Create

5 बड़े विवाद जो आईपीएल में देखने को मिले हैं

Enter caption

क्रिकेट की दुनिया की सबसे चकाचौंध और लोकप्रिय लीग आईपीएल का 12वां संस्करण 2019 में खेला जाएगा। दुनिया भर में क्रिकेट के सबसे बड़े आयोजनों में से एक इंडियन प्रीमियर लीग की अपनी अलग पहचान है। दुनिया पर के क्रिकेटर्स के लिए यह वो प्लेटफॉर्म है जहां से युवा से लेकर अनुभवी खिलाड़ी तक अपनी छाप छोड़कर देश की टीम अपनी जगह पक्की करने का रास्ता बनाते हैं।

बड़े आयोजनों के सामने चुनौती होती है कि उस आयोजन का सफर सुखद और सहज हो लेकिन जाने-अनजाने में ऐसे आयोजनों में कुछ ऐसे विवाद सामने आते हैं, जिससे उस आयोजन की साख पर बट्टा लग जाता है। आईपीएल यूं तो अपने चकाचौँध के लिए जाना जाता है लेकिन आईपीएल में कई बार ऐसा हुआ है जब क्रिकेट के इस प्रख्यात आयोजन की छवि दागदार हो गई। इस आयोजन के अतीत से कुछ पन्ने ऐसे जुड़े हैं कि उन्हें पलटने पर इस आयोजन का सफर खट्टा महसूस होता है।

आईपीएल इतिहास के पन्नों से जुड़े कुछ ऐसे किस्सों के बारे में जानिए जिसने सबको हिलाकर रख दिया था:

#1) जब एक दूसरे से भिड़ बैठे थे गंभीर-कोहली

क्रिकेट के मैदान पर बल्ले और गेंद के संवाद के अलावा कभी कभार खिलाड़ी निजी तौर पर भी आक्रामक संवाद करते नजर आ जाते है। क्रिकेट के मैदान पर बहस गहमागहमी और खिलाड़ियों की कहासुनी आम बात है। लेकिन यह दो अलग-अलग देश के खिलाड़ियों में आमतौर पर होता है लेकिन साल 2013 में क्रिकेट के मैदान पर आईपीएल के दौरान एक ही देश के दिग्गज खिलाड़ियों के बीच मैदान पर हुई कहासुनी ने सभी को चौंका दिया था। यह दो खिलाड़ी कोई और नहीं भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली और हाल ही में क्रिकेट को अलविदा कहने वाले गौतम गंभीर थे।

साल 2013 में हुए आईपीएल में जब यह लड़ाई हुई थी तो गौतम गंभीर केकेआर के कप्‍तान थे और आरसीबी की कमान विराट कोहली के हाथों में थी। कोलकाता की टीम गेंदबाजी कर रही थी इस दौरान कोहली उनकी गेंद पर आउट हो गए आउट होने के बाद कोहली जब पवेलियन की तरफ जा रहे थे, तभी किसी बात को लेकर गौतम गंभीर से कहासुनी हो गई। इस विवाद को पुरी दुनिया ने देखा हालांकि साथी खिलाड़ियों और अंपायर के बीच बचाव के बाद मामला शांत हो गया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

#2 शाहरुख खान का वानखेड़े स्टेडियम में जाने पर प्रतिबंध

ter

बॉलीवुड के किंग खान कहे जाने वाले शाहरुख खान आईपीएल में खेलने वाली टीम कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के मालिक हैं। आईपीएल के इतिहास में शाहरुख खान की भी छवि दागदार हुई। आईपीएल के मशहूर विवादों में से एक विवाद शाहरुख खान के नाम भी है। साल 2012 में शाहरुख खान उस समय विवादों में घिरते नजर आए जब उन पर मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम के सुरक्षाकर्मियों से झगड़ा करने का आरोप लगा।

कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस के बीच खेले जा रहे इस मैच में शाहरुख की छवि को दागदार करने वाला ये आरोप सामने आया। मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने आरोप लगाते हुए बताया कि शाहरुख खान शराब के नशे में वानखड़े स्टेडियम में आए और वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों से झगड़ा किया। शाहरुख पर लगे इस आरोप के बाद उन्हें वानखेड़े स्टेडियम में आने से प्रतिबंधित कर दिया गया। शाहरुख खान पर कुल 5 साल का प्रतिबंध लगा। हालांकि साल 2015 में उन्हें क्लीन चिट दे दी गई और उन पर लगा यह प्रतिबंध हटा लिया गया।

#3 श्रीसंत और हरभजन का स्लैप कांड

E

साल 2008 में आईपीएल में मैदान पर पलक झपकते ही एक ऐसी घटना घटी कि किसी कुछ कुछ समझ ही नहीं आया कि हुआ क्या है। आईपीएल के विवादों में से सबसे बड़े विवाद के तौर पर इस कांड को याद किया जाता है। आईपीएल के पहले सीजन में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेल रहे ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने किंग्स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को थप्पड़ जड़ दिया था। इस घटना के बाद मैदान पर श्रीसंत की रोते हुए कमैरे में कैद एक तस्वीर को दुनिया भर के लोगों ने देखा। इस घटना के बाद हरभजन सिंह को आईपीएल 2008 के सभी मैच खेलने पर रोक लगा दी गई।

इतना ही नहीं उनकी 100 फीसदी मैच फीस भी काट ली गई थी। इस विवाद का खामियाजा मुंबई के कोच लालचंद राजपूत को भी भुगतना पड़ा। उनकी भी 50 फीसदी मैच फीस इसलिए काट ली गई थी क्योंकि उन्होंने हरभजन को रोकने की कोशिश नहीं की थी। हालांकि बिग बॉस सीजन 12 में श्रीसंत ने इस घटना को लेकर कहा कि हरभजन सिंह ने थप्पड़ नहीं मारा था बस हाथ उठाया था।

#4 स्पॉट फिक्सिंग का विवाद

Enter caption

क्रिकेट को कलंकित करने की घटना का जिक्र जब भी होता होगा तो फिक्सिंग की घटना को सबसे ऊपर रखा जाता होगा। साल 2013 में आईपीएल में वो घटित हुआ जिसने ना सिर्फ क्रिकेट को कलंकित किया बल्कि आईपीएल की साख पर भी बट्टा लगा दिया। झकझोर देने वाला स्पॉट फिक्सिंग के इस विवाद में राजस्थान रॉयल्स के 3 खिलाड़ी फंसे। साल 2013 में तेज गेंदबाज एस श्रीसंत, स्पिनर अंकित चव्हाण और अजीत चंडीला पर स्पॉट फिक्सिंग का आरोप लगा।

इस आरोप के बाद इन तीनों खिलाड़ियों को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में भी लिया। शर्मसार करने वाले इस मामले पर बीसीसीआई ने सख्ती दिखात हुए इन तीनों खिलाड़ियों पर लाइफ बैन लगा दिया गया। बाद में कोर्ट ने इन्हें बरी किया लेकिन बैन अभी भी बरकरार है। बताया गया कि श्रीसंत ने सट्टेबाजों को इशारे के लिए तौलिए का इस्तेमाल किया औऱ अपने एक ओवर में जानबूझकर ज्यादा रन खर्चे।

#5 चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर बैन

Ente

आईपीएल में सबसे अधिक सफल रहने वाली टीम चेन्नई सुपर किंग्स का दामन भी दागदार रहा है। साल 2014 में आईपीएल की जांच कर रहे जस्टिस मुकुल मुदगल पैनल ने अपनी जांच रिपोर्ट जस्टिस लोढ़ा पैनल को अपनी रिपोर्ट सैंपी थी इस रिपोर्ट के मुताबिक चेन्नई सुपरकिंग्स के अधिकारी गुरुनाथ मयप्पन और राजस्थान रॉयल्स के मालिक राज कुंद्रा भी स्पॉट फिक्सिंग में संलिप्त पाए गए। जिसके बाद साल 2015 में चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स को 2 साल के लिए आईपीएल से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

प्रतिबंध की मार झेल रही इन दो टीमों को आईपीएल के 9वें और 10वें सीजन में खेलने का मौका नहीं मिला।इनकी जगह गुजरात लायंस और पुणे सुपरजायंट्स ने 9वें और 10वें सीजन में शामिल की गई। आईपीएल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था जब पूरी की पूरी टीम को प्रतिबंधित कर दिया गया था।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment