एशेज सीरीज में बेन स्‍टोक्‍स की बल्‍लेबाजी पर पूर्व स्‍टार ऑलराउंडर ने जमकर निकाली भड़ास

बेन स्‍टोक्‍स एशेज सीरीज के शुरूआती दो टेस्‍ट में अच्‍छी पारी नहीं खेल सके हैं
बेन स्‍टोक्‍स एशेज सीरीज के शुरूआती दो टेस्‍ट में अच्‍छी पारी नहीं खेल सके हैं

ऑस्‍ट्रेलिया (Australia Cricket team) के पूर्व ऑलराउंडर शेन वॉटसन (Shane Watson) ने एशेज सीरीज (Ashes Series) में बेन स्‍टोक्‍स (Ben Stokes) की बल्‍लेबाजी पर भड़ास निकाली है। वॉटसन का मानना है कि बेन स्‍टोक्‍स ने अब तक बल्‍लेबाजी में इरादा नहीं दिखाया है। उन्‍होंने कहा कि स्‍टोक्‍स को अपना नेचुरल गेम खेलना चाहिए ताकि ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों पर हावी हो सकें।

स्‍टोक्‍स ने मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य की भलाई के लिए क्रिकेट से अनिश्चितकाल तक ब्रेक लिया था। उन्‍होंने एशेज सीरीज से अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में वापसी की। वह पहले टेस्‍ट में पूरी तरह लय में नहीं दिखे जबकि फील्डिंग करते समय उन पर चोट का खतरा भी मंडराया।

स्‍टोक्‍स का उनके स्‍तर के मुताबिक प्रदर्शन करना बचा है। उनका मौजूदा एशेज सीरीज में सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर 34 रन है और गेंदबाजी में वो केवल तीन विकेट ले सके हैं।

द टाइम्‍स के लिए अपने कॉलम में वॉटसन ने बेन स्‍टोक्‍स की बल्‍लेबाजी में निडरता को लेकर सवाल किया। 40 साल के वॉटसन का मानना है कि जब स्‍टोक्‍स अपनी लय में होते हैं तो उन्‍हें रोक पाना किसी के लिए भी आसान नहीं है।

वॉटसन ने लिखा, 'बेन स्‍टोक्‍स जिस तरह डिफेंसिव होकर खेल रहे हैं, उससे मैं हैरान हूं। मुझे गुस्‍सा आया। वो जिस तरह के व्‍यक्ति, खिलाड़ी हैं, सब चीजें उनके खिलाफ गई। जब वो अपने सर्वश्रेष्‍ठ अंदाज में होते हैं तो उनमें कोई डर नहीं होता। फिर चाहे परिस्थितियां जैसी भी हो, उन्‍हें फर्क नहीं पड़ता। उनकी शैली इतनी शानदार है कि यह मायने नहीं रखता कि वह तेज गेंदबाजों का सामना कर रहे हैं या स्पिनर्स का। गेंदबाजों को सही लेंथ पर गेंदबाजी करनी होगी, वरना स्‍टोक्‍स हर दिशा में शॉट घुमाना जानते हैं।'

2019 एशेज सीरीज में स्‍टोक्‍स इंग्‍लैंड के सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज थे। उन्‍होंने 55.12 की औसत से 441 रन बनाए थे। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने हेडिंग्‍ले में नाबाद 135 रन की मैच विजयी पारी खेली थी, जिसे फैंस लंबे समय तक नहीं भूलेंगे।

मेलबर्न की पिच पर तेज गेंदबाजों का होगा बोलबाला

ऑस्‍ट्रेलिया और इंग्‍लैंड के बीच एशेज सीरीज का तीसरा टेस्‍ट मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा। यह मैच बॉक्सिंग डे 26 दिसंबर से शुरू होगा। एमसीजी के पिच क्‍यूरेटर मैथ्‍यू पेज ने बताया कि तीसरे टेस्‍ट की पिच से किसे सबसे ज्‍यादा मदद मिलेगी।

पेज ने बताया कि उनकी टीम ने पिच पर बहुत घास छोड़ी है, जिससे तेज गेंदबाजों को काफी फायदा मिलेगा। स्‍काय स्‍पोर्ट्स से बातचीत में पेज ने कहा, 'पिछले चार सालों में हम बहुत आगे आ चुके हैं। हमारा ध्‍यान पिचों के गुण को सुधारने पर रहा। हमने पिच पर काफी घास छोड़ी है। पिच पर घास बहुत है तो तेज गेंदबाजों को मदद मिलना तय है।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel