Create

IPL 2021 - गौतम गंभीर ने मध्य के ओवरों में धीमी बल्लेबाजी को लेकर विराट कोहली का किया बचाव 

विराट कोहली बल्लेबाजी के दौरान
विराट कोहली बल्लेबाजी के दौरान
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) 2021 के इस सीजन में विराट कोहली (Virat Kohli) की बल्लेबाजी में बदलाव देखने को मिला है। विराट ने पावरप्ले में तेज शुरुआत की लेकिन इसके बाद वह बीच के ओवरों में काफी धीमी बल्लेबाजी करते हुए दिखे और इसी वजह से कई लोगों ने उनके स्ट्राइक रेट को लेकर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। हालांकि पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने स्ट्राइक रेट को 'ओवररेटेड' बताते हुए विराट कोहली का बचाव किया है। इस पूरे सीजन विराट मध्य के ओवरों में काफी धीमी बल्लेबाजी करते हुए नजर आये हैं और इसी वजह से उनकी आलोचना भी हुयी।

आईपीएल 2021 में विराट ने 13 मैचों में 121.47 के स्ट्राइक रेट से 362 रन बनाये हैं। हालांकि इस दौरान पावरप्ले में उनका स्ट्राइक रेट 140 से भी ऊपर का रहा है लेकिन बीच के ओवरों में यह सौ से भी कम हो गया।

ईएसपीएन क्रिकइंफो पर गौतम गंभीर ने कहा कि विराट कोहली ने अपने इसी खेल की मदद से ढेर सारे रन बनाये हैं और उनसे ग्लेन मैक्सवेल की तरह आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी की उम्मीद करना गलत है। गंभीर ने कहा,

"स्ट्राइक-रेट बहुत अधिक ओवररेटेड हैं। आप कोहली से 600 रन के सीजन की उम्मीद कर सकते हैं, लेकिन आप मैक्सवेल से इसकी उम्मीद नहीं कर सकते हैं, और आप कभी भी मैक्सवेल को 120-125 की [स्ट्राइक रेट] से तथा विराट कोहली को 160 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। इसलिए दोनों अलग हैं और इन सभी का कॉम्बिनेशन ही टीम को सफल बनाता है।

विराट कोहली एक विश्वस्तरीय खिलाड़ी हैं - गौतम गंभीर

गौतम गंभीर ने विराट कोहली को एक विश्वस्तरीय बल्लेबाज बताया और कहा कि उन्हें अपना खेल अच्छे से मालूम हैं तथा अपना स्वाभाविक खेल खेलकर टीम के लिए योगदान देते हैं। उन्होंने आगे कहा,

"(यह) विकेट पर निर्भर करता है और मेरा मानना है कि इसका कारण ग्लेन मैक्सवेल और एबी डीविलियर्स हैं। उन्हें लगता है कि वे दो लोग तेजी रन बना सकते हैं और वह दूसरे हाफ में एक एंकर की भूमिका निभा सकते हैं, जो उन्होंने अभी तक शानदार तरीके से निभाई है। शायद यही वजह है कि वह ओपनिंग कर पसंद करते हैं, पहले छह ओवरों में गति प्राप्त करें और फिर बल्लेबाजी जारी रखें जबकि दूसरे छोर से कोई और तेजी से रन बना सकता है। यह उनका स्वाभाविक खेल है, लेकिन अगर वह इससे बाहर हो जाते हैं, तो उनके लिए बहुत अधिक रन बनाना मुश्किल होगा क्योंकि उनके पास एबी डिविलियर्स या ग्लेन मैक्सवेल जैसी शक्ति या कौशल नहीं है। लेकिन देखिए, आपको अपनी प्लेइंग XI में हर तरह के खिलाड़ियों की जरूरत होती है और विराट कोहली विश्वस्तरीय खिलाड़ी हैं, इसमें कोई शक नहीं है।

विराट कोहली ने इस सीजन आरसीबी के लिए ओपनर के तौर पर अच्छा काम किया है और उन्होंने पावरप्ले में टीम को तेज शुरुआत दिलाई है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...