Create
Notifications

आईपीएल 2019: प्रत्येक टीम से एक धुरंधर खिलाड़ी, जिन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जाना चाहिए

Eतकक
Ankit Pasbola
visit

इंडियन प्रीमियर लीग के रंग में पूरा देश सरोबार है। हर खेल प्रशंसक अपनी टीमो का समर्थन कर रहे हैं। शुरुआती दो हफ्तों के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स, किंग्स इलेवन पंजाब और सनराइजर्स हैदराबाद ने अच्छा खेल दिखाया है जबकि राजस्थान रॉयल्स, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फिस्सडी साबित हुए हैं।

इस संस्करण में एक विशेष प्रयोग भी देखने को मिला है कि कई टीमें तीन विदेशी खिलाड़ियों के साथ मैदान में उतरी। इस बार टीम में विदेशी खिलाड़ियों के बीच प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है। प्रत्येक टीम अपनी सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग इलेवन के लिये निरन्तर बदलाव कर रही है। कुछ टीमें अपनी सही टीम बनाने में सफल हुई है, जबकि कुछ टीमें सही सयोंजन अब भी तलाश रही है। अभी कुछ बड़े नाम ऐसे हैं जो बेंच पर ही बैठे हैं उन्हें आजमाया नहीं जा सका है। इनमें कुछ विदेशी खिलाड़ी हैं जबकि कुछ महंगे खिलाड़ी भी हैं।

अब हम बात करते हैं प्रत्येक टीम से एक खिलाड़ी को जिन्हें अब तक आजमाया नहीं गया है उन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जाना चाहिए:

#8 महिपाल लोमरोर ( राजस्थान रॉयल्स )

Eतहरकी

महिपाल लोमरोर ऋषभ पन्त और ईशान किशन के साथ अंडर-19 टीम खेलने वाले सदस्य थे। वह पिछले साल राजस्थान रॉयल्स की टीम से खेले थे।

महिपाल लोमरोर बायें हाथ के आक्रामक बल्लेबाज हैं जो मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते हैं। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उनका प्रदर्शन शानदार रहा था। उन्होंने 40 की औसत से 200 रन बनाए थे। राजस्थान की टीम का इस आईपीएल में प्रदर्शन कुछ खास नही रहा है। उन्होंने चार में से कुल एक मैच जीते हैं जबकि तीन मुकाबलों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। राजस्थान को लोमरोर को जरूर आजमाना चाहिए। वह बायें हाथ से उपयोगी गेंदबाजी भी करते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं.

#7 कॉलिन मुनरो ( दिल्ली कैपिटल्स )

Eसजई

दिल्ली कैपिटल्स ने आईपीएल में सही शुरुआत की थी लेकिन उसे बरकरार नही रख पाए हैं। दिल्ली ने अब तक पांच में से दो मैच जीते जबकि तीन मैच हारे और अंक तालिका में पांचवें स्थान पर है। दिल्ली की टीम ने कॉलिन मुनरो को अभी तक मौका नहीं दिया है।

न्यूज़ीलैंड के कॉलिन मुनरो आईपीएल में कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं लेकिन उनका अंतर्राष्ट्रीय करियर में अच्छे रिकॉर्ड हैं। अब तक मुनरो ने 52 टी20 में 33.60 की औसत और 162 के स्ट्राइक रेट से 1411 रन बनाए हैं। इस बीच उन्होंने तीन शतक व 9 अर्धशतक भी बनाये हैं। इसके अलावा मुनरो पार्ट टाइम गेंदबाजी भी कर सकते हैं।

#6 खलील अहमद ( सनराइजर्स हैदराबाद)

Enter

सनराइजर्स हैदराबाद में भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल, संदीप शर्मा और बेसिल थंपी जैसे तेज गेंदबाज है। इसके अलावा टीम में स्पिन गेंदबाज राशिद खान हैं। खलील अहमद को इस टीम में जगह बनाने में परेशानी होगी।

खलील अहमद को पिछले आईपीएल सीजन में भी अधिक मौका नहीं मिला था। उन्हें सिर्फ फाइनल मैच में मौका मिला जिसमें उन्होंने अपने तीन ओवरों में 38 रन खर्चे। उन्हें एक बायें हाथ के तेज गेंदबाज के रूप में टीम में चुना जा सकता है।

#5 करुण नायर ( किंग्स इलेवन पंजाब)

Enसज

करुण नायर बेहद प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं। वह टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाने वाले सिर्फ दूसरे भारतीय बल्लेबाज हैं। उन्होंने आईपीएल में दिल्ली की कप्तानी भी की है। अब तक के चार मैचों में पंजाब ने करुण नायर को मौका नहीं दिया है।

27 वर्षीय नायर ने दिल्ली कैपिटल्स के लिए साल 2017 में 21.61 के औसत से 281 रन और 2018 में पंजाब के लिए 25 की औसत से 301 रन बनाए थे।

#4 वाशिंगटन सुंदर ( रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर )

Enteसके

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की शुरूआत इस सीजन में सबसे खराब हुई है। उन्होंने अब तक अपने चारों मैच हारे हैं। कप्तान विराट कोहली का अपनी टीम में वाशिंगटन सुंदर को नहीं खिलाना चौकाने वाला फैसला रहा है।

चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ उद्धघाटन मैच में जब वाशिंगटन सुंदर को टीम में नहीं चुना गया तब उनके थिंक टैंक की काफी आलोचना हुई थी। लगातार चार मैचों में हार के बाद बैंगलोर की टीम में बड़े बदलाव की आशंका है।

#3 ईशान किशन ( मुंबई इंडियंस )

Entसके

ईशान किशन की हालिया फॉर्म बड़ी शानदार रही है। उन्होंने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में 55 की औसत और 151 के स्ट्राइक रेट से 333 रन बनाए थे।

मुंबई इंडियंस की टीम में युवराज सिंह और क्विन्टन डी कॉक की उपस्थिति के कारण वह जगह बनाने में नाकामयाब हुए हैं। उन्होंने पिछले सत्र में मुंबई के लिए 149 की स्ट्राइक रेट से 275 रन बनाए थे। उनके बारे में मुंबई का थिंक टैंक जरुर विचार कर रहा होगा।

#2 फॉफ डू प्लेसी ( चेन्नई सुपरकिंग्स )

Enteसज

पिछले सीजन में चेन्नई सुपरकिंग्स को चैंपियन बनाने में उनके सलामी बल्लेबाजों की महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। इस बार अम्बाती रायुडू और शेन वॉटसन ने निराश किया है। अब तक खेले चार मैचों में चेन्नई ने 3 मैच अपने नाम किये हैं। अब तक फॉफ डू प्लेसी को टीम ने बेंच पर ही रखा है। पिछले सीजन में डू प्लेसी की नाबाद 67 रनों की पारी के बदौलत ही चेन्नई फाइनल में पहुँचने में कामयाब हुई थी।

#1 कार्लोस ब्रेथवेट ( कोलकाता नाइट राइडर्स)

Enteदजु

कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए आंद्रे रसेल ने अच्छा प्रदर्शन किया है। उनके हमवतन कार्लोस ब्रेथवेट को अब तक मौका नहीं मिला है। दिनेश कार्तिक की कप्तानी में कोलकाता नाइट राइडर्स ने 2 मैच जीते हैं जबकि उन्हें 1 मैच में हार का सामना करना पड़ा है।

अगर कोलकाता में विदेशी खिलाड़ियों की बात की जाय तो क्रिस लिन अब तक रंग में नजर नहीं आये हैं, जबकि सुनील नारेन भी बल्ले और गेंद से जूझते नजर आये हैं। कैरेबियाई ऑल राउंडर कार्लोस ब्रेथवेट यह समस्या सुलझा सकते हैं।

धाकड़ ऑल राउंडर कार्लोस ब्रेथवेट का टी20 में रिकॉर्ड अच्छा नहीं है, मगर उनकी प्रतिभा और शैली पर भरोसा किया जा सकता है। उनकी उपस्थिति में कोलकाता के बल्लेबाज़ी क्रम को फायदा पहुँचेगा। वह बड़े शॉट लगाने के लिए विश्व भर में जाने जाते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं.

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now