Create
Notifications

न्यूजीलैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट मैच में इंग्लैंड के रन चेज को लेकर पूर्व कप्तान ने उठाए सवाल

मैच खत्म होने के बाद वापस लौटते इंग्लैंड के बल्लेबाज
मैच खत्म होने के बाद वापस लौटते इंग्लैंड के बल्लेबाज
SENIOR ANALYST

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने लॉर्ड्स टेस्ट मैच में इंग्लैंड टीम के परफॉर्मेंस को लेकर सवाल उठाए हैं। इंग्लैंड ने खेल के आखिरी दिन जिस तरह से टारगेट का पीछा किया उससे नासिर हुसैन खुश नहीं हैं। उनका मानना है कि मेजबान टीम ने जीत हासिल करने की बिल्कुल भी कोशिश नहीं की और ये सही चीज नहीं है।

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच लॉर्ड्स में पहला टेस्ट मैच ड्रॉ पर समाप्त हुआ। न्यूजीलैंड ने इंग्लिश टीम को 273 रनों का लक्ष्य दिया लेकिन इंग्लैंड ने मैच ड्रॉ करा लिया। इंग्लैंड ने 70 ओवर खेलकर 3 विकेट पर 170 रन बनाए और मैच ड्रॉ हो गया। इंग्लिश टीम ने बिल्कुल भी मैच जीतने की कोशिश नहीं की और सिर्फ मैच को ड्रॉ कराने पर ध्यान दिया।

ये भी पढ़ें: ब्रेट ली ने बताया कि उनके समय के दो बेहतरीन टेस्ट बल्लेबाज कौन से थे जो उनके फेवरिट थे

इंग्लैंड ने टारगेट हासिल करने की कोशिश नहीं की - नासिर हुसैन

नासिर हुसैन के मुताबिक इंग्लैंड को कीवी टीम से सीख लेकर कोशिश करनी चाहिए थी। उन्होंने डेली मेल में लिखे अपने कॉलम में कहा,

खेल के आखिरी दिन इंग्लैंड ने टारगेट का पीछा करने की बिल्कुल भी कोशिश नहीं की और ये थोड़ा अजीब था। केन विलियमसन ने एकदम सही समय पर डिक्लेयर किया था। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल से पहले वो थोड़ी बहुत ही बॉलिंग प्रैक्टिस पर ध्यान दे सकते थे। इसके बजाय उन्होंने अपनी टीम को जीत दिलानी चाही। मेरे हिसाब से चार से पांच विकेट गिरने तक इंग्लैंड की टीम अटैक कर सकती थी। उसके बाद अगर उन्हें लगता कि वो मुकाबला हार सकते हैं तब वो ड्रॉ के लिए जा सकते थे।

नासिर हुसैन ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों के एप्रोच पर सवाल उठाए और कहा कि इसी वजह से टीम को भारत के खिलाफ भी टेस्ट सीरीज में शिकस्त का सामना करना पड़ा था।

ये भी पढ़ें: "वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में विराट कोहली और केन विलियमसन की कप्तानी का टेस्ट होगा"

Edited by सावन गुप्ता
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now