Create

"चेतेश्वर पुजारा द्वारा रॉस टेलर का कैच ड्रॉप करना भारतीय टीम को काफी महंगा पड़ा"

Nitesh
रॉस टेलर
रॉस टेलर

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर ब्रैड हॉग ने बताया है कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final) के आखिरी दिन भारतीय टीम (Indian Cricket Team) की वो कौन सी सबसे बड़ी गलती थी जो उन्हें भारी पड़ गई। हॉग के मुताबिक खेल के आखिरी दिन रॉस टेलर (Ross Taylor) का कैच चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) द्वारा ड्रॉप करना भारतीय टीम को महंगा पड़ गया।

रिजर्व डे पर चेतेश्वर पुजारा पहली स्लिप में खड़े थे। उन्होंने 31वें ओवर में जसप्रीत बुमराह की गेंद पर रॉस टेलर का कैच टपका दिया था। जबकि जसप्रीत बुमराह ने भी एक कैच ड्रॉप किया था। यही वजह रही कि भारतीय टीम को 8 विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी।

ब्रैड हॉग का मानना है कि पुजारा द्वारा टेलर को ड्रॉप करना मैच का एक काफी अहम मोमेंट था। उस समय न्यूजीलैंड को जीत के लिए 55 रन और चाहिए थे और दोनों ही ओपनर पवेलियन लौट चुके थे। अगर टेलर भी आउट हो जाते तो निश्चित तौर पर कीवी टीम दबाव में आ जाती।

ये भी पढ़ें: नील वैगनर ने किया खुलासा, पुलिस वाले भी रोककर WTC मेस के साथ तस्वीर लेना चाह रहे थे

अगर रॉस टेलर का कैच पकड़ लिया जाता तो मैच का नतीजा कुछ और भी हो सकता था - ब्रैड हॉग

अपने यू-ट्यूब चैनल पर ब्रैड हॉग ने कहा "न्यूजीलैंड ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। भारत के पास शुरूआत में मौका था कि वो वापसी कर सकते थे और जीत हासिल कर सकते थे। चेतेश्रर पुजारा ने जब रॉस टेलर को ड्रॉप किया तब भी 55 रन चाहिए थे और ये काफी महंगा पड़ा। ये फाइनल का फाइनल डे था। दोनों ही टीमों पर दबाव था। कीवी टीम के पास उसके बाद हेनरी निकोल्स थे और बीजे वाटलिंग चोटिल थे। दबाव में मैच का नतीजा कुछ भी हो सकता था। टेलर के जाने के बाद विलियमसन भी गलत शॉट खेल सकते थे।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए वेस्टइंडीज वुमेंस टीम का ऐलान

Quick Links

Edited by Nitesh
Be the first one to comment