4 उपलब्धियां जो भारत ने एमएस धोनी की कप्तानी में नहीं, विराट कोहली की कप्तानी में हासिल की  

महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली 
महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली 

दिसंबर 2014 में एमएस धोनी ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के मध्य में टेस्ट से संन्यास की घोषणा कर सभी को चौंका दिया था। इसके बाद विराट कोहली को भारत का फुल टाइम टेस्ट कप्तान बनाया गया और टीम ने विराट की कप्तानी में कुछ खास उपलब्धियां हासिल की। विराट ने उस सीरीज के पहले मैच में भारत की कप्तानी की थी जब धोनी चोट की वजह से नहीं खेले थे लेकिन उन्हें 2015 में पूरी तरह से कप्तानी की संभाली।

धोनी ने टेस्ट की कप्तानी छोड़ने की बाद कई वर्षों तक भारत की वनडे और टी20 टीम की कप्तानी की। जनवरी 2017 में कोहली को तीनों ही प्रारूपों की कप्तानी मिल गई। एमएस धोनी को भारत के सबसे सफल कप्तानों में एक माना जाता है और उन्होंने इस बात को साबित भी किया है। इसके बावजूद कुछ ऐसी उपलब्धियां हैं, जिन्हें टीम इंडिया धोनी की कप्तानी में नहीं हासिल कर पाए।

यह भी पढ़े: 5 खिलाड़ी जो दो विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम की प्लेइंग XI का हिस्सा थे

आइये नजर डालते हैं उन 4 उपलब्धियों पर जिन्हें टीम इंडिया ने धोनी के बजाय विराट की कप्तानी में हासिल की हैं:

#1 ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतना

टीम इंडिया 
टीम इंडिया

ऑस्ट्रेलिया का क्रिकेट दौरा भारत के लिए हमेशा से ही एक कठिन चुनौती रहा है। भारत ने 2018-19 की सीरीज से पहले वहां 11 टेस्ट सीरीज खेल चुका था लेकिन एक भी सीरीज जीत में कामयाब नहीं हुआ। वैसे तो विराट से पहले किसी ने भी वहां टेस्ट सीरीज नहीं जीती और यही बात कप्तान धोनी के दौरान भी हुयी। धोनी की कप्तानी में टीम ने दो बार दौरा किया। 2011-12 सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने भारत का पूरी तरीके से सफाया कर दिया था। इसके बाद 2014-15 में भी 0-2 से भारत को टेस्ट सीरीज में हार मिली थी।

विराट कोहली की कप्तानी में 2018-19 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम ने इतिहास रचते हुए 2-1 से सीरीज अपने नाम की। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट श्रृंखला में ऑस्ट्रेलिया को हराने वाली पहली भारतीय और एशियाई टीम बनकर 71 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा।

#2 दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज जीतना

भारतीय वनडे टीम 
भारतीय वनडे टीम

भारत ने दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट श्रृंखला में उन्हें कभी नहीं हराया। 2018 से पहले भारत ने दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज भी कभी नहीं जीती थी।

यहां तक कि एमएस धोनी की अगुवाई वाली भारतीय टीम भी दो बार नाकाम रही। 2011 में टीम 3-2 से सीरीज हारी थी, वही 2013 में वो 3 मैचों की सीरीज में मात्र एक मैच भी नहीं जीत पाए थे। । 2018 में विराट की कप्तानी में भारत ने दक्षिण अफ्रीका में भारतीय टीम को अपनी कप्तानी में वनडे सीरीज जितवाई। भारत ने 5-1 से वनडे सीरीज अपने नाम की।

#3 न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज जीतना

भारतीय टी20 टीम 
भारतीय टी20 टीम

अगर भारत के टी20 रिकॉर्ड कोई कमी थी तो वह न्यूजीलैंड के खिलाफ उनका रिकॉर्ड था। लगभग एक दशक तक भारत ने टी20 में कीवी टीम को नहीं हराया था। भारत 2016 टी20 विश्व कप के दौरान भी न्यूजीलैंड के के खिलाफ नहीं जीत पाया था लेकिन 2017 में विराट की कप्तानी में अपने रिकॉर्ड में सुधार किया।

नवंबर 2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टी20 मैच आशीष नेहरा का आखिरी मैच था और टीम ने मैच जीतकर नेहरा को एक यादगार विदाई दी। दूसरे टी20 में टीम को हार मिली लेकिन तीसरे मैच में न्यूजीलैंड को हराकर भारत ने उनके खिलाफ पहली टी20 सीरीज जीती। इसके बाद इस साल की शुरुआत में विराट ने न्यूजीलैंड को उन्हीं के घर में 5-0 से टी20 सीरीज में पराजित किया।

#4 श्रीलंका में टेस्ट सीरीज जीत

भारतीय टेस्ट टीम 
भारतीय टेस्ट टीम

भारत और श्रीलंका ने एक दूसरे के खिलाफ काफी क्रिकेट खेली है। वास्तव में, उन्होंने लगभग हर साल कम से कम एक गेम (किसी भी प्रारूप में) खेला है। जबकि भारत का श्रीलंका के खिलाफ अच्छा रिकॉर्ड है, लेकिन उन्होंने 23 साल तक श्रीलंका में टेस्ट श्रृंखला नहीं जीती।

एमएस धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज को 1-1 से ड्रॉ करवाया था। भारतीय टीम ने विराट की कप्तानी में 2017 के दौरे पर श्रीलंका में बेहतरीन प्रदर्शन किया और 3-0 से टेस्ट सीरीज अपने नाम की।

Quick Links

App download animated image Get the free App now