भारतीय टीम के खिलाफ डे-नाईट टेस्ट खेलना चाहते हैं मिचेल स्टार्क

मिचेल स्टार्क
मिचेल स्टार्क

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क भारतीय टीम के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट के लिए उत्सुक नजर आ रहे हैं। उन्होंने कहा है कि भारतीय टीम के खिलाफ टेस्ट में पिंक बॉल टेस्ट शानदार चीज होगी। मिचेल स्टार्क ने यह भी कहा कि भारतीय टीम अपने घर में एक बार पिंक बॉल टेस्ट मैच खेल चुकी है इसलिए वे इससे अनजान नहीं होंगे। भारतीय टीम को इस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया दौरा करना है।

एक वीडियो चैट में संवाददाताओं से बातचीत में स्टार्क ने कहा

"मुझे लगता है कि भारत के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट निश्चित रूप से शानदार चीज है। फैन्स इससे प्यार करते हैं और यह प्रतियोगिता में अलग पहलू लाती है। जाहिर है कि भारत ने अपने घर में एक पिंक बॉल टेस्ट खेला है इसलिए वे इससे अनजान नहीं होंगे। फायदे के रूप में देखें तो हमारा रिकॉर्ड घर में पिंक बॉल के साथ काफी अच्छा है। हम अगर इंडिया में जाते हैं और उन्हें फायदा मिलता है तो कोई अलग बात नहीं है।"

यह भी पढ़ें: 3 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें वनडे क्रिकेट में कभी बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला

भारतीय टीम टेस्ट के लिए जाएगी ऑस्ट्रेलिया

विराट कोहली
विराट कोहली

इस साल एक अंत में यानि नवम्बर के अंतिम सप्ताह में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चार टेस्ट मैच खेलने के लिए जाना है। हालांकि यह दौरा चार मैचों के लिए प्रस्तावित है लेकिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इसे पांच में तब्दील करने की इच्छा जताई थी। बीसीसीआई की तरफ से इसको लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम का डे-नाईट टेस्ट मैच में रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है। उन्होंने अब तक खेले गए सात मैचों में सभी जीते हैं। सौ फीसदी रिकॉर्ड होने के कारण ही स्टार्क ने पिंक बॉल टेस्ट में फायदे की बात कही है। स्टार्क ने यह भी कहा कि क्रिकेट वापस शुरू होने पर गेंद चमकाने के लिए सलाइवा को बैन करने की सिफारिश पर भी चिंतित हूँ।

मिचेल स्टार्क ने कहा कि गेंदबाजों को पिच से मदद लेने के लिए सलाइवा से गेंद चमकानी होती है। स्विंग के बिना स्पर्धा बोरिंग हो जाती है जैसा कि हमने कुछ समय ऑस्ट्रेलिया में ऐसा देखा है। गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया में डे-नाईट टेस्ट के बारे में फिलहाल कोई निर्णय नहीं हुआ है

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
App download animated image Get the free App now