Create

AUS v IND - ऑस्ट्रेलिया में भारत की 3 सबसे खास और यादगार टेस्ट जीत 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट जीतने के बाद जश्न मनाते हुए भारतीय खिलाड़ी 
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट जीतने के बाद जश्न मनाते हुए भारतीय खिलाड़ी 
Prashant Kumar

भारत (Indian Cricket Team) और ऑस्ट्रेलिया (Australia Cricket Team) के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज 17 दिसंबर से होने वाला है। टेस्ट सीरीज से पहले वनडे सीरीज में भारत को हार मिली थी, वहीँ टी20 सीरीज में भारत ने सीरीज जीती थी। आगामी टेस्ट सीरीज भारतीय टीम के लिए एक कठिन चुनौती होने वाली है। ऑस्ट्रेलिया की टीम इस बार पिछली बार से मजबूत नजर आ रही है और भारत को पहले टेस्ट के बाद कप्तान विराट कोहली की सेवाएं नहीं मिल पाएंगी। ऐसे में भारत के सामने विराट के बिना ही बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जीतने की कड़ी परीक्षा होगी।

ऑस्ट्रेलिया के घर में टेस्ट प्रारूप में भारत का प्रदर्शन काफी खराब रहा है। साल 2018-19 के दौरे को छोड़ दें तो ज्यादातर दौरे में भारत को सीरीज में हार का ही सामना करना पड़ा है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर 48 टेस्ट मैच खेले हैं और इस दौरान मात्र 7 टेस्ट मैच ही जीते हैं। इससे यह बात साबित होती है कि अपने घर में ऑस्ट्रेलिया ने किस तरह का दबदबा बना रखा है। हालाँकि भारत ने पिछले दौरे में 2-1 से टेस्ट सीरीज जीती थी और दौरे को यादगार बनाया था।

यह भी पढ़े: AUS v IND - ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले 3 भारतीय बल्लेबाज

ऑस्ट्रेलिया में भारत की 3 सबसे यादगार और खास टेस्ट जीत

#3 एडिलेड टेस्ट, 2003

राहुल द्रविड़ और अजीत अगरकर 
राहुल द्रविड़ और अजीत अगरकर

भारत की एडिलेड के मैदान में साल 2003 में दर्ज की गयी टेस्ट एक यादगार जीत है। इस टेस्ट जीत के साथ ही भारत ने 22 साल में ऑस्ट्रेलिया के घर में टेस्ट जीत हासिल की थी। ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 556 रन का स्कोर खड़ा कर खुद को मजबूत स्थिति में पहुँच दिया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया की पारी का मजबूती से जवाब दिया। राहुल द्रविड़ (233) और वीवीएस लक्ष्मण (148) की बदौलत भारत ने पहली पारी में 523 रन बनाये।

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज अजीत अगरकर की शानदार गेंदबाजी के आगे नहीं टिक पाए। अगरकर ने ऑस्ट्रेलिया के 6 विकेट लिए और पूरी टीम 196 पर ऑल आउट हो गयी। इस तरह ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी की बढ़त और दूसरी पारी के स्कोर को मिलकर भारत को 230 रन का टारगेट दिया। भारत की तरफ से राहुल द्रविड़ ने दूसरी पारी में 72 रन की पारी खेलते हुए भारत को यह मैच 4 विकेट से जीतने में मदद की।

#2 पर्थ टेस्ट, 2008

भारतीय टीम 
भारतीय टीम

भारतीय टीम के लिए साल 2008 में पर्थ में टेस्ट जीत कई मायनों में यादगार थी। इस टेस्ट से पहले सिडनी टेस्ट में भारत को खराब अंपायरिंग के कारण मैच हारना पड़ा और हरभजन सिंह तथा सायमंड्स के बीच मंकीगेट जैसी विवास्पद घटना भी हुयी थी। भारतीय बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से पर्थ टेस्ट में एक शानदार जीत दर्ज की थी। पहली पारी में राहुल द्रविड़ के 93 रन की बदौलत भारत ने 330 रन बनाये थे। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 212 रन पर ढेर हो गयी। भारत के लिए आरपी सिंह ने 4 विकेट लिए।

दूसरी पारी में भारत की टीम वीवीएस लक्ष्मण तथा अन्य बल्लेबाजी की उपयोगी पारियों की बदौलत 294 रन बनाकर आउट हो गयी। इस तरह भारत ने पहली पारी की बढ़त और दूसरी पारी के स्कोर को मिलाकर 413 रन का टारगेट रखा। दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया की टीम मात्र 340 रन ही बना पायी और भारत ने यह मैच 72 रन से जीत लिया। यह टेस्ट जीत भारत की सबसे शानदार जीतों में से एक हैं और इस टेस्ट जीत की यादें आज भी खिलाड़ियों और भारतीय दर्शकों के जेहन में ताजा हैं।

#3 मेलबर्न टेस्ट , 2018

भारतीय टीम 
भारतीय टीम

भारतीय टीम का साल 2018-19 का ऑस्ट्रेलिया दौरा भारतीय क्रिकेट इतिहास का सबसे कामयाब दौरा कहा जा सकता है। इस दौरे में भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीत का सपना पूरा किया। विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने यह इतिहास रचा था। उस दौरे के तीसरे टेस्ट से पहले दोनों ही टीम 1-1 टेस्ट मैच जीत चुकीं थी। मेलबर्न टेस्ट में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट 443 रन पर अपनी पारी घोषित कर दी। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों के सामने ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 151 रन पर ऑल आउट हो गयी।

पहली पारी के आधार पर भारत को 22 रनों की बढ़त हासिल हुयी। भारत ने दोबारा बल्लेबाजी करते हुए 106 रन बनाकर अपनी पारी घोषित कर दी। इसके बाद 399 रन के बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम दूसरी पारी में भी भारतीय गेंदबाजों का सामना नहीं कर पाई।ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 261 रन पर ऑल आउट हो गयी और भारत ने यह मैच 137 रन से जीत लिया।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...