5 बल्लेबाज जिन्होंने टेस्ट मैचों में टीम की हार में सबसे ज्यादा शतक लगाए 

विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर 
विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर 

प्रत्येक क्रिकेट खिलाड़ी क्रिकेट के असली प्रारूप टेस्ट क्रिकेट में शतक बनाना चाहता है और अगर वह शतक टीम की जीत में काम आए तो और भी खास बन जाता है। हालांकि कुछ बल्लेबाज ऐसे भी हैं जिन्होंने शतक तो लगाया मगर वह अपनी टीम को हार से नहीं बचा पाए।

यह भी पढ़े: 4 बदलाव जो तीसरे टी20 मैच के लिए भारतीय टीम में हो सकते हैं

2014 में भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली ने एडिलेड टेस्ट की दोनों पारियों में शतक लगाया था लेकिन भारत को उस मैच में हार का सामना करना पड़ा था।

आइए नजर डालते हैं उन पांच टेस्ट खिलाड़ियों पर जिन्होंने टीम की हार में सबसे ज्यादा शतक बनाये हैं:

#5 विराट कोहली (7 शतक)

विराट कोहली
विराट कोहली

विराट कोहली को इस सूची में देख कर भले ही आप हैरत में पड़ गए होंगे, लेकिन यह विदेशी दौरों पर टीम इंडिया के बाकी बल्लेबाज़ों के लचर प्रदर्शन को बयां करता है। ऑस्ट्रेलिया के पिछले दौरे को छोड़ दें तो, कोहली को बाकी बल्लेबाजों से अच्छा साथ नहीं मिला है और इसकी वजह से उनके अच्छे से अच्छे शतक बेकार गए हैं।

2014 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एडिलेड टेस्ट में विराट कोहली ने दोनों पारियों में शानदार शतक लगाया था लेकिन उनके दोनों शतक टीम को हार से नहीं बचा सके थे। विराट ने 22 मैचों में भारत की हार में कुल 7 टेस्ट शतक लगाए हैं।

इसके अलावा उनके साथ पांचवे नम्बर पर 3 और बल्लेबाज भी शामिल हैं। इसमें पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज यूनिस खान, भारत के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन और ज़िम्बाब्वे के एंडी फ्लॉवर शामिल हैं। इन सभी ने अपनी-अपनी टीम की हार में 7-7 शतक लगाए हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#4 मोहम्मद यूसुफ (8 शतक)

मोहम्मद यूसुफ
मोहम्मद यूसुफ

पूर्व पाकिस्तानी बल्लेबाज मोहम्मद यूसुफ इस सूची में चौथे नम्बर पर काबिज हैं। उनके टीम में रहते हुए पाकिस्तान ने कुल 33 टेस्ट मैच गवाएं। इन टेस्ट मैचों में मोहम्मद यूसुफ ने 2393 रन बनाते हुए कुल 8 शतक जड़े। यूसुफ को अन्य बल्लेबाजों का साथ ना मिलने की वजह कई बार उनकी शतकीय पारी टीम की हार में बेकार चली जाती थी।

#3 शिवनरायन चंद्रपॉल (9 शतक)

शिवनरायन चंद्रपॉल
शिवनरायन चंद्रपॉल

इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज शिवनरायन चंद्रपॉल का नाम आता है। वेस्टइंडीज के लिए अपने 21 साल के करियर में 30 शतक लगाने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज चंद्रपॉल को अपने करियर के आखिरी कुछ सालों में लारा के सन्यांस के बाद किसी भी भरोसेमंद बल्लेबाज का साथ नहीं मिला। यही कारण है कि उनके द्वारा लगाए गए 30 में से 9 शतक टीम को हार से नहीं बचा सके।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#2 सचिन तेंदुलकर (11 शतक)

सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने भारत की तरफ से 200 टेस्ट मैचों में 51 शतक लगाए हैं। उनके टेस्ट करियर में भारत को टेस्ट मैचों में 56 बार हार का सामना करना पड़ा। इन मैचों में सचिन ने 11 शतक लगाए। राहुल द्रविड़, लक्ष्मण के आने से पहले वो भारत के विदेशी दौरों पर एकमात्र भरोसे बल्लेबाज हुआ करते थे।

#1 ब्रायन लारा (14 शतक)

ब्रायन लारा
ब्रायन लारा

वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा इस सूची में पहले नंबर पर हैं।उनके टेस्ट करियर में कई ऐसे मौके आए जब वो अकेले ही पूरी टीम के लिए संघर्ष करते रहे और किसी भी बल्लेबाज का उन्हें साथ नहीं मिला। लारा 63 टेस्ट मैचों में वेस्टइंडीज की हार का हिस्सा रहे। उन्होंने इन मैचों में 5316 रन बनाए, जिसमे 14 शतक भी शामिल हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now