Create
Notifications

सनराइजर्स हैदराबाद (2016) और डेक्कन चार्जर्स (2009) की टीमों में 5 समानताएं

सनराइजर्स हैदराबाद और डेक्कन चार्जर्स
सनराइजर्स हैदराबाद और डेक्कन चार्जर्स
मयंक मेहता
visit

आईपीएल (IPL) इतिहास में हैदराबाद की दो फ्रेंचाइजी रही है। 2008 से लेकर 2012 तक डेक्कन चार्जर्स और 2013 से लेकर सनराइजर्स हैदराबाद की टीम आईपीएल में खेल रही है। दोनों ही टीमें एक-एक बार आईपीएल का खिताब का जीत चुकी हैं।

यह भी पढ़ें: 2 टीमें जिनके खिलाफ युवराज सिंह ने 4 शतक लगाए हैं और 3 टीम जिनके खिलाफ उन्होंने एक भी शतक नहीं लगाया

डेक्कन चार्जर्स ने 2009 में दक्षिण अफ्रीका में हुए दूसरे आईपीएल को जीता था, तो सनराइजर्स हैदराबाद ने 2016 में आईपीएल के 9वें सीजन को जीता था। आपको बता दें कि सनराइजर्स हैदराबाद ने 29 मई 2016 को पहली बार IPL का खिताब जीता, तो डेक्कन चार्जर्स ने 24 मई 2009 को खिताब अपने नाम किया था।

हालांकि हैरान करने वाली बात यह है कि 2009 और 2016 में आईपीएल चैंपियन बनने वाली हैदराबाद की टीमों में बहुत से समानताएं हैं।

यह भी पढ़ें: IPL की ऑलटाइम फ्लॉप इलेवन पर एक नज़र

इस आर्टिकल में हम सनराइजर्स हैदराबाद और डेक्कन चार्जर्स की ऐसी ही 5 समानताओं के बारे में बात करेंगे:

1: फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के तीन खिलाड़ी

21

2016 आईपीएल के फ़ाइनल मुकाबले में सनराइजर्स हैदरबाद की टीम में ऑस्ट्रेलिया के 3 खिलाड़ी मौजूद थे। इसमें कप्तान डेविड वॉर्नर, बेन कटिंग और मोइसेस हेनरिक्स शामिल थे। दूसरी तरफ डेक्कन चार्जर्स में भी ऑस्ट्रेलिया के तीन खिलाड़ी मौजूद थे। इसमें कप्तान एडम गिलक्रिस्ट, एंड्रू साइमंड्स और रेयान हैरिस शामिल थे।

एंड्रू साइमंड्स और मोइसेस हेनरिक्स दोनों ऑस्ट्रेलिया में पैदा नहीं हुए थे। हेनरिक्स का जन्म पुर्तगाल में हुआ तो, साइमंड्स का जन्म इंग्लैंड में हुआ। इसके अलावा रेयान हैरिस और बेन कटिंग दोनों फ़ाइनल के टाइम पर 29 साल के थे।

यह भी पढ़ें: 4 टीमें जिनके खिलाफ रोहित शर्मा ने 5 से ज्यादा शतक लगाए हैं और 2 टीम जिनके खिलाफ उन्होंने एक भी शतक नहीं लगाया

2- पर्पल कप विनर

112

भुवनेश्वर कुमार ने 2016 में हुए आईपीएल में 23 विकेट हासिल किए, उन्होंने आरसीबी के युजवेंद्र चहल (21) को पीछे छोड़ा। 2009 में आरपी सिंह ने डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलते हुए 23 विकेट ही हासिल किए थे, उन्होने भी आरसीबी के गेंदबाज अनिल कुंबले (21) को पीछे छोड़ा था। दोनों भुवनेश्वर कुमार और आरपी सिंह उत्तर प्रदेश में पैदा हुए थे, और दोनों ही गेंदबाजों के इस सीजन से पहले एक समान विकेट थे।

3- डेक्कन चार्जर्स और सनराइजर्स हैदराबाद ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को ही हराया

12

सनराइजर्स हैदरबाद ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को बहुत ही कम अंतर से हराया था। यह मुक़ाबला वो अपनी मजबूत गेंदबाजी के कारण जीते थे। 2009 में भी डेक्कन चार्जेर्स ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को बहुत ही कम अंतर के रनों से हराया। इस बार भी आरसीबी की बल्लेबाज़ी अपनी लय खो बैठी।

4: दोनों टीमों के कोच ऑस्ट्रेलिया से थे

02

टॉम मूड़ी ने युवा और अनुभव के मिश्रण से एक अच्छी टीम बनाई। टीम में युवराज सिंह और आशीष नेहरा के रूप में अनुभवी खिलाड़ी मौजूद थे तो, मुस्तफिजुर रहमान, दीपक हूडा जैसे युवा खिलाड़ी भी थे। इस टीम की कमान कमान डेविड वॉर्नर ने संभाली।

2009 में भी एडम गिलक्रिस्ट ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर डैरेन लेहमन के साथ मिलकर डेक्कन चार्जर्स को अपना पहला टाइटल जिताया। मूड़ी और लेहमन दोनों ही ऊपरी क्रम में बल्लेबाज़ी किया करते थे और दोनों ने ही वनडे में 52 विकेट लिए थे।

5- रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे नंबर पर

1234

सनराइजर्स हैदराबाद के ओपनर डेविड वॉर्नर की कप्तानी में टीम ने अपना पहला आईपीएल खिताब जीता, तो 2009 में एडम गिलक्रिस्ट की कप्तानी में डेक्कन चार्जर्स ने भी खिताब जीता था।

दोनों खिलाड़ी सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे नंबर पर थे। दोनों की स्ट्राइक रेट भी लगभग बराबर ही थी। अगर इन दोनों मे और समानताएं देखी जाए तो, दोनों ने ही अपना पहला टेस्ट शतक अपने दूसरे मुक़ाबले में लगाया, वहीं दोनों ने ही अपने करियर का आगाज दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ही किया।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now