Create

इंग्‍लैंड की दूसरे टेस्‍ट में शानदार जीत के बाद जेम्‍स एंडरसन ने अपने संन्‍यास की खबर पर दी बड़ी अपडेट

England v South Africa - Second LV= Insurance Test Match: Day Three
जेम्‍स एंडरसन ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में कुल 6 विकेट लिए

इंग्‍लैंड (England Cricket team) के अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्‍स एंडरसन (James Anderson) ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa Cricket team) के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में शानदार प्रदर्शन करते हुए कुछ 6 विकेट लिए। 40 साल के तेज गेंदबाज ने पहली और दूसरी पारी में तीन-तीन विकेट लिए। बेन स्‍टोक्‍स के नेतृत्‍व वाली इंग्‍लैंड ने दूसरे टेस्‍ट के तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीका को एक पारी और 85 रन से मात दी।

जेम्‍स एंडरसन ने इस बीच अपने संन्‍यास की खबरों को खारिज किया और बेन स्‍टोक्‍स व ब्रेंडन मैकलम की तारीफ करते हुए कहा कि ग्रुप में जरूरी बदलाव वाली मानसिकता लेकर आए।

मैच के बाद जेम्‍स एंडरसन ने बताया कि तीसरे दिन गेंद बहुत अच्‍छी तरह पड़ रही थी और वो इस भूमिका को जारी रखना चाहते हैं। एंडरसन ने ग्रुप का हिस्‍सा बनने पर खुशी जाहिर की।

द डेली मेल के हवाले से जेम्‍स एंडरसन ने कहा, 'मैं कल रिटायर हो सकता हूं और खुश रहूंगा। मैं खेलते रहना चाहता हूं। मुझे महसूस हुआ कि मैं अच्‍छी गेंदबाजी कर रहा हूं। आज तो गेंद बहुत अच्‍छी तरह निकली और मैं बस ऐसा करते रहना चाहिए। मैं इस ग्रुप का हिस्‍सा बनकर खुश हूं और बेन व ब्रेंडन बहुत जरूरत वाली मानसिकता में बदलाव लेकर आए। मैं बस इस ग्रुप का हिस्‍सा बनकर खुश हूं।'

ओल्‍ड ट्रैफर्ड में खेले गए दूसरे टेस्‍ट के तीसरे दिन जेम्‍स एंडरनस इंटरनेशनल क्रिकेट में पहले तेज गेंदबाज बन गए हैं, जिन्‍होंने 950 अंतरराष्‍ट्रीय विकेट पूरे किए। जेम्‍स एंडरसन ने ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्‍लेन मैक्‍ग्रा (949) का रिकॉर्ड तोड़ा। सिर्फ अनिल कुंबले (956), शेन वॉर्न (1001) और मुथैया मुरलीधरन (1347) ने एंडरसन से ज्‍यादा अंतरराष्‍ट्रीय विकेट लिए हैं।

इंग्‍लैंड के कप्‍तान बेन स्‍टोक्‍स ने जेम्‍स एंडरसन की तारीफ की और कहा कि वो जल्‍द ही इस खिलाड़ी को संन्‍यास लेते हुए नहीं देख रहे हैं।

स्‍टोक्‍स ने कहा, 'मैं इस मैच के शुरू होने से पहले भी कह चुका हूं कि मुझे ईमानदारी से नहीं पता कि एंडरसन कब रुकना चाहेंगे। आप देख सकते हैं कि वो हर पल का मजा उठा रहे हैं। वो 40 साल के हैं, लेकिन क्‍या वो उस उम्र वाले की तरह बर्ताव करते हैं। जिस ऊर्जा के साथ आकर वो गेंदबाजी करते हैं, वो अतुल्‍नीय है। वो खेल और विशेषकर तेज गेंदबाजों के शानदार दूत हैं।'

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment