Create
Notifications

अंपायरों के सजग न रहने से होने वाली गलतियां क्रिकेट के लिए अच्छी नहीं हैं: रोहित शर्मा

Enter caption
Richa Gupta
visit

मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच आईपीएल का सातवां मैच बेहद रोमांचक हुआ। मुकाबले में मुंबई इंडियंस ने छह रन से जीत हासिल करके टूर्नामेंट में अपना खाता खोला। आरसीबी को सीएसके के बाद दूसरे मुकाबले में भी हार का मुंह देखना पड़ा। इस मैच को लेकर विवाद इसलिए खड़ा हो गया कि मुकाबले की आखिरी गेंद तेज गेंदबाज मलिंगा ने नो बॉल फेंकी थी, जिसे अंपायर एस. रवि नहीं देख पाए थे। टीवी पर रीप्ले देखने के बाद जब आरसीबी कप्तान कोहली को नो बॉल के बारे में पता चला तो उन्होंने अंपायरों को खूब खरी खोटी सुनाई। मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने भी इस बारे में अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की। उन्होंने कहा कि इस तरह की गलतियां क्रिकेट के लिए अच्छी नहीं हैं।

रोहित शर्मा ने कहा कि मैदान से बाहर आने के बाद मुझे इसके बारे में पता चला। किसी ने मुझसे कहा कि वो नो-बॉल थी। इस तरह की गलतियां क्रिकेट के लिए बिल्कुल भी अच्छी नहीं हैं। इसमें किया भी क्या जा सकता है। उससे एक ओवर पहले जसप्रीत बुमराह की एक गेंद को वाइड करार दे दिया गया, जबकि वो वाइड नहीं थी। यह मैच के नतीजे बदलने वाले मौके होते हैं। अंपायरों को देखना होगा कि क्या हो रहा है। मैच खत्म होने के बाद खिलाड़ी कुछ नहीं कर सकते थे। वह सिर्फ जाकर हाथ ही मिला सकते थे क्योंकि वो मैच की आखिरी गेंद थी। यह देखना दुखद है। मुझे उम्मीद है कि वो अपनी गलती सुधारेंगे जैसे हम सुधारते हैं।

Enter caption

उधर, कोहली ने मैच के बाद कहा कि हम आईपीएल के स्तर पर खेल रहे हैं। यह कोई क्लब क्रिकेट नहीं है। ऐसे मैचों में अंपायरों को आंखें खुली रखनी चाहिए। आखिरी गेंद पर अंपायर का फैसला निराशाजनक था। नजदीकी मुकाबलों में अगर ऐसा होगा तो मैं नहीं जानता आगे क्या होगा। अंपायर को अपनी आंखें खोलकर रखनी चाहिए थी।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं


Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now