"इंग्लैंड की दबंग शैली के आगे टिक नहीं पाएगी ऑस्ट्रेलिया", एशेज से पहले जेम्स एंडरसन का तीखा बयान

New Zealand v England - 2nd Test: Day 3
James Anderson, England Cricket Team (Image - Getty)

टेस्ट क्रिकेट की दुनिया में सबसे लोकप्रिय सीरीज एशेज (The Ashes 2023) को माना जाता है, जो इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया (ENG vs AUS) के बीच में खेली जाती है। इस टेस्ट सीरीज का इंतजार सिर्फ इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के क्रिकेट फैन्स करते हैं। एक बार फिर एशेज का सीजन शुरू होने वाला है। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final 2023) में भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) की भिड़ंत के तुंरत बाद यानी 16 जून से इंग्लैंड में एशेज की शुरुआत हो रही है। ऐसे में हर बार की तरह इस बार भी सीरीज शुरू होने से पहले जुबानी जंग शुरू हो चुकी है। इंग्लैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (James Anderson) का मानना है कि इंग्लैंड की बेस्ट फॉर्म के सामने ऑस्ट्रेलियाई टीम टिक नहीं पाएगी।

कोई भी हमारी टीम का सामना नहीं कर सकता - जेम्स एंडरसन

जेम्स एंडरसन इस वक्त एक हल्के खिंचाव (चोट) से ऊबर रहे हैं, जो उन्हें समरसेट के खिलाफ लंकाशायर के काउंटी चैम्पियनशिप मैच के दौरान हुआ था। 40 वर्षीय एंडरसन को उम्मीद है कि वो 1 जून से लॉर्ड्स में आयरलैंड के खिलाफ होने वाले टेस्ट मैच तक पूरी तरह से फिट हो जाएंगे, लेकिन शायद वह उस मैच में नहीं खेलेंगे क्योंकि उन्हें 16 जून से एजबेस्टन में होने वाले टेस्ट मैच के लिए बचाए जाने की उम्मीद है।

अपनी 10वीं एशेज सीरीज खेलने जा रहे जेम्स एंडरसन ने कहा

"मुझे विश्वास है कि इंग्लैंड 2015 के बाद पहली बार ऑस्ट्रेलिया से बदला ले सकता है। खासतौर पर अगर हम अपने गेम की उस दबंग शैली को दोहराते हैं, जिसके जरिए हमने कप्तान बेन स्टोक्स और मुख्य कोच ब्रेंडन मैकलम के नेतृत्व में 12 में से 10 टेस्ट जीते हैं। अगर आप हमारी टीम को देखें, अगर हम उस मानसिकता और अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता के साथ खेलते हैं, तो मुझे नहीं लगता कि कोई भी हमारी टीम का सामना कर सकता है। तो हां, मुझे लगता है कि हम जीत सकते हैं।"

आपको बता दें कि इंग्लैंड ने पिछले कुछ समय से टेस्ट क्रिकेट में आक्रमक बल्लेबाजी करने का एक नया रूप अपनाया है। इस दबंग शैली में खेलने का उन्हें फायदा भी हुआ है। इंग्लैंड के आक्रमक टेस्ट क्रिकेट खेलने की शैली को बैजबॉल का नाम दिया गया है। एशेज में भी इंग्लैंड अपनी इसी शैली के साथ उतर सकता है।

इस बार की एशेज सीरीज में दोनों टीमों के कप्तानों को अपने तेज गेंदबाजों का इस्तेमाल बड़ी सावधानी से करना होगा। सिर्फ 6 हफ्ते में 5 टेस्ट मैच खेले जाने के बारे में बात करते हुए जेम्स एंडरसन ने कहा,

"5 में से 3 या 4 टेस्ट ज्यादा रियलिस्टिक होंगे। कप्तान बेन स्टोक्स को इस सीजन के लिए 8 तेज गेंदबाजों की जरूरत होगी। उनके पास आयरलैंड टेस्ट चुनने के लिए चार गेंदबाज होंगे।"

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now