Create
Notifications

AUS vs IND: भारतीय टीम के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, मयंक अग्रवाल ने दिग्गजों को पछाड़ते हुए रचा इतिहास

भारत  vs ऑस्ट्रेलिया, पहला टेस्ट
भारत vs ऑस्ट्रेलिया, पहला टेस्ट
EXPERT COLUMNIST
Modified 19 Dec 2020
न्यूज़

ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट में मेजबान टीम ने भारतीय टीम को बुरी तरह से 10 विकेट से हरा दिया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 244 रन बनाए थे, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 191 रन बनाए थे। हालांकि भारतीय टीम अपनी दूसरी पारी में सिर्फ 36 रनों पर ढेर हो गई, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया को जीतने के लिए 90 रनों का लक्ष्य मिला।

ऑस्ट्रेलिया ने इस लक्ष्य को आसानी से 10 विकेट से जीतते हुए 4 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। दूसरी पारी में भारतीय बल्लेबाजी पूरी तरह से फ्लॉप रही, जोकि टीम की हार का मुख्य कारण भी रहा।

आइये नज़र डालते हैं पहले टेस्ट में बने प्रमुख आंकड़ों पर:

-) भारतीय टीम पहले टेस्ट की दूसरी पारी में सिर्फ 36 रनों पर ऑलआउट हो गई। टेस्ट क्रिकेट में यह भारत का सबसे कम स्कोर है, इससे पहले टीम 1974 में इंग्लैंड के खिलाफ 42 रनों पर ऑलआउट हुई थी।

-) भारतीय टीम द्वारा बनाया गया यह स्कोर (36) टेस्ट क्रिकेट इतिहास का छठा सबसे कम स्कोर है। न्यूजीलैंड टीम के नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम स्कोर का रिकॉर्ड दर्ज है।

-) भारतीय टीम को साल 2020 में अबतक खेले तीनों टेस्ट मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। भारत एक टेस्ट ऑस्ट्रेलिया और दो टेस्ट न्यूजीलैंड के खिलाफ हारी है।

-) टेस्ट क्रिकेट इतिहास का यह दूसरा ही मौका है जब एक टीम के सभी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर पाए। इससे पहले 1924 में इंग्लैंड के खिलाफ दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज भी यह कार्य नहीं कर पाए थे।

मयंक अग्रवाल
मयंक अग्रवाल

-) मयंक अग्रवाल ने टेस्ट क्रिकेट में अपने 1000 रन पूरे किए, उन्होंने इस कारनामे को करने के लिए 19 पारियां ली और वो सबसे तेज 1000 रन बनाने वाले भारतीय सलामी बल्लेबाज भी बने।

-) यह पहला मौका है जब भारतीय टीम विराट कोहली के टॉस जीतने के बाद कोई टेस्ट मैच हारी है। इससे पहले कोहली की कप्तानी में भारत ने 25 मैच खेले, जिसमें 21 जीते और 4 मैच ड्रॉ रहे थे।

-) विराट कोहली (19.33) का टेस्ट क्रिकेट में औसत के मामले में यह सबसे खराब साल रहा। इसके अलावा 2011 में टेस्ट डेब्यू के बाद पहली बार एक साल में टेस्ट क्रिकेट में शतक नहीं लगा पाए।

-) 2008 में अंतरराष्टीय क्रिकेट में डेब्यू के बाद यह पहला साल (वनडे, टेस्ट और टी20) रहा जब विराट कोहली के बल्ले से एक भी शतक नहीं आया।

-) डे-नाईट टेस्ट में यह दूसरा ही मौका है जब कोई टीम पहली पारी में पिछड़ने के बाद टेस्ट मैच जीती है। इससे पहले श्रीलंका ने 2018 में वेस्टइंडीज को ब्रिजटाउन टेस्ट में हराया था।

-) यह 35वां मौका है जब भारतीय टीम 2 से ज्यादा की टेस्ट मैचों की सीरीज पहला मैच हारी है। उनमें से 31 टेस्ट सीरीज भारतीय टीम हारी और तीन सीरीज ड्रॉ रही।

-) ऑस्ट्रेलिया ने अभी तक 8 डे-नाईट टेस्ट मैच खेले हैं और इनमें से सभी मुकाबलों में टीम को जीत मिली है। दूसरी तरफ भारत का यह दूसरा डे-नाईट टेस्ट है, जिसमें टीम को पहली बार हार मिली है।

Published 19 Dec 2020
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now