Create
Notifications

आईसीसी ने ट्राई सीरीज की संभावना पर दिया बड़ा बयान

आईसीसी ने बताया कि अगली एफटीपी में ट्राई-सीरीज को फिट करना मुश्किल है
आईसीसी ने बताया कि अगली एफटीपी में ट्राई-सीरीज को फिट करना मुश्किल है
Vivek Goel

अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के प्रमुख कार्यकारी अधिकारी (CEO) ज्‍योफ एलार्डिस (Geoff Allardice) ने कहा कि व्‍यस्‍त फ्यूचर टूर प्रोग्राम के चलते देशों का ट्राई-सीरीज फिट करना मुश्किल है। एलार्डिस का बयान तब आया जब कई पूर्व व मौजूदा खिलाड़ी द्विपक्षीय सीरीज के आयोजन पर सवाल खड़े कर चुके हैं क्‍योंकि व्यस्त शेड्यूल के कारण नीरसता की भावना आ रही है।

भारतीय टीम के कप्‍तान रोहित शर्मा सहित कई लोग कह चुके हैं कि टूर्नामेंट में कई देशों के शिरकत करने से रोमांच बढ़ेगा और इससे दर्शकों का मनोरंजन भी होगा।

एलार्डिस ने कहा, 'चार देशों के बीच सीरीज कराने का कार्यक्रम उपलब्‍ध नहीं, लेकिन ट्राई-सीरीज आयोजित कराई जा सकती है। मगर इस समय ट्राई सीरीज का आयोजन भी मुश्किल है। इसका कारण एक देश में एक समय कई टीमों का उपलब्‍ध होना और व्‍यस्‍त क्रिकेट कार्यक्रम। एफटीपी में ट्राई सीरीज को फिट करना मुश्किल है क्‍योंकि यह सालों पहले आयोजित होती थी।'

इंग्‍लैंड के ऑलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स ने हाल ही में वनडे प्रारूप से संन्‍यास लेकर क्रिकेट जगत को हैरान कर दिया था। इसके बाद से वनडे क्रिकेट के अस्वित्‍व पर सवाल खड़े होने लगे थे। बेन स्‍टोक्‍स ने कहा कि व्‍यस्‍त क्रिकेट कार्यक्रम के चलते उनके लिए सभी प्रारूपों में खेलना मुश्किल है।

जोस बटलर और ऑस्‍ट्रेलिया के उस्‍मान ख्‍वाजा ने स्‍टोक्‍स का समर्थन करते हुए कहा कि क्रिकेट करियर के साथ पारिवारिक जिंदगी बिताना और फिर सभी प्रारूपों में खेलना संभव नहीं है।

वसीम अकरम और रवि शास्‍त्री जैसे दिग्‍गजों ने फ्रेंचाइजी लीग का समर्थन किया है। वहीं 50 ओवर प्रारूप और द्विपक्षीय सीरीज पर कई सवाल खड़े किए गए है। हालांकि, एलार्डिस ने सुनिश्चित किया कि नई एफटीपी साइकिल में वनडे कार्यक्रम में ज्‍यादा बदलाव नहीं है, जिसने 50 ओवर प्रारूप पर मंडरा रहे खतरे को टाल दिया है।

एलार्डिस ने कहा, 'अगले एफटीपी (2023-27) में बड़ी संख्‍या में वनडे खेले जाने हैं। आपको ज्‍यादा बदलाव देखने को नहीं मिलेंगे। जिस तरह वनडे क्रिकेट पर खतरा मंडरा रहा है, वैसी स्थिति है नहीं। '


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...