क्रिकेट इतिहास के 5 आंकड़े जो आपको हैरान कर देंगे

शेन वॉर्न और सचिन तेंदुलकर 
शेन वॉर्न और सचिन तेंदुलकर 

खेल के सभी प्रारूपों की तरह क्रिकेट भी एक ऐसा खेल है जिसमें सभी को सफलता और असफलता के दौर से गुजरना पड़ता है। अन्य खेलों की तुलना में क्रिकेट के खेल में रिकॉर्ड बनाने के ज्यादा अवसर होते हैं। क्रिकेट इतिहास में कई ऐसे जबरदस्त खिलाड़ी हुए हैं जिन्होंने अपने शानदार खेल से सभी को दीवाना बनाया।

विश्व कप के इतिहास में सबसे ज्यादा सफलतापूर्वक 300 से ज्यादा के लक्ष्य का पीछा करने का रिकॉर्ड आयरलैंड के नाम है, जो इस बात का एक स्पष्ट उदाहरण है कि क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है। क्रिकेट के खेल में कोई भी रिकॉर्ड बना सकता है तो वहीं कोई भी आपका रिकॉर्ड तोड़ भी सकता है। कुछ खिलाड़ियों ने व्यक्तिगत रूप से इतना शानदार प्रदर्शन किया हुआ है, जिसकी तारीफ पूरे क्रिकेट जगत में हुयी।

यह भी पढ़े: 5 सफल कोच जिन्होंने एक भी अंतर्राष्ट्रीय मैच नहीं खेला

आइये नजर डालते है कुछ ऐसे ही आंकड़ों पर जो आपको आश्चर्यचकित कर सकते हैं :

#1 वनडे क्रिकेट मैच के आखिरी ओवर में 6 या उससे कम रनों का दो बार सफलतापूर्वक बचाव करने वाले इकलौते गेंदबाज: सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर 
सचिन तेंदुलकर

टी20 प्रारूप के आने के बाद आज के बल्लेबाज अंतिम कुछ ओवरों में 10 से भी ज्यादा के रन रेट से रन बनाने की काबिलियत रखते हैं। विश्व कप 2019 का फ़ाइनल इसका एक बड़ा उदहारण है। आपको यह जानकर और भी आश्चर्य होगा कि सचिन तेंदुलकर इकलौते गेंदबाज हैं जिन्होंने वनडे क्रिकेट मैच के आखिरी ओवर में 6 या उससे कम रनों का दो बार सफलतापूर्वक बचाव किया है। सचिन तेंदुलकर ने यह कारनामा 1993 में हीरो कप के सेमीफाइनल में साउथ अफ्रीका के खिलाफ तथा 1996 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#2 सनथ जयसूर्या ने शेन वॉर्न की तुलना में वनडे में अधिक विकेट लिए हैं:

सनथ जयसूर्या
सनथ जयसूर्या

सनथ जयसूर्या अपने करियर के शुरूआती दिनों में गेंदबाजी ऑलराउंडर के रूप में जाने जाते थे। जयसूर्या ने अपने वनडे करियर में 323 विकेट चटकाए तो वहीं ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न ने अपने वनडे करियर में 293 विकेट अपने नाम किये। जो कि जयसूर्या के कुल वनडे विकेटों से 30 कम है।

#3 वसीम अकरम का टेस्ट प्रारूप में व्यक्तिगत उच्चतम स्कोर सचिन तेंदुलकर और जैक कैलिस से अधिक है:

वसीम अकरम
वसीम अकरम

सचिन तेंदुलकर और जैक कैलिस ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में सभी गेंदबाजों के सामने ढेरों रन बनाये हैं। दोनों ने अपने टेस्ट करियर में कई शानदार पारियां खेली हैं लेकिन दोनों ही बल्लेबाज टेस्ट में तिहरा शतक नहीं बना सके। दोनों का उच्चतम टेस्ट स्कोर क्रमश: कैलिस (224) और सचिन (248 *) है जो कि वसीम अकरम के उच्चतम टेस्ट स्कोर (257 *) से कम है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#4 क्रिस स्कॉट एकमात्र ऐसे ग्राउंड्समैन हैं जिन्हें मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला

क्रिस स्कॉट और मरे इरास्मस
क्रिस स्कॉट और मरे इरास्मस

क्रिकेट के खेल में मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड बल्लेबाज या गेंदबाज या फिर फील्डर को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए दिया जाता रहा है लेकिन क्या आपने सुना है कि कभी किसी ग्राउंड्समैन को यह अवॉर्ड दिया गया हो। 2000 में साउथ अफ्रीका और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट मैच के दौरान क्रिस स्कॉट को उनके मैदान में शानदार कार्य के लिए मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया था।

#5 सचिन ने वनडे में वॉर्न से ज्यादा बार 5 विकेट लिए हैं:

सचिन तेंदुलकर 
सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर वनडे क्रिकेट में दो बार पांच विकेट लेने का कारनामा कर चुके हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी तो वहीं टेस्ट क्रिकेट के दिग्गज गेंदबाज शेन वॉर्न ने वनडे में केवल एक ही बार पांच विकेट लिए हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now