आईपीएल एकादश जिसमें सभी 11 चैंपियंस टीम के एक-एक खिलाड़ी शामिल हैं  

Enter caption

साल 2008 में आईपीएल की शुरुआत से पहले कई क्रिकेट फ़ैंस ये सोच रहे थे कि इस टी-20 लीग का भारतीय क्रिकेट पर क्या असर पड़ेगा। इस लीग से न सिर्फ़ भारतीय क्रिकेट को आर्थिक फ़ायदा हुआ बल्कि इससे नए हुनरमंद खिलाड़ियों को भी खोजने में मदद मिली। पिछले कुछ सालों में आईपीएल के साथ कई विवाद भी जुड़े हैं, फिर भी इससे क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ाने में मदद मिली है।

इस बात में कोई शक नहीं कि खिलाड़ियों ने अपने खेल से इस लीग को नई ऊंचाइयां दी है। पिछले 11 सालों से 6 अलग-अलग टीम ने इस ख़िताब पर कब्ज़ा जमाया है। चेन्नई सुपरकिंग्स, मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइटराइडर्स ने एक से ज़्यादा बार ये ख़िताब जीता है। वहीं राजस्थान रॉयल्स, डेक्कन चार्जर्स और सनराइज़र्स हैदराबाद एक-एक बार चैंपियन बने हैं।

हम यहां एक आईपीएल एकादश टीम तैयार कर रहे हैं जिसमें इन 11 सीज़न के इन्हीं चैंपियन टीम के एक-एक खिलाड़ी शामिल हैं।


#1 एडम गिलक्रिस्ट – डेक्कन चार्जर्स (2009)

Enter caption

आईपीएल के दूसरे सीज़न में डेक्कन चार्जर्स टीम की कप्तानी एडम गिलक्रिस्ट के हाथों में थी। पहले सीज़न में उनकी टीम का प्रदर्शन बुरा रहा था, लेकिन गिली ने दूसरे सीज़न में इसका असर अपनी टीम पर नहीं पड़ने दिया। इस विकेटकीपर-बल्लेबाज़ ने पूरे सीज़न में 152.30 की स्ट्राइक रेट से 495 रन बनाए। सेमीफ़ाइनल में डेक्कन टीम ने मज़बूत दिल्ली डेयरडेविल्स को हराया। इसके बाद फ़ाइनल में गिली टीम का सामना आरसीबी से हुआ। इस मैच में बैंगलौर टीम की हार हुई और गिली के हाथों में आईपीएल ट्रॉफ़ी आई।


#2 डेविड वॉर्नर- सनराइज़र्स हैदराबाद (2016)

Enter caption

जब डेविड वॉर्नर दिल्ली छोड़ कर सनराइज़र्स हैदराबाद में शामिल हुए तब से हैदराबाद टीम की किस्मत ही बदल गई। वॉर्नर कई मैच अकेले अपने दम पर जिताने की ताक़त रखते थे। साल 2016 में उनके प्रदर्शन की बदौलत सनराइज़र्स ने आईपीएल ख़िताब जीता था। साल 2016 के आईपीएल सीज़न में उन्होंने 60.57 की औसत और 151.42 की स्ट्राइक रेट से 848 रन बनाए थे। हैदराबद टीम ने फ़ाइनल में आरसीबी को हराया था जिसमें वॉर्नर ने 69 रन की पारी खेली थी।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#3 शेन वॉटसन – राजस्थान रॉयल्स (2008)

E,,,,,

आईपीएल के पहले सीज़न में राजस्थान टीम ने ये साबित किया था कि ये खेल हुनरमंद खिलाड़ियों का है। इसमें एक बेहतर टीम का निर्माण ही जीत की गारंटी दे सकती है। शेन वॉटसन ने राजस्थान टीम को ऊंचाइयों पर पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने 2008 के आईपीएल सीज़न में 472 रन बनाए और 17 विकेट हासिल किए थे। अब तक उन्होंने आईपीएल के 10 सीज़न के 117 मैच में 3177 रन बनाए और 92 विकेट लिए हैं।


#4 सुरेश रैना – चेन्नई सुपरकिंग्स (2010, 2011, 2018)

Enter caption

सुरेश रैना आईपीएल इतिहास के सबसे कंसिस्टेंट खिलाड़ियों में से एक हैं। उन्होंने हर सीज़न में 400 के आसपास या इससे ज़्यादा रन बनाए हैं। इस वजह से वो इस टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने आईपीएल करियर में 4985 रन बनाए हैं। अपनी आईपीएल ट्रॉफ़ी जीतने वाले साल 2010, 2011 और 2018 में उन्होंने क्रमश: 520, 438 और 445 रन बनाए हैं। अगर चेन्नई टीम ने इतनी कामयाबी हासिल की है तो इसमें रैना का बड़ा योगदान है।


#5 रोहित शर्मा – मुंबई इंडियंस (2013, 2015, 2017)

Enter caption

रोहित शर्मा उन चुनिंदा खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्होंने आईपीएल ख़िताब 4 बार जीता है। इसमें से 3 दफ़ा उन्होंने अपनी कप्तानी में टीम को ये ट्रॉफ़ी दिलाई है। मुंबई इंडियंस हमेशा से सबसे अमीर टीम में से एक रही है, लेकिन शुरुआती कुछ सीज़न में वो चैंपियन बनने में नाकाम रही थी। जब से रोहित शर्मा को मुंबई की ज़िम्मेदारी दी गई है तब से 3 बार ये टीम चैंपियन बनी है। रोहित ने 11 सीज़न में कुल 4493 रन बनाए हैं।

#6 महेंद्र सिंह धोनी – चेन्नई सुपरकिंग्स (2010, 2011, 2018)

Enter caption

पिछले 11 सालों में चेन्नई सुपरकिंग्स और महेंद्र सिंह धोनी जैसे दो जिस्म एक जान बन चुके हैं। दोनों के बीच लगाव इतना गहरा है कि ये टीम धोनी के बिना अधूरी लगती है। धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल की सबसे कामयाब टीम में से एक बन चुकी है। धोनी ने 3 बार चेन्नई को आईपीएल का चैंपियन बनाया है। इस टूर्नामेंट में धोनी ने 4000 से ज़्यादा रन बनाए हैं। इसके अलावा 87 कैच और 33 स्टंपिंग अपने नाम की है। उन्होंने आईपीएल में 186 छक्के भी लगाए हैं।


#7 आंद्रे रसेल – कोलकाता नाइटराइडर्स (2012, 2014)

Enter caption

आंद्रे रसेल में वो सारी ख़ूबियां हैं जो उन्हें क्रिकेट के सबसे छोटे फ़ॉर्मेट का बेहतरीन खिलाड़ी हैं। उनके आंकड़े ही उनकी ताक़त को बयां करते हैं। आईपीएल करियर में उनका स्ट्राइक रेट 177.29 है और वो एकलौते एक खिलाड़ी हैं जिनका स्ट्राइक रेट 170 से ऊपर है। साल 2018 के आईपीएल सीज़न में केकेआर की तरफ़ से खेलते हुए उन्होंने 36 गेंदों में 11 छक्कों की मदद से 88 रन बनाए थे। वो इस समय केकेआर टीम के बेहद भरोसमंद खिलाड़ी हैं।


#8 ड्वेन ब्रावो – चेन्नई सुपरकिंग्स (2010, 2011, 2018)

Enter caption

ड्वेन ब्रावो चेन्नई सुपरकिंग्स के धरोहर हैं, वो एक शानदार ऑलराउंडर हैं। कुल 5 सीज़न में वो चेन्नई टीम का हिस्सा रहे हैं और इस दौरान उन्होंने 93 विकेट लिए हैं। वो चेन्नई की तरफ़ से सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने साल 2013 और 2014 में क्रमश: 32 और 26 विकेट हासिल किए थे, जिसके लिए उन्हें दोनों बार पर्पल कैप मिला था। वो कई मौकों पर टीम के लिए ज़रूरी रन भी बनाते हैं।

#9 सुनील नारेन – कोलकाता नाइटराडर्स (2012, 2014)

Enter caption

सुनील नारेन टी-20 के प्रभावी स्पिन गेंदबाज़ हैं। वो आईपीएल अतिहास के 7वें सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने इस टूर्नामेंट में अब तक 112 विकेट हासिल किए हैं। उनमें रन को रोकने की भी क्षमता दिखाई देती है। इसलिए आईपीएल में उनकी इकॉनमी रेट 6.53 है। अब वो अच्छी बल्लेबाज़ी भी करते हुए देखे जा सकते हैं जो कि केकेआर टीम के लिए एक शुभ संकेत है।


#10 लसिथ मलिंगा – मुंबई इंडियंस (2013, 2015, 2017)

Enter caption

लसिथ मलिंगा के बिना आईपीएल एकादश की कल्पना ही नहीं की जा सकती है। साल 2009 में वो मुंबई इंडियंस टीम से जुड़े थे, और उसी साल उन्होंने 18 विकेट हासिल किए थे। आईपीएल करियर में उन्होंने अब तक 154 विकेट हासिल कर लिए हैं। साल 2018 में वो किसी भी टीम में नहीं ख़रीदे गए थे, लेकिन इस साल उनकी आईपीएल में वापसी हो रही है। वो एक बार फिर मुंबई इंडियंस की जर्सी में नज़र आएंगे।


#11 जसप्रीत बुमराह – मुंबई इंडियंस (2013, 2015, 2017)

Enter caption

इस बात में कोई शक नई कि जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक हैं। जब से बुमराह मुंबई टीम का हिस्सा बने हैं ये टीम 3 बार आईपीएल ख़िताब जीत चुकी है। साल 2017 के आईपीएल सीज़न में बुमराह ने 7.35 की इकॉनमी रेट से 20 विकेट हासिल किए थे। मुंबई को कामयाबी दिलाने में बुमराह का बहुत योगदान रहा है। वो आजकल टीम इंडिया के लिए खेलते हुए विपक्षी टीम के छक्के छुड़ा रहे हैं।

लेखक- विश्वनाथ आरटी

अनुवादक- शारिक़ुल होदा

Quick Links

App download animated image Get the free App now