Create
Notifications

"मुझे नहीं लगता है कि पाकिस्तान को हाल-फिलहाल में आईसीसी इवेंट्स की मेजबानी मिलेगी"

कराची स्टेडियम
कराची स्टेडियम
SENIOR ANALYST

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) का मानना है कि पाकिस्तान को हाल-फिलहाल में आईसीसी के किसी भी इवेंट्स की मेजबानी मिलने के आसार काफी कम हैं। उनके मुताबिक पाकिस्तान को मेजबानी का मौका नहीं मिलेगा।

संयुक्त राज्य अमेरिका और पाकिस्तान उन 17 सदस्य देशों में से हैं, जिन्होंने व्यक्तिगत या संयुक्त रूप से 2024 से लेकर 2031 तक के एफटीपी चक्र में आईसीसी टूर्नामेंट्स की मेजबानी करने की इच्छा जाहिर की है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने 2025 और 2029 में अपने दम पर चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी करने की इच्छा जताई है। इसके अलावा बोर्ड 2026 और 2028 में टी20 विश्व कप और अन्य एशियाई देशों के सहयोग से 2027 और 2031 में 50 ओवरों के विश्व कप की मेजबानी करना चाहता है।

ये भी पढ़ें: "सेलेक्टर्स ने पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को इंग्लैंड दौरे पर भेजने से किया मना"

पाकिस्तान को आईसीसी इवेंट की मेजबानी मिलना मुश्किल है - आकाश चोपड़ा

हालांकि आकाश चोपड़ा का मानना है कि पाकिस्तान को आईसीसी इवेंट्स की मेजबानी मिलने के आसार काफी कम ही हैं। अपने यू-ट्यूब चैनल पर उन्होंने कहा,

पाकिस्तान ने कहा कि वो भी मेजबानी करना चाहते हैं। इसमें कोई गलत बात नहीं है लेकिन क्या ये वास्तव में होगा। मुझे तो नहीं लगता है कि इस समय पाकिस्तान किसी वर्ल्ड इवेंट का आयोजन कर पाएगा। वहां पर मैचों का आयोजन हो रहा है। पीएसएल के मैच खेले गए और इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीमें भी वहां जाने वाली हैं। अगर ऐसा हुआ तो पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी के लिए ये एक बहुत बड़ा कदम होगा। लेकिन इसके बावजूद मुझे लगता है कि वहां पर वर्ल्ड इवेंट का आयोजन नहीं होगा।

आकाश चोपड़ा के मुताबिक पाकिस्तान संयुक्त रूप से आईसीसी इवेंट्स की मेजबानी कर सकता है। ऐसे में उन्हें भारत और श्रीलंका को संयुक्त मेजबान बनाना होगा। क्योंकि ऐसा करने से आईसीसी के पास किसी भी स्थिति से निपटने के लिए बैकअप रहेगा।

ये भी पढ़ें: इंग्लैंड के कई खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बावजूद भारतीय टीम 20 दिनों के ब्रेक को बरकरार रखेगी

Edited by सावन गुप्ता
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now