Ind vs Aus: टी20 सीरीज के लिए भारत की सबसे मजबूत प्लेइंग इलेवन

रोहित शर्मा और शिखर धवन

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की आगामी अंतराष्ट्रीय टी20 श्रृंखला प्रशंसकों के बीच रुचि पैदा कर रही है। न केवल विश्व कप से पहले यह भारत की आखरी टी20 शृंखला होगी, बल्कि इस श्रृंखला में हमें कई नए युवा खिलाड़िओं को देखने का मौका भी मिलेगा। इस श्रृंखला में दो मुकाबले खेले जाएंगे, जिसमें पहला मुकाबला 24 फरवरी को विशाखापट्टनम में और दूसरा मुकाबला 27 फरवरी को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा।

भारतीय चयनकर्ताओं ने वनडे श्रृंखला के पहले कुछ मुख्य खिलाड़िओं को आराम देने का फैसला किया है, जिसके चलते कुछ नए खिलाड़िओं को मौका मिल सकता है, जिनमें पंजाब के लेग स्पिनर मयंक मारकंडे सबसे उल्लेखनीय हैं।

टी20 सीरीज़ के लिए भारत की टीम: विराट कोहली (C), रोहित शर्मा, शिखर धवन, एमएस धोनी, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, विजय शंकर, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, केएल राहुल, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, युजवेंद्र चहल, सिद्दार्थ कौल, मयंक मारकंडे।

यहां, आज हम इस बात पर एक नज़र डालते हैं कि आगामी श्रृंखला में ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए भारत की सबसे मजबूत प्लेइंग इलेवन क्या हो सकती है ।

सलामी बल्लेबाज़: रोहित शर्मा और शिखर धवन

शिखर और रोहित की जोड़ी

हाली के दिनों में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुछ चुनिंदा सलामी जोड़ियां ही रोहित शर्मा और शिखर धवन जितना प्रभावित रहीं हैं। यह दोनों बल्लेबाज़ मुकाबले की शुरुआत से ही खेल को विपक्षी टीम से दूर ले जाने में पूरी तरह सक्षम हैं। चाहे वह एक अच्छा स्कोर स्थापित करना हो या चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करना हो, शर्मा और धवन की विस्फोटक साझेदारी भारत के लिए महत्वपूर्ण बनी रहेगी।

मध्य क्रम: विराट कोहली, ऋषभ पंत और एमएस धोनी

महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली

कप्तान विराट कोहली टीम में वापस आ गए हैं और नंबर तीन के स्थान पर महत्वपूर्ण स्थिति की जिम्मेदारी संभालेंगे। वह सलामी बल्लेबाज़ों के साथ एक स्पष्ट शीर्ष क्रम बनाकर किसी भी टीम पर हावी हो सकते है।

युवा सनसनी ऋषभ पंत नंबर 4 पर फिट होते हैं। तत्काल प्रभाव से वह विपक्षी गेंदबाज़ी आक्रमण के सामने अपना पावर गेम दिखाने में सक्षम हैं, जिसके चलते टीम में उनकी जगह बननी लगभग तय है।

ऋषभ पंत की तड़क और भड़क पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बखूबी कॉम्प्लीमेंट करते हैं। अपने अनुभव के साथ वह मध्यक्रम की ज़िम्मेदारिआं निभाने में पूर्ण तरीके से सक्षम हैं जिसके चलते युवा बल्लेबाज़ अपनी स्वाभाविक गेम खेल सकते हैं।

ऑलराउंडर्स: हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या और विजय शंकर

पंड्या बंधू

हार्दिक पांड्या और विजय शंकर, जिन्हें नंबर छह और सात पर खिलाया जा सकता है, दो ऐसे भारतीय खिलाड़ी हैं जो क्रीज पर आते ही आग लगा सकते हैं। हाथ में गेंद और ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी करने की अपनी क्षमता के कारण, यह दोनों खिलाड़ी भारतीय टीम को बहुत ज़रूरी संतुलन देते हैं, और साथ ही में एक विश्वसनीय तेज़ गेंदबाज़ ऑलराउंडर जोड़ी का देश के लिए लम्बे समय तक खेलने की उम्मीद जताते हैं।

दूसरी ओर हार्दिक पंड्या के बड़े भाई क्रुणाल पंड्या अपनी बाएं हाथ की स्पिन गेंदबाज़ी के साथ अधिक उपयोगिता प्राप्त करते हैं। आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए उनके रिकॉर्ड ने उन्हें एक सहज और स्मार्ट क्रिकेटर का टैग प्राप्त कराया है। भारतीय पिचों पर नियमित रूप से विकेट चटकाने के साथ-साथ पांड्या लम्बे शॉट्स खेलने में भी माहिर हैं, जिसके चलते नंबर 8 पर उनसे अच्छा विकल्प मिलना मुश्किल है।

गेंदबाज: उमेश यादव, युजवेंद्र चहल और जसप्रीत बुमराह

चहल और बुमराह

उमेश यादव को भारत के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक के रूप में देखा गया है। दुर्भाग्य से, जैसा कि कई प्रशंसकों को पता होगा, यह भारतीय क्रिकेटर नियमित आधार पर खुद को टीम का हिस्सा बनाने में असफल रहे हैं। भुवनेश्वर कुमार को टी20 सीरीज़ के लिए आराम दिए जाने के साथ, अनुभवी गेंदबाज को एक बार फिर से टीम में मौका मिलेगा और वह निराश नहीं करना चाहेंगे।

अब जबकि कुलदीप यादव को आराम दिया गया है, लेग ब्रेक प्रतिभा, युजवेंद्र चहल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी टी20 श्रृंखला में भारत के लिए स्पिन-आक्रमण की अगुवाई करते हुए नज़र आएँगे।

भारत के तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह ज़रूरी ब्रेक के बाद टीम में वापस लौट रहे हैं। डेथ ओवरों में शिकंजा कसने और विकेट झटकने की अपनी काबिलियत के चलते बुमराह पिछले कुछ वर्षों से भारत के सबसे बड़े खिलाड़ी रहे हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Quick Links

App download animated image Get the free App now