया था और उसके कई सालों तक सफ़ेद गेंद की क्रिकेट खेलते रहे।

अभी हाल ही में इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान बेन स्टोक्स ने वनडे से यह कहकर संन्यास ले लिया कि वो इस प्रारूप में अपना 100 प्रतिशत नहीं दे पा रहे हैं। लगातार व्यस्त कार्यक्रम से खिलाड़ियों के ऊपर दबाव भी लगातार बढ़ रहा है। कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं जो आगामी समय में किसी एक फॉर्मेट को अलविदा कह सकते हैं।

3 प्रमुख खिलाड़ी जो बिजी शेड्यूल के कारण आगामी समय में किसी एक फॉर्मेट से संन्यास ले सकते हैं

#3 ट्रेंट बोल्ट

ट्रेंट बोल्ट लगातार तीनों प्रारूप खेल रहे हैं
ट्रेंट बोल्ट लगातार तीनों प्रारूप खेल रहे हैं

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट लगभग 10 साल से सभी प्रारूपों में अपनी टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और लगातार उनकी गेंदबाजी भी समय के साथ बेहतर हो रही है। बोल्ट तीनों प्रारूपों में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

ट्रेंट बोल्ट की बढ़ती उम्र उन्हें टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने में मजबूर कर सकती है। बोल्ट 33 साल के हो चुके हैं, बढ़ती उम्र के साथ लंबे प्रारूप में निरंतरता बनाए रखना मुश्किल हो सकता है। ऐसे में आने वाले समय में यह गेंदबाज लाल गेंद की क्रिकेट को अलविदा कह दे तो आश्चर्य नहीं होना चाहिए।

#2 केन विलियमसन

टी20 क्रिकेट छोड़ने पर विचार कर सकते हैं केन विलियम्सन
टी20 क्रिकेट छोड़ने पर विचार कर सकते हैं केन विलियम्सन

न्यूजीलैंड के मौजूदा कप्तान और विश्व क्रिकेट के 'फैब फोर' में शामिल बल्लेबाज केन विलियमसन पिछले कुछ महीनों से कोहनी की चोट के चलते अपने बल्लेबाजी में वो प्रदर्शन नही कर पाए हैं जिसके लिए वो जाने जाते हैं। केन विलियमसन का खेलने का तरीका एकदिवसीय और टेस्ट क्रिकेट के लिए बेहतर है। छोटे प्रारूप में उनका एप्रोच पिछले कुछ समय से सवालों के घेरे में भी रहा है।

ऐसे में अपनी फिटनेस और फॉर्म को ध्यान में रखते हुए दिग्गज छोटे प्रारूप को अलविदा कह सकता है, ताकि व्यस्त शेड्यूल में खुद की फिटनेस को मैनेज करने का वक़्त मिले।

#1 विराट कोहली

इंग्लैंड के खिलाफ मैच के दौरान आउट होकर पवेलियन जाते विराट कोहली
इंग्लैंड के खिलाफ मैच के दौरान आउट होकर पवेलियन जाते विराट कोहली

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और पिछले दशक के ICC क्रिकेटर ऑफ द डिकेड चुने जाने वाले महान बल्लेबाज विराट कोहली पिछले कुछ सालों से अपनी खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। एक वक्त तीनों प्रारूपों में अपने बल्ले से दुनिया में राज करने वाले विराट कोहली वनडे और टेस्ट में सही लग रहे हैं लेकिन छोटे प्रारूप में उनकी बल्लेबाजी सवालों के घेरे में है।

रोहित शर्मा के बाद भारत की तरफ से टी20 में सबसे ज्यादा रन के मामले में दूसरे पायदान पर और दुनिया के सभी बल्लेबाजों में तीसरे पायदान पर मौजूद विराट कोहली में अभी भी बहुत क्रिकेट बाकी है। आगामी समय में खुद के करियर को लम्बा करने के लिए विराट छोटे प्रारूप को अलविदा कह सकते हैं। पिछले कुछ समय से उन्होंने लगातार ब्रेक लिया है, जो दर्शाता है कि उनके लिए अब लगातार खेलना थोड़ा मुश्किल हो रहा है।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...