Create

4 कप्तान जिन्होंने टेस्ट मैच की चौथी पारी में सर्वाधिक स्कोर बनाया 

चौथी पारी में बल्लेबाजी काफी मुश्किल मानी जाती है
चौथी पारी में बल्लेबाजी काफी मुश्किल मानी जाती है
reaction-emoji
Prashant Kumar

टेस्ट को क्रिकेट के खेल में सबसे मुश्किल फॉर्मेट माना जाता है। किसी भी खिलाड़ी के लिए अपने देश के लिए टेस्ट फॉर्मेट खेलना एक बहुत बड़ा सपना होता है। हर खिलाड़ी जानता है कि टेस्ट अपने नाम के अनुरूप में किसी भी खिलाड़ी के लिए टेस्ट की तरह ही होता है, जहां खिलाड़ी की तकनीक और धैर्य की असली परीक्षा होती है। वैसे तो इस फॉर्मेट में हर पारी मुश्किल मानी जाती है लेकिन चौथी पारी को सबसे ज्यादा मुश्किल माना जाता है क्योंकि इस पारी तक पिच बल्लेबाजी के लिए काफी मुश्किल हो जाती है।

ऐसे में क्रिकेट के इस सबसे लंबे फॉर्मेट में चौथी पारी में खेलना बिल्कुल भी आसान नहीं होता है। बल्लेबाजी में किसी भी टीम के एक कप्तान के ऊपर दबाव के साथ ही काफी बड़ी जिम्मेदारी होती है, जहां कई कप्तान जरूरत के वक्त बिखर जाते हैं, लेकिन कई ऐसे कप्तान भी हुए हैं जो टीम की जरूरत के वक्त दबाव की स्थिति में निखरकर आये हैं। इन कप्तानों ने अपनी टीम के लिए चौथी पारी में बेहतरीन बल्लेबाजी की और सर्वाधिक स्कोर बनाने वाली लिस्ट में शुमार हुए। आज हम आपक इस आर्टिकल ऐसे ही 4 कप्तानों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्होंने अपनी टीम के लिए चौथी पारी में बल्लेबाजी करते हुए सर्वाधिक स्कोर बनाया।

4 कप्तान जिन्होंने टेस्ट मैच की चौथी पारी में सर्वाधिक स्कोर बनाया

#4 173* - डॉन ब्रैडमैन (ऑस्ट्रेलिया) बनाम इंग्लैंड, लीड्स (1948)

सर डॉन ब्रैडमैन का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है
सर डॉन ब्रैडमैन का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है

क्रिकेट जगत के सबसे महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन की बात ही कुछ और थी। टेस्ट क्रिकेट में 99.96 का जबरदस्त औसत रखने वाले ब्रैडमैन ने अपने पूरे करियर में रनों का अंबार लगाया। ब्रैडमैन जितने भी समय खेले बहुत ही जबरदस्त रहे। उन्होंने बतौर कप्तान कई बड़ी पारियां खेली हैं। ब्रैडमैन ने साल 1948 में इंग्लैंड के खिलाफ लीड्स में खेले गए टेस्ट मैच की चौथी पारी में नाबाद 173 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया को जीत दिलायी थी। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को 404 रनों का लक्ष्य मिला था, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने ब्रैडमैन के 173 और आर्थर मॉरिस के 182 रन की मदद से हासिल कर इतिहास रच दिया था।

#3 176 - बेवन कोंगडोन (न्यूजीलैंड) बनाम इंग्लैंड, नॉटिंघम (1973)

बेवन कोंगडोन की बेहतरीन पारी के बावजूद उनकी टीम हार गई थी
बेवन कोंगडोन की बेहतरीन पारी के बावजूद उनकी टीम हार गई थी

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान बेवन कोंगडोन एक बेहतरीन ऑलराउंडर थे। टेस्ट प्रारूप में उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। साल 1973 में इंग्लैंड के दौरे पर कप्तानी करते हुए नॉटिंघम टेस्ट मैच में बेवन कोंगडोन ने चौथी पारी में इंग्लैंड द्वारा दिए गए 479 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए 176 रन की बेहतरीन पारी खेलते हुए कप्तान के तौर पर एक उदहारण सेट किया। हालांकि उनकी यह पारी टीम को जीत नहीं दिला पाई और न्यूजीलैंड ने 38 रन से मैच गंवा दिया।

#2 185* - माइक एथर्टन (इंग्लैंड) बनाम दक्षिण अफ्रीका, जोहानसबर्ग (1995)

माइक एथर्टन
माइक एथर्टन

इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व कप्तान माइकल एथर्टन का भी शानदार करियर रहा। इंग्लैंड के लिए कुछ वक्त उन्होंने कप्तानी भी की। बतौर कप्तान एथर्टन ने बल्लेबाजी में बढ़िया प्रदर्शन किया था। साल 1995 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर एथर्टन ने चौथी पारी में एक यादगार पारी खेली थी। जोहानसबर्ग में खेले गए इस मैच में इंग्लैंड को 479 रन का लक्ष्य मिला था। इंग्लैंड के लिए कप्तान एथर्टन ने चौथी पारी में एक छोर से टिककर 492 गेंदों में 185 रन की नाबाद पारी खेल अपनी टीम को मैच बचाने में मदद की।

#1 196 - बाबर आजम (पाकिस्तान) बनाम ऑस्ट्रेलिया, कराची (2022)

बाबर आजम
बाबर आजम

पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम स्टार बल्लेबाज के रूप में पहचान बना चुके हैं। आजम अपने प्रदर्शन से लगातार प्रभावित कर रहे हैं और उनकी गिनती मौजूदा समय के टॉप बल्लेबाजों में होती है। पाकिस्तान के दौरे पर आयी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कराची में खेले गए टेस्ट मैच में बाबर ने कमाल की बल्लेबाजी की थी। आजम ने इस टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया के द्वारा दिए गए 506 रन के टारगेट के बाद चौथी पारी में पाकिस्तान के लिए ढाल बन कर बल्लेबाजी की थी। पाकिस्तानी कप्तान ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और 196 रन की लाजवाब पारी खेली थी।

ये टेस्ट क्रिकेट इतिहास में बतौर कप्तान चौथी पारी में सबसे बड़ा स्कोर है। बाबर आजम और अन्य बल्लेबाजों की मदद से पाकिस्तान ने 443/7 का स्कोर बनाकर ऑस्ट्रेलिया को जीत से वंचित कर दिया था।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...