Create

"भारत भले बदले की सोचे, पाकिस्‍तान पहले की बातें नहीं सोचता", - हेड कोच का बड़ा बयान

भारतीय टीम को टी20 वर्ल्‍ड कप में पाकिस्‍तान के हाथों 10 विकेट की करारी शिकस्‍त झेलने को मिली थी
भारतीय टीम को टी20 वर्ल्‍ड कप में पाकिस्‍तान के हाथों 10 विकेट की करारी शिकस्‍त झेलने को मिली थी
Vivek Goel

पाकिस्‍तान (Pakistan Cricket team) के हेड कोच सकलैन मुश्‍ताक (Saqlain Mushtaq) का मानना है कि एशिया कप 2022 (Asia Cup 2022) मुकाबले को लेकर भारतीय टीम (India Cricket team) के दिमाग में बदले की भावना हो सकती है। भारतीय टीम को पिछले साल टी20 वर्ल्‍ड कप (T20 World Cup) में पाकिस्‍तान के हाथों 10 विकेट की शिकस्‍त झेलनी पड़ी थी और इस हार के घाव आज भी ताजा हैं।

हालांकि, मुश्‍ताक का मानना है कि मजबूत भारतीय टीम के खिलाफ पाकिस्‍तान की टीम अपने मौके को लेकर ज्‍यादा उत्‍साहित या अतिआत्‍मविश्‍वासी नहीं हो रही है। 45 साल के मुश्‍ताक का मानना है कि नए मुकाबले में पिछले मैच की रणनीति कारगर साबित नहीं होती। यह सिर्फ प्रक्रिया मायने रखती है।

भारत-पाक मुकाबले से पहले स्‍पोर्ट्सकीड़ा से एक्‍सक्‍लूसिव बातचीत में सकलैन मुश्‍ताक ने कहा, 'आप निश्चित ही पहले के मुकाबले देखते हैं ताकि कुछ सकारात्‍मक निकले और समझ सके कि आप और बेहतर क्‍या कर सकते हैं। भारतीय टीम भले ही पिछले साल मिली हार का बदला लेने के बारे में सोचे। मगर जहां तक पाकिस्‍तान की बात है तो मेरा विचार है कि उन्‍हें पता है कि पुरानी बातों पर ध्‍यान नहीं दे सकते या ज्‍यादा उत्‍साहित हों। यह नया दिन है और नई चुनौती है, जो आगे आ रही है।'

सकलैन मुश्‍ताक का मानना है कि दोनों टीमों से कोई भी खिलाड़ी दबाव के आगे नहीं झुकेगा, जितना इस मुकाबले को लेकर बनाया जा रहा है। उनका मानना है कि अपने करियर के शुरूआती दिनों से इन खिलाड़‍ियों का इस तरह के मैच में नजर आना सपना रहा होगा।

पाक हेड कोच ने कहा, 'भारत बनाम पाकिस्‍तान जैसे बड़े मैच का दबाव आपको बचपन के दिनों से ही महसूस होने लगता है जब आप गली क्रिकेट या उम्र-ग्रुप क्रिकेट खेल रहे होते हैं। एक क्रिकेटर या कोच के रूप में आपका सपना होता है कि इस तरह के बड़े मैच का हिस्‍सा बने और निश्चित ही दोनों टीमों ने अच्‍छी तरह तैयारी की होगी। तो हम सभी मैच को लेकर उत्‍साहित हैं।'


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...