Create

"इंग्‍लैंड को एशेज सीरीज में सफल होना है तो बेन स्‍टोक्‍स को दम दिखाना होगा", पूर्व ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान का बयान

बेन स्‍टोक्‍स से एशेज सीरीज 2021 में बेहतर प्रदर्शन की उम्‍मीद है
बेन स्‍टोक्‍स से एशेज सीरीज 2021 में बेहतर प्रदर्शन की उम्‍मीद है

ऑस्‍ट्रेलिया (Australia Cricket team) के पूर्व कप्‍तान इयान चैपल (Ian Chappell) का मानना है कि आगामी एशेज (Ashes Series) में इंग्‍लैंड (England Cricket team) को अच्‍छा प्रदर्शन करना है तो ऑलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स (Ben Stokes) को अपने आप को स्‍थापित करना होगा। चैपल को साथ ही लगता है कि अगर इंग्‍लैंड पहले टेस्‍ट में प्रतिस्‍पर्धी प्रदर्शन नहीं कर पाया तो फिर ऑस्‍ट्रेलिया पूरी सीरीज में उस पर हावी रहेगी।

एशेज सीरीज का पहला टेस्‍ट 8 दिसंबर से ब्रिस्‍बेन में शुरू होगा। इस सीरीज के जरिये बेन स्‍टोक्‍स अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में वापसी करेंगे। उन्‍होंने मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य ब्रेक लिया था। वहीं ऑस्‍ट्रेलिया को पैट कमिंस के रूप में नया कप्‍तान मिला, जिन्‍होंने टिम पेन के इस्‍तीफे के बाद यह जिम्‍मेदारी अपनाई।

एशेज सीरीज के बारे में प्रीव्‍यू करते हुए चैपल ने अपने कॉलम में लिखा, 'ऐसा लगता है कि इंग्‍लैंड को बहुत जल्‍द गाबा में अपने आप को स्‍थापित करना होगा, वरना ऑस्‍ट्रेलियाई टीम पूरी तरह उन पर हावी होगी। इंग्‍लैंड के पास पहले टेस्‍ट में मौका होगा। पिच के बारे में ज्‍यादा कुछ पता नहीं है। बेन स्‍टोक्‍स पूर्ण ऑलराउंडर के रूप में वापसी कर रहे हैं। पैट कमिंस को कप्‍तानी के रूप में खुद को स्‍थापित करना होगा।'

कमिंस को कप्‍तान का सही विकल्‍प बताते हुए चैपल ने कहा, 'वो अब तक ऑस्‍ट्रेलिया के सबसे प्रेरणादायी क्रिकेटरों में से एक हैं। अगर कमिंस की लीडरशिप में किसी खिलाड़ी को प्रेरणा नहीं मिली तो वो गलत ग्रेड में खेल रहा है।'

चैपल के मुताबिक अगर स्‍टोक्‍स ने जल्‍दी खुद को साबित किया तो इंग्‍लैंड को फायदा मिलेगा। चैपल ने लिखा, 'अगर स्‍टोक्‍स ने खुद को ऑस्‍ट्रेलियाईयों के दिमाग में बैठाया, तो वह काफी सफल हो सकता है। भले ही इंग्‍लैंड पहला टेस्‍ट नहीं जीते, लेकिन उसे मैच में हावी रहने की जरूरत होगी। अगर ऑस्‍ट्रेलिया ने ब्रिस्‍बेन में अपना दम दिखाया तो फिर वह पूरी सीरीज में इंग्‍लैंड पर हावी रहेगा।'

2019 एशेज में स्‍टोक्‍स दूसरे सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज थे। उन्‍होंने 55.12 की औसत से 441 रन बनाए थे, जिसमें हेडिंग्‍ले की 135* रन की चमत्‍कारिक पारी शामिल है। ऑलराउंडर ने तब आठ विकेट भी लिए थे।

रूट और स्‍टोक्‍स की एशेज क्वालिटी के इंग्लिश खिलाड़ी हैं: चैपल

इंग्‍लैंड का टेस्‍ट बल्‍लेबाजी क्रम पिछले कुछ समय से चिंता का विषय बना हुआ है। चैपल सहमत है कि इंग्‍लैंड का कमजोर बल्‍लेबाजी क्रम ऑस्‍ट्रेलिया को एशेज में फायदा पहुंचाएगा।

चैपल ने लिखा, 'बल्‍लेबाजी की बात करें तो रूट और स्‍टोक्‍स ही इंग्लिश खिलाड़ी हैं, जो एशेज क्वालिटी के हैं। बाकी टीम को अपनी पहचान बनाने की जरूरत है। इंग्‍लैंड की बल्‍लेबाजी में बदलाव देखने को मिलेंगे और अगर ऐसा होता है तो ऑस्‍ट्रेलिया सीरीज जीत लेगा। ऑस्‍ट्रेलिया की बल्‍लेबाजी काफी स्‍थायी है और ब्रिस्‍बेन में दोनों टीमों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिलेगा।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment