Create

4 विदेशी खिलाड़ी जो अपनी IPL की सफलता को टी20 अंतर्राष्ट्रीय में नहीं दोहरा पाए

मिचेल मैकलेनेघन और शॉन मार्श
मिचेल मैकलेनेघन और शॉन मार्श
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) ने दुनिया भर के क्रिकेट खिलाड़ियों को इस लीग में अपना हुनर दिखाने का सुनहरा मौका दिया है। इंडियन प्रीमियर लीग के माध्यम से बहुत से खिलाड़ियों का अपने देश के लिए खेलने का सपना भी पूरा हुआ और कुछ खिलाड़ियों को दोबारा उनके आईपीएल प्रदर्शन के आधार पर टीम में चुना गया।

भारतीय खिलाड़ियों के साथ-साथ आईपीएल में विदेशी खिलाड़ियों का भी इस लीग को सफल बनाने के पीछे बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान रहा है। लसिथ मलिंगा, शेन वॉर्न, एडम गिलक्रिस्ट, वॉर्नर जैसे दिग्गजों ने अपने प्रदर्शन से विदेशी खिलाड़ियों की अहमियत को काफी ज्यादा बढ़ाया है। आईपीएल के माध्यम से विदेशी खिलाड़ियों को भारतीय परिस्थितियों का बेहतर अनुभव हुआ और यह अनुभव उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी काम आता है।

यह भी पढ़ें: 3 बल्लेबाज जिन्होंने IPL में एक ही टीम के खिलाफ 2 शतक लगाए हैं

कुछ विदेशी खिलाड़ी ऐसे रहे, जिन्होंने आईपीएल प्रदर्शन के आधार पर अपनी राष्ट्रीय टीम में जगह पक्की कर ली। वहीं कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे, जिन्होंने आईपीएल में सफलता हासिल की लेकिन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर फ्लॉप साबित हुए। इस आर्टिकल में हम ऐसे ही 4 विदेशी खिलाड़ियों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्होंने आईपीएल में अच्छा किया लेकिन टी20 अंतर्राष्ट्रीय में असफल साबित हुए।

4 विदेशी खिलाड़ी जो अपनी IPL की सफलता को टी20 अंतर्राष्ट्रीय में नहीं दोहरा पाए

#4 ड्वेन स्मिथ

ड्वेन स्मिथ
ड्वेन स्मिथ

वेस्टइंडीज के ड्वेन स्मिथ आईपीएल में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स जैसी बड़ी टीमों का हिस्सा रहे और इनके लिए बल्ले के साथ तथा जरूरत पड़ने पर गेंद से भी योगदान दिया है। आईपीएल में इनकी विष्फोटक बल्लेबाजी का जौहर सभी ने देखा और इनके रिकॉर्ड भी शानदार हैं। आईपीएल में स्मिथ ने 89 पारियों में 28.39 की औसत और 135.2 के स्ट्राइक रेट से 2385 रन बनाए हैं। हालांकि आईपीएल के अलावा जब बात अंतर्राष्ट्रीय टी20 की आती है तो स्मिथ वहां अपना यह प्रदर्शन नहीं दोहरा पाए स्मिथ ने वेस्टइंडीज के लिए 32 मैचों में मात्र 582 रन बनाये हैं।

#3 क्रिस लिन

क्रिस लिन
क्रिस लिन

आईपीएल में 2012 से खेलने वाले ऑस्ट्रेलिया के विष्फोटक बल्लेबाज क्रिस लिन को इस लीग में असली पहचान 2014 में कोलकाता नाइट राइड्स की तरफ से खेलते हुए मिली। लिन को केकेआर की टीम में शुरुआती दो सीजन में ज्यादा मौके नहीं मिले लेकिन 2017 से लेकर 2019 तीन सीजन इनका प्रदर्शन बेहतरीन रहा। लिन के नाम 42 आईपीएल पारियों में, ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज ने 34.08 के औसत और 140.63 के स्ट्राइक रेट से 1329 रन बनाए हैं। हालांकि यह बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के लिए टी20 में औसत रहा। उन्होंने 16 पारियों में ऑस्ट्रेलिया के लिए 19.40 की औसत से केवल 291 रन बनाए। इस आईपीएल में लिन मुंबई इंडियंस का हिस्सा हैं।

#2 शॉन मार्श

शॉन मार्श
शॉन मार्श

आईपीएल के पहले सीजन में टूर्नामेंट सर्वाधिक रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया के युवा शॉन मार्श ने सभी को हैरान कर दिया था। दिग्गजों से सजे उस सीजन में पंजाब किंग्स (किंग्स XI पंजाब) के लिए पूरे टूर्नामेंट में जबरदस्त बल्लेबाजी की थी। 2008 के सीज़न के पहले चार मैचों को में ना खेलने के बावजूद, उन्होंने 11 मैचों में 68.44 की बेहतरीन औसत और 139.68 की शानदार स्ट्राइक रेट से 616 रन बनाए थे। आईपीएल में इस बल्लेबाज के नाम 69 पारियों में 39.95 के औसत से 2477 रन दर्ज हैना और इस दौरान उन्होंने 20 अर्धशतक और एक शतक भी लगाया है।

हालांकि ऑस्ट्रेलिया के लिए मार्श का प्रदर्शन काफी साधारण रहा। 15 टी20 मैचों में मार्श ने 19 से भी कम की औसत से 255 रन बनाये और उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए अपना आखिरी टी20 2016 में खेला था। अब उनको शायद ही दोबारा इस प्रारूप में अंतररष्ट्रीय स्तर पर खेलने का मौका मिले।

#1 मिचेल मैक्लेनेघन

मिचेल मैक्लेनेघन
मिचेल मैक्लेनेघन

आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए मिचेल मैक्लेनेघन का योगदान बहुत ही शानदार रहा। वह इस टीम के 2015 से लेकर 2020 तक साथ थे और इस सीजन के पहले टीम ने उन्हें रिलीज कर दिया। मैक्लेनेघन ने मुंबई के लिए 56 आईपीएल खेलों में 25.39 की औसत से 71 विकेट लिए हैं। अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए 2012 से 2018 के बीच केवल 29 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले मैक्लेनेघनने मात्र 30 विकेट लिए और वह न्यूजीलैंड के लिए इस प्रारूप में उतने सफल नहीं हुए।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...