Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

 टेस्ट मैच की चौथी पारी में दोहरा शतक लगाने वाले 5 खिलाड़ी

सुनील गावस्कर 
सुनील गावस्कर 
Prashant
ANALYST
Modified 16 Apr 2020, 20:19 IST
टॉप 5 / टॉप 10
Advertisement

टेस्ट क्रिकेट को क्रिकेट का सबसे कठिन प्रारूप माना जाता है। एक बल्लेबाज की असली परीक्षा टेस्ट मैच में होती है और खासकर चौथी पारी में बल्लेबाजी करना तो खासा मुश्किल हो जाता है। टेस्ट मैच की चौथी पारी में रन बनाने में बल्लेबाजों को काफी संघर्ष करना पड़ता है। 

28 बल्लेबाज ऐसे हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट की चौथी पारी में 1000 से ज्यादा रन बनाये हैं। इन बल्लेबाजों में पूर्व भारतीय बल्लेबाज सचिन का नाम भी है। सचिन ने टेस्ट की चौथी पारी में 3 शतक जड़े हैं मगर उनके नाम टेस्ट मैच की चौथी पारी में एक भी दोहरा शतक नहीं दर्ज है।

यह भी पढ़ें : आईपीएल 2015 में सबसे ज्यादा अर्धशतक लगाने वाले टॉप 5 बल्लेबाज

इस आर्टिकल के माध्यम से हम उन खिलाड़ियों के बारे में चर्चा करने जा रहे जिन्होंने टेस्ट मैच की चौथी पारी में दोहरा शतक बनाया है:

#5 गॉर्डन ग्रीनिज (वेस्टइंडीज बनाम इंग्लैंड 1984 में लॉर्ड्स में): 214 नाबाद

गॉर्डन ग्रीनिज
गॉर्डन ग्रीनिज

1983-84 में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच पांच मैचों की श्रृंखला में 1-0 से पीछे होने के बाद इंग्लैंड के कप्तान डेविड गोवर ने दूसरे टेस्ट के पांचवे दिन वेस्टइंडीज के लिए 78 ओवर में 342 रन का लक्ष्य दिया। पहली पारी में वेस्टइंडीज को 245 रन पर आउट आउट करने के बाद इंग्लैंड की टीम उम्मीद कर रही थी कि वो मैच जीतेंगे या फिर ड्रॉ जायेगा। हालाँकि क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है और यह बात सही साबित हुयी।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की तरफ से ओपनर गॉर्डन ग्रीनिज ने चौथी पारी में एक ऐतिहासिक पारी खेली वेस्टइंडीज को जीत दिलाई। ग्रीनिज ने टेस्ट की चौथी पारी में दोहरा शतक जमाया। अपनी 214 रनों की नाबाद पारी में उन्होंने 29 चौके और 2 छक्के लगाए। उनकी इस पारी की वजह से वेस्टइंडीज ने यह मैच 9 विकेट से जीता।

#4 विलियम एडरिच (इंग्लैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका डरबन में 1939): 219

विलियम एडरिच 
विलियम एडरिच 
Advertisement

विलियम एडरिच उन 18 खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 39000 से ज्यादा रन बनाये हैं। एडरिच की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट पारी इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच 1938-39 सीरीज के पांचवें मैच में आई थी। यह मैच डरबन के किंग्समीड में खेला गया था। यह वह समय था जब टीमें एक टेस्ट मैच तब खेलती थी जब तक उसका कोई नतीजा नहीं निकलता था। 

पहले बल्लेबाजी करते हुए साउथ अफ्रीका ने 530 रन बनाये और इंग्लैंड को पहली पारी में 316 रन पर ऑलआउट कर दिया था। इसके बाद इंग्लैंड को फॉलोआन दिए बिना दक्षिण अफ्रीका ने दूसरी बार बल्लेबाजी की और दूसरी पारी में 481 रनों पर पूरी टीम ढेर हो गयी। इंग्लैंड को जीत के लिए 696 रनों का लक्ष्य दिया।

सलामी बल्लेबाज के आउट होने के बाद बल्लेबाजी के लिए एडरिच टेस्ट इतिहास के दूसरा खिलाड़ी बन गए जिन्होंने चौथी पारी में दोहरा शतक बनाया। जब वह 219 रन बनाकर आउट हुए , तब इंग्लैंड ने बोर्ड पर 447-3 रन लगा दिए थे। बाद में दोनों कप्तानों की आपसी सहमति से मैच ड्रॉ कर दिया गया।

1 / 2 NEXT
Published 16 Apr 2020, 20:19 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit