Create

अंपायरों द्वारा ऋषभ पंत के बल्‍लेबाजी स्‍टांस को बदलने पर भड़क गए पूर्व महान क्रिकेटर

ऋषभ पंत को तीसरे टेस्‍ट में स्‍टांस बदलने को कहा गया
ऋषभ पंत को तीसरे टेस्‍ट में स्‍टांस बदलने को कहा गया
Vivek Goel

भारत और इंग्‍लैंड (India vs England) के बीच हेडिंग्‍ले टेस्‍ट का नतीजा आ गया है। मेजबान टीम ने एक पारी और 76 रन से जीत दर्ज करके सीरीज 1-1 से बराबर कर दी है। अब सीरीज का चौथा टेस्‍ट 2 सितंबर से शुरू होगा।

महान बल्‍लेबाज सुनील गावस्‍कर (Sunil Gavaskar) इस बात से नाराज हैं कि इंग्लिश अंपायर्स ने आखिर क्‍यों क्रीज के बाहर खड़े ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के स्‍टांस को बदलने की बात कही। गावस्‍कर का मानना है कि नियम भी उन्‍हें ऐसा करने से नहीं रोकते हैं।

भारत और इंग्‍लैंड के बीच तीसरे टेस्‍ट के पहले दिन के खेल के बाद पंत ने खुलासा किया था कि अंपायर्स ने उन्‍हें बदलाव करने को कहा था।

भारतीय विकेटकीपर बल्‍लेबाज ने कहा था, 'चूंकि मैं क्रीज के बाहर खड़ा था और मेरा फ्रंट-फुट डेंजर एरिया में जा रहा था। तब अंपायर ने मुझे कहा कि आप वहां खड़े नहीं हो सकते।'

पंत ने आगे कहा था, 'इसलिए मैंने अपना स्‍टांस बदला। मगर क्रिकेटर के रूप में मुझे इस बारे में ज्‍यादा नहीं सोचना था। ऐसा सभी के साथ होता है। अंपायर्स भी वही बात कहते हैं। मैंने अगली गेंद पर वैसा नहीं किया और इससे आगे बढ़ गए।'

कमेंट्री करते समय गावस्‍कर ने जताई नाराजगी

सुनील गावस्‍कर को पंत के स्‍टांस बदलने से खुशी नहीं मिली और उन्‍होंने कहा कि फुटमार्क किसी बल्‍लेबाज का स्‍टांस नहीं निर्धारित कर सकते हैं।

गावस्‍कर ने कमेंट्री करते हुए कहा, 'मुझे समझ नहीं आ रहा कि पंत को स्‍टांस बदलने को क्‍यों कहा गया। अगर यह सच है। मैंने सिर्फ ये पढ़ा है। बल्‍लेबाज कही भी खड़ा हो सकता है। वो पिच के बीच में भी खड़े हो सकता है। जब वो स्पिनर्स की गेंद पर आगे बढ़कर शॉट खेलने जाएगा तब भी तो फुटमार्क बनेंगे।'

वहीं संजय मांजरेकर ने अंपायर के फैसले को बेहूदा करार दिया। बहरहाल, भारतीय टीम को तीसरे टेस्‍ट के चौथे दिन इंग्‍लैंड के हाथों एक पारी और 78 रन की शिकस्‍त झेलनी पड़ी। भारत की दूसरी पारी 278 रन पर ऑलआउट हुई।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...