Create

'मैं तीनों प्रारूपों में अपने आप को ऑलराउंडर बनते हुए देखना चाहता हूं'

हसन अली
हसन अली

पाकिस्‍तान के ऊर्जावान तेज गेंदबाज हसन अली क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में शीर्ष ऑलराउंडर बनना चाहे हैं जैसे उनके पहले वसीम अकरम, अब्‍दुल रज्‍जाक और अजहर महमूद थे।

हसन अली ने एक इंटरव्‍यू में कहा, 'मैं क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में अपने आप को ऑलराउंडर के रूप में देखना चाहता हूं और मैं नेट्स पर इसके लिए अतिरिक्‍त मेहनत कर रहा हूं। मैं वसीम अकरम, अब्‍दुल रज्‍जाक और अजहर महमूद से काफी प्रेरित हूं और अहम मौकों पर अपनी टीम के लिए योगदान देना चाहता हूं।'

हसन अली ने कहा कि वह बड़े शॉट खेलने के गुण में सुधार कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा, 'टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में मुझे अंतिम ओवरों में बल्‍लेबाजी का मौका मिलता है तो उस समय मेरे पास एकमात्र विकल्‍प होता है बड़े शॉट खेलना। मैं अभ्‍यास सत्र में बड़े शॉट खेलने पर सुधार कर रहा हूं। मैं सीख रहा हूं कि यॉर्कर, बाउंडर और धीमी गति की गेंदों पर ज्‍यादा से ज्‍यादा रन कैसे बनाना है।'

हसन अली ने इस साल की शुरूआत में राष्‍ट्रीय टीम में वापसी की। इससे पहले वह चोटों से जूझ रहे थे। वापसी के बाद अली ने गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया, लेकिन कुछ समय पर अपने बड़े-बड़े शॉट लगाने की क्षमता से भी पाकिस्‍तान की मदद की।

हसन अली इस समय वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टी20 इंटरनेशनल और टेस्‍ट सीरीज की तैयारी में जुटे हैं। हाल ही में उन्‍होंने इंग्‍लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में दूसरे वनडे में 51 रन देकर पांच विकेट झटके थे। इसके अलावा पाकिस्‍तान और इंग्‍लैंड के बीच आखिरी टी20 इंटरनेशनल मैच में उन्‍होंने अपनी गेंदबाजी से प्रभावित करते हुए 3.4 ओवर में 28 रन खर्च किए थे।

हसन ने कहा कि टी20 क्रिकेट विविधताओं के बारे में है और अच्‍छे गेंदबाज की पकड़ विभिन्‍न मिश्रण पर होती है।

हसन अली को अपनी बल्‍लेबाजी से भी है प्‍यार

हसन अली ने कहा, 'मैंने नेट्स पर विभिन्‍न गेंदों पर काम किया और वेस्‍टइंडीज के खिलाफ आगामी सीरीज में मेरा ध्‍यान बेहतर प्रदर्शन करने पर है। जब मैं मैदान पर उतरता हूं तो टीम के लिए अपना सबकुछ झोंकने पर विश्‍वास रखता हूं चाहे विकेट लेना हो या फिर बड़े शॉट लगाना।'

हसन अली ने इसके साथ ही बल्‍लेबाजी के प्रति अपना प्‍यार भी दर्शाया। उन्‍होंने कहा, 'मैं एक बल्‍लेबाज बनना चाहता हूं, जो निरंतर टीम के लिए योगदान दे।'

2019 विश्‍व कप के बाद चोटों ने हसन अली को 18 महीने तक अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से दूर रखा, लेकिन वापसी के बाद उन्‍होंने पांच बार एक पारी में पांच विकेट लेने का कमाल किया।

हसन अली की राष्‍ट्रीय टीम में वापसी तब हुई जब उन्‍होंने सिर्फ 61 गेंदों में सात छक्‍के और 10 चौके की मदद से 106* रन की पारी खेली थी। हसन अली की पारी की मदद से सेंट्रल पंजाब ने काएद-ऐ-आजम ट्रॉफी 2020-21 फाइनल में खाइबर पख्‍तूनख्‍वा के खिलाफ मुकाबला टाई कराया था।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment