Create

पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने बॉल टैंपरिंग मामले में कैमरन बैनक्रोफ्ट का किया समर्थन

ऑस्ट्रेलियाई टीम के तेज गेंदबाज
ऑस्ट्रेलियाई टीम के तेज गेंदबाज

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने बॉल टैंपरिंग मामले में कैमरन बैनक्रोफ्ट (Cameron Bancroft) के बयान का समर्थन किया है। उन्होंने इस बात को माना है कि 2018 के बॉल टैंपरिंग मामले की जानकारी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को भी थी।

हाल ही में कैमरन बैनक्रोफ्ट ने खुलासा किया था कि 2018 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ हुए टेस्ट मैच में बॉल टैंपरिंग की जानकारी टीम के गेंदबाजों को भी थी। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा था कि अगर इस मामले को लेकर किसी के पास ज्यादा जानकारी है तो फिर वो दोबारा जांच करा सकते हैं।

ये भी पढ़ें: "आरसीबी ने एक गेंदबाज के तौर पर वॉशिंगटन सुंदर का सही तरह से प्रयोग नहीं किया"

अपने यू-ट्यूब चैनल पर बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने कैमरन बैनक्रोफ्ट का समर्थन किया। उन्होंने कहा,

मैं वास्तव में कैमरन बैनक्रोफ्ट के साथ हूं। गेंदबाजों को निश्चित तौर पर पता रहा होगा। क्योंकि जब गेंद उनके हाथ में आई होगी तो उस पर नॉर्मल स्क्रैच नहीं रहा होगा और ये बात वो भी जानते होंगे। अगर गेंदबाज ये कहते हैं कि उन्हें नहीं पता था तो फिर वो झूठ बोल रहे हैं।

2018 में हुई थी बॉल टैंपरिंग की घटना

आपको बता दें कि 2018 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट मैच में कैमरन बैनक्रोफ्ट को ही सैंडपेपर से गेंद से छेड़छाड़ करते हुए पाया गया था। ये घटना कैमरे में कैद हो गई थी। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एक जांच कराई थी और उसमें पता चला था कि बैनक्रोफ्ट को टैंपरिंग करने के लिए डेविड वॉर्नर ने उकसाया था और ये बात कप्तान स्टीव स्मिथ को भी अच्छी तरह से पता थी। यही वजह रही कि डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ और कैमरन बैनक्रोफ्ट को सस्पेंड कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें: प्रमुख टी20 लीग के बचे हुए मुकाबले अबुधाबी में खेले जाएंगे, अहम अपडेट आया सामने

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment